Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 25 दिसंबर

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 25 दिसंबर

196
SHARE

25 दिसंबर 2014

यूपी के बनारस में पंडित मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर श्रद्धाजंलि अर्पित की, अस्सी घाट पर स्वच्छता अभियान में शामिल हुए, Diesel Locomotive Works के Expansion कार्यक्रम में हिस्सा लिया। New high horsepower diesel locomotive को फ्लैग ऑफ किया, वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए असंगठित क्षेत्र के लोगों से बात की। 

25 दिसंबर 2015

मास्को में आयोजित इंडिया-रूस सीईओ फोरम में हिस्सा लिया। रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतीन के साथ कई समझौते पर हस्ताक्षर किए, Friends of India’ कार्यक्रम में उद्बोधन, अफगानिस्तान के संसद में उद्बोधन,  अफगानिस्तान के बाद पाकिस्तान पहुंचे,पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को जन्मदिन की बधाई देने उनके घर पहुंचे। 

25 दिसंबर 2016

आकाशवाणी के जरिए देशवासियों के साथ की मन की बात। पूर्व प्रधानमंत्री को जन्मदिन की बधाई दी। 

25 दिसंबर 2017

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजयेपी को जन्मदिन की बधाई दी, बोटैनिकल गार्डन-कालकाजी मंदिर मेट्रो रेल लाइन का लोकापर्ण किया और जनसभा में उद्बोधन। 

25 दिसंबर 2018

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए। असम के डिब्रुगढ़ में इंडिया के सबसे लंबा Bogibeel Bridge राष्ट्र को समर्पित किया। जनसभा में उद्बोधन।

25 दिसंबर 2019

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए, नई दिल्ली में अटल भूजल योजना का शुभारंभ के मौके पर उद्बोधन, लखनऊ में अटल बिहारी वाजपेयी की कांसे की प्रतिमा का अनावरण किया,  अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय का भी शिलान्यास किया। 

25 दिसंबर 2020

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किसानों को संबोधित किया और पीएम किसान सम्मान निधि के तहत किसानों को अगली किश्त जारी की, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

.25 दिसंबर 2021

सदैव स्थल पर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी जी की जयंती पर श्रद्धासुमन अर्पित किए, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात के गुरुद्वारा लखपत साहिब में गुरुपर्व समारोह को संबोधित किया।

Leave a Reply