Home समाचार राष्ट्र के नाम संबोधन में ब्राजील के राष्ट्रपति ने की भारत की...

राष्ट्र के नाम संबोधन में ब्राजील के राष्ट्रपति ने की भारत की सराहना

631
SHARE

ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो ने राष्ट्र के नाम संबोधन में भारत की सराहना करने के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को धन्यवाद कहा है। राष्ट्र के नाम संबोधन में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत के बाद उनके देश को हाइड्रोक्सीक्लोक्वीन दवा बनाने के लिए कच्चा माल मिला है। बोल्सोनारो ने कहा, ‘हाइड्रोक्सीक्लोक्वीन दवा के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का धन्यवाद। भारतीय प्रधानमंत्री के साथ मेरी सीधी बातचीत के परिणामस्वरूप हमें कोविड-19 के उपचार के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा के अपने उत्पादन को जारी रखने के लिए कच्चा माल मिलेगा।’

राष्ट्रपति बोल्सनारो ने कहा कि उनका देश हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की आपूर्ति करने के भारत के निर्णय के कारण ल्यूपस, मलेरिया और गठिया के रोगियों का भी इलाज कर सकेगा। मैं ब्राजील के लोगों को इस तरह की समय पर मदद के लिए प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी और भारत के लोगों को धन्यवाद देता हूं।

प्रभु हनुमान की तरह पहुंचाई संजीवनी बूटी- बोल्सनारो
ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने इसके पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तुलना भगवान हनुमान से की करते हुए हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन दवा को संजीवनी बूटी बताया था। उन्होंने कहा कि भारत की ओर से दी गई इस हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा से लोगों के प्राण बचेंगे और इस संकट की घड़ी में भारत और ब्राजील मिलकर कामयाब होंगे। प्रधानमंत्री मोदी को भेजे पत्र में राष्‍ट्रपति बोल्‍सोनारो ने लिखा है कि जिस तरह हनुमान जी ने हिमालय से पवित्र दवा (संजीवनी बूटी) लाकर भगवान श्रीराम के भाई लक्ष्मण की जान बचाई थी, उसी तरह भारत और ब्राजील एक साथ मिलकर इस वैश्विक संकट का सामना कर लोगों के प्राण को बचा सकते हैं।

ब्राजील के राष्‍ट्रपति ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे पत्र में उन्‍हें हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के लिए धन्‍यवाद दिया है। दरअसल में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के साथ ब्राजील के राष्‍ट्रपति बोल्सोनारो ने भी प्रधानमंत्री मोदी से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के निर्यात पर लगे बैन को हटाने का अनुरोध किया था। हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा से बैन हटाने के भारत के फैसले के बाद बोलसोनारो ने प्रधानमंत्री मोदी का तुलना भगवान हनुमान से कर डाली। भारत हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा का सबसे बड़ा उत्पादक है।

ब्राजील के राष्ट्रपति से हुई पीएम मोदी की बातचीत
इसके पहला प्रधानमंत्री मोदी ने राष्ट्रपति बोलसोनारो से कोरोना वायरस से निपटने के मुद्दे पर बातचीत की थी। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया- भारत और ब्राजील कैसे संयुक्त रूप से कोरोना वायरस की महामारी के खिलाफ काम कर सकते हैं इसे लेकर ब्राजील के राष्ट्रपति जेयर बोलसोनारो से फोन पर बहुत ही उपयोगी बातचीत हुई। बोलसोनारो ने भी पुर्तगाली भाषा में ट्वीट कर प्रधानमंत्री मोदी के साथ हुई बातचीत की जानकारी दी।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा पीएम मोदी को थैंक्यू
कोरोना वायरस संकट पर भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा मिलने पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने थैंक्यू इंडिया कहा। इसपर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्वीट कर कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मैं आपकी बात से पूरी तरह सहमत हूं कि इस तरह के समय में दोस्त और करीब आते है। भारत और अमेरिका की साझेदारी पहले से ज्यादा मजबूत है। भारत कोरोना महामारी के खिलाफ मानवता की लड़ाई में हरसंभव मदद करेगा। हम लोग मिलकर इस लड़ाई को जीतेंगे।

इससे पहले राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने ट्वीट संदेश में भारत और प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद कहा था। उन्होंने ट्वीट किया, ‘असाधारण समय में दोस्तों के बीच निकटतम सहयोग की आवश्यकता रहती है। भारत और भारत के लोगों को धन्यवाद। इसे भुलाया नहीं जाएगा। कोरोना से लड़ने में प्रधानमंत्री मोदी न सिर्फ भारत बल्कि मानवता की मदद की है। इस मजबूत नेतृत्व के लिए आपका धन्यवाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।”

Leave a Reply