Home समाचार पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी की...

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ को टीएमसी सांसद कल्याण बनर्जी की धमकी, “धनखड़ को उसी जेल में भेजेंगे, जहां टीएमसी विधायक भेजे गए”

645
SHARE

पश्चिम बंगाल में विधानसभा का चुनाव जीतने के बाद टीएमसी के बड़ बोले नेताओं के हौसले काफी बढ़ गए है। अब वे संवैधानिक सत्ता को भी चुनौैती देने लगे हैं। अपने विवादित बयान के लिए चर्चा में रहने वाले टीएमसी के सांसद कल्याण बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को लेकर आग उगली है। नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में टीएमसी सरकार के मंत्री और विधायकों की गिरफ्तारी के बाद कल्याण बनर्जी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़ को गिरफ्तार कर जेल भेजने की धमकी दी। उन्होंने कहा है कि राज्यपाल जगदीप धनखड़ का कार्यकाल पूरा होने पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेजा जाएगा।

टीएमसी सांसद की धमकी पर राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने प्रतिक्रिया देते हुए हैरानी जताई है। उन्होंने कहा कि वह कल्याण बनर्जी का बयान सुनकर हैरान हैं। कल्याण बनर्जी टीएमसी के वरिष्ठ पदाधिकारी हैं, लोकसभा के वरिष्ठ सांसद हैं और अधिवक्ता हैं। मैं उनके शब्दों से आहत हूं लेकिन बंगाल की सुसंस्कृत जनता और मीडिया के विवेक पर इसे छोड़ता हूं। राज्यपाल ने अपने ट्वीट में ममता बनर्जी, लोकसभा सचिवालय, बार काउंसिल और एडिटर्स गिल्ड को भी टैग किया है।

दरअसल, पश्चिम बंगाल के हुगली में एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के बाद कल्याण बनर्जी ने राज्यपाल को लेकर कहा कि वो जब राज्यपाल के पद से हटेंगे, तब उन पर एफआईआर दर्ज की जाएगी। यहीं टीएमसी सांसद ने उनको प्रेसीडेंसी जेल में कैद करने की भी बात कही थी। साथ ही कल्याण बनर्जी ने यह भी दावा किया कि नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में टीएमसी के तीन नेताओं फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी और मदन मित्रा और कोलकाता के पूर्व मेयर सोवन चटर्जी को उनके कहने पर ही गिरफ्तार किया गया था।

कल्याण बनर्जी ने हुगली में मीडिया से बात करते हुए कहा कि मुझे पता है कि राज्यपाल के खिलाफ कोई आपराधिक कार्रवाई शुरू नहीं की जा सकती है, लेकिन मैं सभी से अनुरोध करूंगा कि वे संबंधित पुलिस थानों में शिकायत दर्ज करें, जहां राज्यपाल ने हिंसा भड़काई है। साथ ही उन्होंने कहा कि जब वह राज्यपाल नहीं रहेंगे। उसी दिन इन एफआईआर के जरिए कार्रवाई होगी। तब उन्हें प्रेसीडेंसी जेल में रखा जा सकें, जहां उन्होंने पांचों नेताओं को भेजा था।

कल्याण बनर्जी ने यह भी कहा कि 2024 के लोकसभा चुनावों के बाद, राज्यपाल जगदीप धनखड़ के साथ भारतीय जनता पार्टी के कई नेता सलाखों के पीछे होंगे। कल्याण बनर्जी ने सारी मर्यादा को ताक पर रखते हुए कहा कि राज्यपाल सनकी और खून चूसने वाले बन गए हैं। वह अब साल 2024 के चुनाव के लिए बीजेपी से टिकट लेने की कोशिश कर रहे हैं और इसीलिए वह टीएमसी के खिलाफ जो कुछ भी कर सकते हैं, कर रहे हैं।

गौरतलब है कि राज्यापाल जगदीप धनखड़ ने 7 मई को सीबीआई के अनुरोध पर मंत्री फिरहाद हकीम, सुब्रत मुखर्जी, टीएमसी विधायक मदन मित्रा और कोलकाता के पूर्व महापौर सोवन चटर्जी के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी दी थी, जो एक स्टिंग ऑपरेशन के दौरान कैमरे में रिश्वत लेते हुए पकड़े गए थे।

Leave a Reply