Home समाचार केजरीवाल की तानाशाही: पंजाब पुलिस से कराया बीजेपी नेता तेजिंदर सिंह बग्गा...

केजरीवाल की तानाशाही: पंजाब पुलिस से कराया बीजेपी नेता तेजिंदर सिंह बग्गा को अरेस्ट, हो रही है थू-थू

364
SHARE

आम आदमी पार्टी की सरकार के नेतृत्व में पंजाब पुलिस ने दिल्ली बीजेपी के नेता तेजिंदर सिंह बग्गा को गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली के विवादास्पद सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ टिप्पणी करने पर पंजाब साइबर सेल की टीम ने शुक्रवार सुबह यह कार्रवाई की। हैरानी की बात है कि दिल्ली के सीएम केजरीवाल के खिलाफ मामले पर पंजाब के मोहाली साइबर थाने में केस दर्ज कराई गई। इधर तेजिंदर के पिता ने पंजाब पुलिस के खिलाफ दिल्ली के जनकपुरी थाने में किडनैपिंग का केस दर्ज कराया है। इसके बाद दिल्ली पुलिस की सूचना पर पंजाब पुलिस की गाड़ी को हरियाणा पुलिस ने रोक लिया। दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा कि बीजेपी के युवा नेता के घर पंजाब पुलिस के 50-60 जवान भेज कर उन्हें जबरन उठवाना और उनके बुजुर्ग पिताजी के साथ मारपीट करवाना अरविंद केजरीवाल की तानाशाही मानसिकता का प्रमाण है।

बग्गा की गिरफ्तारी पर कवि कुमार विश्वास ने केजरीवाल पर तंज कस पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को चेताते हुए कहा है कि प्रिय छोटे भाई भगवंत मान, खुद्दार पंजाब ने 300 साल में दिल्ली के किसी असुरक्षित तानाशाह को अपनी ताकत से नहीं खेलने दिया। पंजाब ने तुम्हारी पगड़ी को ताज सौंपा है। पंजाब के लोगों के टैक्स के पैसों और उनकी पुलिस का अपमान मत करो। पगड़ी संभाल जट्‌टा।

इतना ही नहीं बग्गा की गिरफ्तारी का विरोध करने पर कपिल मिश्रा को आम आदमी पार्टी के एक नेता ने धमकी देते हुए कहा कि मिश्रा जी आप भी बहुत जहर उगलते रहते हो, आप भी जल्द ही सुधर जाओ, नहीं तो अगली बारी आप की भी हो सकती है। इसके जवाब में कपिल मिश्रा ने लिखा कि AAP की पुलिस, जेल, तानाशाही हमें ना चुप करा सकती, ना डरा सकती। सुबह से AAP के कार्यकर्ताओं की ऐसी धमकियां साफ करती है कि पंजाब पुलिस का इस्तेमाल अब केजरीवाल के विरोधियों को चुप कराने में किया जाएगा।

इस पर कांग्रेस नेता अल्का लांबा ने कहा है कि आप नेताओं पर सत्ता का नशा सिर चढ़ कर बोल रहा है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी पर अपना विरोध जता रहे हैं और बग्गा के प्रति अपना समर्थन भी जता रहे हैं। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी की किरकिरी हो रही है। लोगों का कहना है कि जिस आधार व जिस तरह से दिल्ली में पंजाब पुलिस ने तेजिंदर बग्गा की गिरफ़्तारी की है, उसे नज़ीर माना जाए तो अरविंद केजरीवाल समेत आम आदमी पार्टी के ज़्यादातर नेता सलाख़ों के पीछे होने चाहिये थे। ताक़त का ऐसा निर्लज्ज दुरुपयोग दर्शाता है कि इस नई सियासत की मंज़िल क्या है? देखिए यूजर्स किस तरह से केजरीवाल को लताड़ लगा रहे हैं।

Leave a Reply