Home समाचार देश में अब तक दी गई 5.31 करोड़ से ज्यादा कोरोना टीके...

देश में अब तक दी गई 5.31 करोड़ से ज्यादा कोरोना टीके की खुराक, महाराष्ट्र में सामने आए 31855 नए केस

702
SHARE

कोरोना के खिलाफ लड़ाई में देश ने एक अहम उपलब्धि हासिल कर ली है। देश में लोगों को दिए गए कोरोना वैक्सीन डोज की कुल संख्या 5 करोड़ से अधिक 5,31,45,709 हो गई हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि सरकार ने 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को पहली अप्रैल से कोरोना टीका लगाने की अनुमति दे दी है। इसके लिए गंभीर बीमारी की शर्त हटा दी गई है। 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए पंजीकरण भी पहली अप्रैल से शुरू होगा।

इसके साथ ही देश में कोरोना के नए मामलों का आना जारी है। पांच राज्यों महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और गुजरात में कोरोना के दैनिक मामलों में बढ़ोत्तरी दर्ज की जा रही है। पिछले 24 घंटों में कोरोना के 53,476 नए मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र में 31855, पंजाब में 2613, केरल में 2456, कर्नाटक में 2298 और छत्तीसगढ़ में 2106 नए कोरोना के केस सामने आए हैं।

देश में पिछले 24 घंटों में 251 मरीजों की मौत हुई है। महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 95 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ पंजाब में 39, छत्तीसगढ़ में 29, तमिलनाडु और कर्नाटक में 12-12 लोगों की मौत हुई है। कोरोना से अब तक 1,60,692 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके साथ ही देश में अब तक कोरोना से कुल 1,12,05,160 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं और राष्ट्रीय रिकवरी दर 95.49 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों में 23,907 लोग कोरोना से ठीक हुए हैं।

गृह मंत्रालय ने कोविड पर प्रभावी नियंत्रण के लिए जारी किए दिशा-निर्देश
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कोरोना महामारी के प्रभावी नियंत्रण के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। यह पहली अप्रैल से 30 अप्रैल तक लागू रहेंगे। दिशा-निर्देशों में मुख्‍य रूप से कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने में महत्‍वपूर्ण उपलब्धि को और मजबूत करने पर ध्‍यान दिया गया है। देश के कुछ हिस्सों में कोरोना मरीजों की संख्‍या फिर से बढ़ने पर राज्‍यों को जांच, निगरानी और उपचार की प्रक्रिया को सख्‍ती से लागू करने का अधिकार दिया गया है। उन्‍हें यह सुनिश्चित करने को भी कहा गया है कि प्रत्‍येक व्‍यक्ति कोरोना से बचने के नियमों का पालन करे। इसके साथ ही सभी पात्र लोगों को टीके लगाने की प्रक्रिया तेज करने को भी कहा गया है। दिशा-निर्देश में इस बात पर भी जोर दिया गया है कि कंटेनमेंट रणनीति का सख्‍ती से पालन करने और मानक संचालन प्रक्रियाओं का सख्‍ती से पालन करने की जरूरत है।

Leave a Reply