Home नरेंद्र मोदी विशेष बांग्लादेश दौरा: प्रधानमंत्री मोदी ने मतुआ समुदाय के मंदिर में की पूजा,...

बांग्लादेश दौरा: प्रधानमंत्री मोदी ने मतुआ समुदाय के मंदिर में की पूजा, बोले- हमारा रिश्ता जन-जन का, मन से मन का

1013
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को बांग्लादेश दौरे के दूसरे दिन मतुआ समुदाय के आध्यात्मिक गुरु हरिचंद ठाकुर की जन्मस्थली ओराकांडी में उनके मंदिर में पूजा अर्चना की। मंदिर में पूजा के बाद पीएम मोदी मतुआ समुदाय के लोगों से रूबरू हुए और उनसे बातचीत की। मतुआ समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अस्थिरता, आतंक और अशांति की जगह भारत और बांग्लादेश स्थिरता, प्रेम और शांति चाहते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि दोनों ही देश अपने विकास व प्रगति से पूरे विश्व की प्रगति देखना चाहते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘भारत और बांग्लादेश दोनों ही देश अपने विकास से, अपनी प्रगति से पूरे विश्व की प्रगति देखना चाहते हैं। दोनों ही देश दुनिया में अस्थिरता, आतंक और अशांति की जगह स्थिरता, प्रेम और शांति चाहते हैं।’’ उन्होंने कहा कि भारत-बांग्लादेश का रिश्ता जन-जन का, मन से मन का है।

पीएम मोदी ने कहा कि वह कई वर्षों से ओराकांडी आने का इंतजार कर रहे थे। मोदी ने कहा कि जब 2015 में वह बांग्लादेश आए थे जब उन्होंने ओराकांडी जाने की अभिलाषा व्यक्त की थी। उन्होंने कहा, ‘‘मैं आज वैसा ही महसूस कर रहा हूं, जो भारत में रहने वाले मतुआ संप्रदाय के मेरे हजारों-लाखों भाई-बहन ओराकांडी आकर महसूस करते हैं।’’

इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने घोषणा की कि भारत सरकार ओराकांडी में एक प्राथमिक विद्यालय और लड़कियों के एक माध्यमिक विद्यालय का उन्नयन करेगी। श्री मोदी ने कहा कि भारत आज ‘‘सबका साथ, सबका विकास, और सबका विश्वास’’ के मंत्र को लेकर आगे बढ़ रहा है और बांग्लादेश इसमें ‘‘सहयात्री’’ है। उन्होंने कहा कि बांग्लादेश आज दुनिया के सामने विकास और परिवर्तन का एक मजबूत उदाहरण पेश कर रहा है और इन प्रयासों में भारत आपका सहयात्री है।

उन्होंने कहा कि आज भारत और बांग्लादेश कोरोना का मजबूती से मुकाबला कर रहे हैं और भारत में निर्मित कोरोना रोधी टीका बांग्लादेश के नागरिकों तक भी पहुंचे, भारत इसे अपना कर्तव्य समझ के कर रहा है। उन्होंने कहा कि भारत के लोगों के लिए ओराकांडी की यात्रा और आसान बने, इसके लिए भारत सरकार की तरफ से प्रयास और बढ़ाए जाएंगे।

 

Leave a Reply