Home पोल खोल केजरीवाल की जीत से एजेंडा पत्रकारों की खिली बाछें, देखिए कैसे किया...

केजरीवाल की जीत से एजेंडा पत्रकारों की खिली बाछें, देखिए कैसे किया ‘भाजपा’ का विरोध और ‘आप’ की तारीफ

911
SHARE

दिल्ली विधानसभा चुनाव में केजरीवाल एंड पार्टी की जीत ने एक बार फिर एजेंडा पत्रकारों की सच्चाई सबके सामने ला दी है। कहा जाता है कि पत्रकारों को निष्पक्ष होना चाहिए, लेकिन पत्रकारों की एक बड़ी जमात है, जो पत्रकारिता की आड़ में चलाते हैं। इन एजेंडा पत्रकारों को सिर्फ और सिर्फ एक ही मकसद है कि पीएम मोदी और भाजपा का टार्गेट करो और दूसरे दलों के नेताओं की तारीफ करो। दिल्ली चुनाव परिणाम के बाद भी इन एजेंडा पत्रकारों का यही ट्रेंड देखने को मिला है। आपको दिखाते हैं कुछ एजेंडा पत्रकारों के ट्वीट्स, जिनसे साफ जाहिर हो रहा है कि दिल्ली में भाजपा की हार और केजरीवाल की जीत पर उनकी खुशी छिपाए नहीं छिप रही है।

एबीपी न्यूज के वेस्ट इंडिया हेड जीतेंद्र दीक्षित के ट्वीट से उनका एजेंडा और बीजेपी से नफरत साफ नजर आ रही है-

आज तक के पत्रकार नवीन कुमार की भाजपा और मोदी जी से नफरत तो जगजाहिर है। दिल्ली चुनाव के बाद भी वो अपनी इस नफरत तो छिपा नहीं पाए और ऐसे सभी अखबारों को ही ट्वीट कर दिया, जिन्होंने भाजपा के खिलाफ छापा था।-

इसी प्रकार वरिष्ठ पत्रकार हरिंदर बवेजा ने भी मौका देखते ही चौका जड़ दिया और भाजपा को नफरत फैलाने वाली पार्टी करार दिया।

एजेंडा पत्रकार और अल्ट न्यूज के फाउंडर प्रतीक सिन्हा की केजरीवाल की जीत पर अपनी खुशी छिपा नहीं पाए।

प्रतीक सिन्हा, अल्ट न्यूज फाउंडर

अभी गुमनामी की जिंदगी जी रहे एजेंडा पत्रकार अजीत अंजुम को कुछ नहीं मिला तो भाजपा की खिल्ली उड़ाने वाले पत्रकारों की ही तारीफ करने लगे।

दि प्रिंट के ऑनर वरिष्ठ पत्रकार शेखर गुप्ता ने घुमाफिरा कर आम आदमी पार्टी के पक्ष में खूब बैटिंग की।

एबीपी न्यूज के आदेश रावल का ट्वीट देखिए, साफ जाहिर होता है कि वो आम आदमी पार्टी की जीत से कितने खुश हैं।

एजेंडा पत्रकार रोहिणी सिंह के तो कहने की क्या। उन्होंने तो आप के पक्ष में ट्वीट्स की झड़ी लगा दी।

 

इकोनॉमिक टाइम्स की पत्रकार वसुधा वेणुगोपाल भी भाजपा का मजाक उड़ाने से नहीं चूकीं, देखिए-

दि वायर की सीनियर एडिटर आरफा खानम ने अपने ट्वीट्स से दिल्ली चुनाव को देश के इतिहास का सबसे हिंसक और सांप्रदायिक चुनाव करार दिया और इसका ठीकरा फोड़ा भाजपा के सिर पर।

एजेंडा पत्रकार अभिसार शर्मा की तो मानो मन की मुराद पूरी हो गई। उन्होंने न सिर्फ ट्वीट किए बल्कि अपने यूट्यूब चैनल पर केजरीवाल की चमचई में एक प्रोग्राम ही बना डाला।

एजेंडा पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी ने भाजपा की हार को नफरत की हार बता दिया।

एजेंडा पत्रकार विनोद कापड़ी ने उन चैनलों और पत्रकारों को निशाने पर ले लिया जो कुछ निष्पक्षता के साथ चुनाव परिणाम का विश्लेषण कर रहे थे।

इंडिया टुडे ग्रप के पत्रकार शिव अरूर की खुशी भी आप के उम्मीदवारों की जीत पर जाहिर होती दिखी।

वहीं एबीपी न्यूज की एंकर प्रतिमा मिश्रा तो केजरीवाल की जीत की खुशी में इतनी पागल हो गईं कि उन्होंने केजरीवाल का रूप बनाकर आए एक बच्चे के साथ अपनी फोटो की ट्वीट कर दी।

कुछ ऐसा ही हाथ था एबीपी न्यूज चैनल की पत्रकार कुमकुम बिनवाल का, जिन्होंने केजरीवाल के पक्ष में धड़ाधड़ ट्वीट करना शुरू कर दिए।

 

Leave a Reply