Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 01 अप्रैल

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 01 अप्रैल

153
SHARE

01 अप्रैल 2015

उड़ीसा के राउरकेला स्‍टील प्‍लांट के 45 लाख टन विस्‍तार राष्‍ट्र को समर्पित किया, वाराणसी को समर्पित वेबसाइट का लिंक सोशल मीडिया पर साझा किया,सैंडविक एशिया प्राइवेट लिमिटेड के ग्लोबल प्रेसिडेंट और सीईओ Olof Faxander से मुलाकात, भारत सरकार के सचिवों के साथ औपचारिक बातचीत।

01 अप्रैल 2016

वाशिंगटन के न्यूक्लियर सेक्यूरिटी समिट 2016 के Opening Plenary में भाग लिया, न्यूक्लियर सेक्यूरिटी समिट 2016 के इतर विश्व के कई नेताओं से मुलाकात, अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा दिए गए रात्रिभोज के दौरान परमाणु सुरक्षा के खतरों पर अपनी बात रखी, अमेरिका के वाशिंगटन डीसी से रियाद के लिए रवाना।

01 अप्रैल 2017

मलेशिया के प्रधानमंत्री मोहम्मद नजीब तुन अब्दुल रजाक का राष्ट्रपति भवन में भव्य स्वागत, हैदराबाद हाउस में संयुक्त प्रेस वार्ता और कई समझौतों पर हस्ताक्षर, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘स्मार्ट इंडिया हैकथॉन 2017’ में उद्बोधन।

01 अप्रैल 2019

महाराष्ट्र के वर्धा और तेलंगाना के राजमुंदरी व सिकंदराबाद में आयोजित जनसभाओं में उद्बोधन।

01 अप्रैल 2020

कुवैत के प्रधानमंत्री, महामहिम शेख सबाह अल-खालिद अल-हमद अल-सबाह के साथ टेलीफोन पर बातचीत की।

फाइल फोटो

01 अप्रैल 2021

विधानसभा चुनावों के मद्देनजर असम और पश्चिम बंगाल में आयोजित जनसभाओं में संबोधन किया, तमिलनाडु के मदुरै के प्रसिद्ध मीनाक्षी मंदिर में पूजा अर्चना की।

01 अप्रैल 2022

दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में विद्यार्थियों, उनके अभिभावकों और शिक्षकों के साथ परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में भाग लिया, रूस के विदेश मंत्री महामहिम सर्गेई लावरोव से मुलाकात की, यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पेटल से नई दिल्ली में मुलाकात।

Leave a Reply