Home समाचार भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर दुनियाभर से मिल रही बधाई, श्रीलंका...

भारत में 100 करोड़ वैक्सीनेशन पर दुनियाभर से मिल रही बधाई, श्रीलंका और WHO ने की पीएम मोदी की तारीफ

379
SHARE

कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में भारत ने आज (21 अक्टूबर, 2021) बड़ा कीर्तिमान स्थापित कर दिया। भारत में कोरोना टीकाकरण का आंकड़ा आज 100 करोड़ के पार हो गया। भारत की इस उपलब्धि पर दुनियाभर के लोग बधाई दे रहे हैं। सफलतापूर्वक टीकाकरण अभियान चलाए जाने को लेकर श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे और विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस अधानोम गेब्रेयेसस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, स्वास्थ्यकर्मियों और भारत के लोगों को बधाई दी है।

श्रीलंका के पीएम राजपक्षे ने दी पीएम मोदी को बधाई

श्रीलंका के प्रधानमंत्री महिंदा राजपक्षे ने ट्वीट कर लिखा, ‘इस महान उपलब्धि को हासिल करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी, स्वास्थ्यकर्मियों और भारत के फ्रंटलाइनर्स को बधाई। सुरक्षित रहना, आगे बढ़ना और नई परिस्थितियों के साथ तालमेल बिठाना सफल टीकाकरण अभियान पर अत्यधिक निर्भर है। इस मुकाम पर पहुंचने के लिए बधाई।’

WHO के महानिदेशक ने की पीएम मोदी की तारीफ

100 करोड़ टीकाकरण पूरा होने पर विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक टेड्रोस ए गेब्रेयेसस ने भारत को बधाई दी। भारत के इस ऐतिहासिक क्षण पर डब्ल्यूएचओ चीफ ने कहा है कि देश में बिना किसी पक्षपात टीकाकरण का लक्ष्य हासिल हुआ है। उन्होंने बधाई देते हुए ट्वीट कर लिखा, ‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, वैज्ञानिक, स्वास्थ्यकर्मी, भारत के लोगों का कोविड-19 से संवेदनशील आबादी की रक्षा करने और सामनता के साथ वैक्सीनेशन करने और लक्ष्यों को प्राप्त करने के प्रयासों के लिए बधाई।’

WHO की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह ने दी बधाई

विश्व स्वास्थ्य संगठन के दक्षिण-पूर्वी एशिया की क्षेत्रीय निदेशक डॉ पूनम खेत्रपाल सिंह ने भी भारत को बधाई देते हुए कहा, ‘कोरोना वैक्सीन के एक अरब खुराक लगाए जाने पर भारत को बहुत-बहुत बधाई। इतने कम समय में इस लक्ष्य प्राप्त करना मजबूत नेतृत्व, स्वास्थ्यकर्मियों, फ्रंटलाइन वॉरियर और जनता के समर्पित प्रयासों के बगैर संभव नहीं था।’

आइए देखते हैं इससे पहले किन व्यक्तियों, संगठनों और देशों ने भारत के कोरोना टीकाकरण अभियान की तारीफ की है… 

विश्व बैंक के अध्यक्ष ने की टीकाकरण अभियान की तारीफ

भारत कोरोना टीकाकरण अभियान की तेज रफ्तार से रिकॉर्ड तोड़ सफलता हासिल कर रहा है, वहीं कोरोना के मामलों में तेजी से गिरावट आ रही है और तीसरी लहर की आशंका कम करने में कामयाबी मिली है। इसे देखकर वर्ल्ड बैंक तक आश्चर्यचकित है। विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास ने कोरेना महामारी के खिलाफ सफल टीकाकरण अभियान के लिए भारत की जमकर तारीफ की। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ मुलाकात में डेविड मालपास ने टीका उत्पादन और वितरण में भारत की अंतरराष्ट्रीय भूमिका के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। मालपास ने कहा कि कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान में भारत ने बेहतर काम किया है।

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष ने की मोदी सरकार के प्रयासों की तारीफ

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (आईएमएफ) ने भी कोरोना महामारी के दौरान मोदी सरकार के प्रयासों की खूब सराहना की। आईएमएफ ने कहा कि महामारी के खिलाफ जंग में भारत ने तेजी से मजबूत कदम उठाए। साथ ही उसने अपने श्रम सुधारों और निजीकरण की प्रक्रिया को भी जारी रखा। आईएमएफ ने कहा कि महामारी से निपटने का तरीका त्वरित और संतोषजनक था। सरकार ने समाज के संवेदनशील तबकों को वित्तीय समर्थन दिया। मौद्रिक नीति को उदार किया गया, तरलता के प्रावधान किए गए और नियामकीय नीतियों को सरल किया गया।

वैक्सीन भेजने पर बारबाडोस की पीएम ने की पीएम मोदी की तारीफ

बारबाडोस की प्रधानमंत्री मिया मोटली ने कोरोना वैक्सीन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा की। मिया मोटली ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने वैक्सीन मैत्री के तहत कोविशिल्ड का पहला डोज भेजकर उदारता का वास्तविक प्रदर्शन किया है। आपके कारण बारबाडोस में 40 हजार और अन्य जगहों पर हजारों लोगों का टीकाकरण संभव हो पाया है। धन्यवाद के साथ हम आपके बेहतर स्वास्थ्य की कामना करते हैं।

डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कहा- आपकी वजह से 60 देशों में टीकाकरण

कोरोना महामारी के खिलाफ जंग में भारत की भूमिका को लेकर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम गेब्रेयसस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तारीफ की। गेब्रेयसस ने प्रधानमंत्री मोदी को वैक्सीन इक्विटी को सपोर्ट करने के लिए धन्यवाद दिया और कहा कि COVAX के प्रति आपकी प्रतिबद्धता और कोरोना वैक्सीन की खुराक को साझा करने से 60 से अधिक देशों को अपने स्वास्थ्य कर्मचारियों और अन्य प्राथमिकता समूह का टीकाकरण शुरू करने में मदद मिल रही है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे उम्मीद है कि बाकी देश भी आपके इस उदाहरण को फॉलो करेंगे।

यूएन ने भारत को बताया ग्लोबल लीडर

कोरोना संकट काल में दुनिया भर को वैक्सीन उपलब्ध कराने में अग्रणी भूमिका निभाने पर संयुक्त राष्ट्र ने भी भारत की जमकर तारीफ की। संयुक्त राष्ट्र ने कहा कि कोरोना संकटकाल में भारत एक ग्लोबल लीडर के तौर पर सामने आया है। भारतीय नेतृत्व के मानवीय दृष्टिकोण और वैक्सीन की सहायता पर आभार जताते हुए संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतेरस ने कहा कि कोरोना की जंग में भारत ने ग्लोबल लीडर की भूमिका निभाई है।

कोरोना वैक्सीन संजीवनी बूटी पाकर धन्य हुए ब्राजील के राष्ट्रपति

भारत में बनी कोरोना वैक्सीन की 20 लाख खुराक पाकर खुश ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो ने कोरोना वैक्सीन की तुलना संजीवनी बूटी से की। उन्होंने भगवान हनुमान की संजीवनी बूटी ले जाते हुए तस्वीर को ट्वीट कर इस मुश्किल वक्त की घड़ी में साथ देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का शुक्रिया अदा किया। कोरोना वैक्सीन पाकर खुद को धन्य महसूस करते हुए बोलसोनारो ने कहा कि कोरोना की जंग को लड़ने में मदद करने के लिए ब्राजील भारत का आभार व्यक्त करता है। हम भारत का धन्यवाद करते हैं। भारत के प्रति अपना स्नेह जाहिर करते हुए उन्होंने अपने ट्वीट के आखिर में हिंदी में धन्यवाद लिखा। 

ब्राजील के राष्ट्रपति ने कहा प्रभु हनुमान की तरह पहुंचाई संजीवनी बूटी

ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोल्‍सोनारो ने इसके पहले भी प्रधानमंत्री मोदी की तुलना भगवान हनुमान से की करते हुए हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा को संजीवनी बूटी बताया था। उन्होंने कहा कि भारत की ओर से दी गई इस हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा से लोगों के प्राण बचेंगे और इस संकट की घड़ी में भारत और ब्राजील मिलकर कामयाब होंगे। प्रधानमंत्री मोदी को भेजे पत्र में राष्‍ट्रपति बोल्‍सोनारो ने लिखा कि जिस तरह हनुमान जी ने हिमालय से पवित्र दवा (संजीवनी बूटी) लाकर भगवान श्रीराम के भाई लक्ष्मण की जान बचाई थी, उसी तरह भारत और ब्राजील एक साथ मिलकर इस वैश्विक संकट का सामना कर लोगों के प्राण को बचा सकते हैं।

Leave a Reply