Home चुनावी हलचल बंगाल में देखने को मिल रही है शांति, सुरक्षा और विकास की...

बंगाल में देखने को मिल रही है शांति, सुरक्षा और विकास की ललक: प्रधानमंत्री मोदी

525
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के बीरभूम, कोलकाता, मालदा और मुर्शिदाबाद के मतदाताओं को वर्चुअल तरीके से संबोधित किया। जाहिर है कि कोरोना संकट से निपटने के लिए जरूरी बैठकों की वजह से प्रधानमंत्री ने पश्चिम बंगाल का शुक्रवार का दौरा टाल दिया था। जारों जगहों पर मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, “पश्चिम बंगाल का यह चुनाव सिर्फ सत्ता बदलने के लिए नहीं हैं, बल्कि इन चुनावों में मैं एक आकांक्षी, एक आशावादी पश्चिम बंगाल को उभरते देख रहा हूं। गांव हो या शहर हर जगह बेहतर जीवन, बेहतर शिक्षा, बेहतर रोजगार, बेहतर विकल्प के लिए एक तड़प देख रहा हूं। शांति, सुरक्षा और विकास की एक ललक बंगाल में देखने को मिल रही है। पश्चिम बंगाल आज एक ऐसे शासन के लिए लालायित है, जहां सरकार का हर विभाग अपना काम करे, अपना दायित्व निभाए। भेदभाव से मुक्त, सद्भाव से युक्त व्यवस्था के लिए पश्चिम बंगाल वोट दे रहा है।“

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य के बिना विकास अधूरा है और शुद्ध पानी के बिना बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित नहीं किया जा सकता। शुद्ध पीने का पानी, हर घर पाइप से जल तेजी से पहुंचाना भी बीजेपी की प्राथमिकता है। बंगाल के हर घर को पाइप से शुद्ध जल मिलेगा तो माताओं-बहनों की तकलीफ तो कम होगी ही, आने वाली पीढ़ियां अनेक गभीर बीमारियों से मुक्त होंगी। इससे गरीब का स्वास्थ्य पर होने वाला खर्च भी बचेगा।

पीएम मोदी ने कहा, “स्वास्थ्य पर होने वाला खर्च गरीब की कमर तोड़ देता है। इसके लिए आयुष्मान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपये की मदद गरीब के काम आने वाली है। केंद्र सरकार हर तीन लोकसभा क्षेत्रों में कम से कम एक मेडिकल कॉलेज के निर्माण पर बल दे रही है। बंगाल के कई क्षेत्रों में डेंगू भी एक बहुत बड़ी समस्या रही है। बीजेपी सरकार डेंगू जैसी बीमारियों को दूर करने के लिए गंभीर कदम उठाएगी। स्वास्थ्य के साथ-साथ शिक्षा और शिल्प, इन दोनों पर फोकस करके ही शोनार बांग्ला का निर्माण संभव है।”

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बंगाल के पास आम, लीची, प्याज, आलू, रेशम, जूट सहित अनेक प्रकार की पूंजी है। कृषक को उसकी उपज की पूरी कीमत सीधी बैंक खाते में मिले, यह बीजेपी सरकार सुनिश्चित करने वाली है। रेशम और जूट उद्योग आत्मनिर्भर भारत का एक बहुत मजबूत पहलू है, इसको प्रोत्साहित करना हमारी प्रतिबद्धता है। इसी प्रकार फल-सब्जियों की वेस्टेज को रोकने के लिए भी किसानों को हर संभव मदद उपलब्ध कराई जाएगी। किसान रेल के माध्यम से फल-सब्जियों के लिए कोल्ड स्टोरेज की एक बहुत बड़ी सौगात मिल रही है। कोल्ड स्टोरेज हो, कृषि आधारित शिल्प हो या फिर नदियों में डैम बनाकर सिंचाई की सुविधाओं का निर्माण हो, इनके लिए बीजेपी सरकार तेजी से काम करने वाली है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोलकाता देश के उन शुरुआती शहरों में था जहां बिजली आई। जब देश के दूसरे शहरों में तांगे चलते थे, तब यहां ट्राम चलती थी। जब दूसरे शहरों में ऑटो नहीं थे, तब यहां टैक्सी चलती थीं। जब दूसरे शहरों में बसें चलने लगीं, तब यहां मेट्रो ट्रेन की तैयारी चल रही थी। पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कोलकाता और पश्चिम बंगाल की इसी लीडरशिप को नए दशक में हम सशक्त करेंगे। अभी कोलकाता मेट्रो के विस्तार का काम चल रहा है। बीजेपी सरकार बनने के बाद ये काम और तेज गति से आगे बढ़ेगा। उन्होंने कहा, ”कोलकाता की तो पहचान सिटी ऑफ जॉय के रूप में रही है। आधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर के माध्यम से इसको सिटी ऑफ फ्यूचर के रूप में विकसित किया जाएगा।” प्रधानमंत्री मोदी ने अंत में कहा कि बंगाल में चार दशक के बाद लोकतंत्र को मजबूत करने के लिए जनता आगे आ रही है। अब तक बंगाल की जनता ने बहुत उत्तम मतदान किया है, आगे भी आप ऐसा ही करिएगा। मतदान के लिए जो दिशा-निर्देश बनाए गए हैं, उनका पालन सुनिश्चित करते हुए आप मतदान कीजिएगा।

Leave a Reply