Home समाचार हिन्दू विरोधी ममता का एक और कारनामा, ‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों...

हिन्दू विरोधी ममता का एक और कारनामा, ‘शिवलिंग पर कंडोम’ से विवादों में आई सायानी घोष को आसनसोल से बनाया उम्मीदवार

1204
SHARE

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हिन्दुओं से काफी नफरत करती है। फिर उन्होंने इसका प्रमाण दिया है। आठ चरणों में होने वाले विधानससभा चुनाव के लिए तृणमूल कांग्रेस ने 291 उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है। उम्मीदवारों की सूची में बंगाली फिल्म एक्ट्रेस सायानी घोष का भी नाम है। हिंदूफोबिया से ग्रसित सायानी को टीएमसी ने पश्चिमी वर्धमान के आसनसोल (दक्षिणी) सीट से मैदान में उतारा है। सायानी इस साल की शुरुआत में अपनी एक हिंदूफोबिक ट्वीट को लेकर चर्चा में रही थीं।

एक्ट्रेस सायानी घोष ने 2015 में यह ट्वीट किया था जो कि 16 जनवरी, 2021 को अचानक से वायरल हो गया था। जिसके बाद लोगों ने उन्हें ट्विटर पर निशाने पर लिया था। 18 फरवरी 2015 को, सायानी ने एक तस्वीर पोस्ट की थी। इसमें एक महिला पवित्र हिंदू प्रतीक शिवलिंग के ऊपर कंडोम डालते हुए दिख रही थी। उन्होंने इसे कैप्शन दिया ‘Gods cudnt have been more useful’ (भगवान अब और उपकारी नहीं हो सकते)।

जनवरी 2021 में यह ट्वीट वायरल हुआ तो बीजेपी नेता और मेघायल के पूर्व राज्यपाल तथागत रॉय ने बंगाली अभिनेत्री सायानी घोष के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी थी। तथागत ने सायानी पर हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया था। तथागत रॉय ने सायनी को निशाना बनाते हुए ट्विटर पर लिखा था कि तुमने आईपीसी के सेक्शन 295ए का उल्लंघन किया है, अब परिणाम भुगतने के लिए तैयार हो जाओ।

तथागत रॉय ने ट्विटर पर लिखा कि तुम्हारे खिलाफ कोलकाता में पहले ही रिपोर्ट हो चुकी है। गुवाहाटी के भी एक युवक ने मुझसे कहा कि उसकी धार्मिक भावनाएं तुम्हारे ट्वीट से हर्ट हुई हैं और वो भी एफआईआर फाइल करने जा रहा है। मुझे उम्मीद है कि असम पुलिस इस पर संज्ञान लेगी औऱ रिमांड के लिए पूछेगी।

गौरतलब है कि हिंदू संस्कृति को अपमानित करता सायानी घोष का ट्वीट महाशिवरात्रि के अवसर पर किया गया था, जो कि उस साल 17 फरवरी,2015 को मनाया गया था। जब ट्वीट को लेकर सोशल मीडिया पर विवाद बढ़ने लगा तो अभिनेत्री ने सफाई देते हुए कहा कि यह ट्वीट उनके द्वारा नहीं किया गया था, बल्कि हैकर ने ट्विटर अकाउंट को हैककर ट्वीट किया था। उन्होंने दावा किया था कि अपमानजनक पोस्ट हैकर की करतूत थी।

सायानी घोष ने खुद के ट्वीट को ‘अप्रिय’ करार देते हुए कहा, “डिअर ऑल, 2015 के एक पोस्ट मेरे ध्यान में लाया गया है जो अत्यंत अप्रिय है। आपकी सभी जानकारी के लिए बता दूं कि मैंने 2010 में ही ट्विटर ज्वाइन कर लिया था लेकिन कुछ ही दिनों तक उपयोग करने के बाद मैंने उपयोग करना छोड़ दिया। हालांकि अकाउंट बना रहा।” सायानी घोष ने 2010 से बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री में पदार्पण किया था।

 

Leave a Reply