Home समाचार कानपुर में सीएम योगी की दहाड़: चाचा जान और अब्बा जान के...

कानपुर में सीएम योगी की दहाड़: चाचा जान और अब्बा जान के अनुयायी सावधान होकर सुन लें…

483
SHARE

कानपुर में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की दहाड़ ने विरोधियों को बगलें झांकने पर मजबूर कर दिया है। सीएए के नाम पर एक बार फिर से यूपी का माहौल खराब करने वाले मोदी विरोधी दलों पर निशाना साधते हुए, सीएम योगी ने कहा कि सीएए के नाम पर फिर से दंगा भड़काने का प्रयास हो रहा है-मैं इस अवसर पर चचाजान और अब्बाजान के अनुयायीयों से कहूंगा कि वे सावधान होकर सुन लें, अगर प्रदेश की भावनाओं को भड़का कर माहौल खराब करोगे, तो फिर सख्ती के साथ सरकार निपटना जानती है।’ 

विरोधियों पर ‘अब्बाजान’ और ‘चचाजान’ से हमला

सीएम योगी ‘अब्बाजान’ और ‘चचाजान’ के संबोधनों के ज़रिए अपने विरोधियों पर जम कर बरसे। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के नेता असदुद्दीन ओवैसी पर हमला बोलते हुए सीएम योगी ने उन्हें समाजवादी पार्टी का एजेंट करार दिया, जो लोगों की भावनाएं भड़काने का काम कर रहे हैं, साफ तौर पर सीएम योगी ने ओवैसी और समाजवादी पार्टी के बीच सांठगांठ का आरोप लगाया है, सीएम योगी ने कहा हर व्यक्ति जानता है कि ओवैसी समाजवादी पार्टी के एजेंट बनकर के भावनाओं को भड़काने का कार्य कर रहे हैं, लेकिन उत्तर प्रदेश आज जिस दिशा में आगे बढ़ चुका है, अब दंगा नहीं दंगा मुक्त प्रदेश के रूप में उत्तर प्रदेश की पहचान है। 

ओवैसी समाजवादी पार्टी के एजेंट

उत्तर प्रदेश में माहौल खराब करने की किसी भी कोशिश का सख्ती से जवाब देने की कड़ी चेतावनी देते हुए सीएम योगी ने कहा है कि सारी दुनिया में यूपी की पहचान अब दंगा मुक्त प्रदेश के तौर पर है और यूपी की सरकार ने गुंडों और माफियाओं पर बुलडोजर चलाने का काम किया है।

कानपुर में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन में सीएम योगी की दहाड़

सीएम योगी कानपुर में बूथ अध्यक्ष सम्मेलन में पहुंचे थे, जहां उन्होंने सीएए के नाम पर राजनीति करने वालों को खुली चेतावनी दी है। विधानसभा चुनावों में जिन्ना का जिन्न पहले ही जिंदा हो चुका था, पीएम मोदी के कृषि कानूनों को वापस लेने के फैसले के बाद सीएए को मुद्दा बनाने की हरसंभव कोशिश हो रही है।

यूपी के बहराइच में ओवैसी ने की थी रैली 

थोड़े दिनों पहले ही यूपी के बाराबंकी में रैली के दौरान AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने सीएए की वापसी के लिए आंदोलन करने की धमकी दी थी। लेकिन कानपुर में इसका तगड़ा जवाब देते हुए सीएम योगी ने कहा कि ‘प्रदेश में 2017 के पहले हर तीसरे चौथे दिन दंगे होते थे, आज यहां पर मैं चेतावनी दूंगा, उस व्यक्ति को जो यहां पर सिटिज़नशिप अमेंडमेंट एक्ट के नाम पर फिर से भावनाओं को भड़काने का कार्य कर रहा है”

‘दोबारा रोड पर निकलेंगे, यहां पर भी शाहीन बाग बनेगा’
अब ये भी जान लीजिए की यूपी के बहराइच में हुई रैली में ओवैसी ने सीएए को लेकर क्या कहा थाCAA का क़ानून वापस लेना चाहिए, क्योंकि वो संविधान के ख़िलाफ है, हम मुतालिबा करते हैं कि CAA कानून को भी वापस लिया जाए, हमसे मीडिया वाले पूछ रहे हैं कि अगर नहीं करे तो क्या करेंगे अगर अगर NPR और NRC का कानून बनाएंगे तो हम दोबारा रोड पर निकलेंगे, यहीं पर भी शाहीन बाग बनेगा।
रैली में दिल्ली के जिस शाहिन बाग का जिक्र ओवेसी ने किया था, वहां पर सीएए के विरोध में लंबे वक्त पर धरना हुआ था। दिल्ली विधानसभा चुनाव में अहम मुद्दा भी बना था।

Leave a Reply