Home नरेंद्र मोदी विशेष प्रधानमंत्री मोदी के पांच फैसले जिसने लोगों को चौंकाया

प्रधानमंत्री मोदी के पांच फैसले जिसने लोगों को चौंकाया

464
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को अचानक सोशल मीडिया छोड़ने की बात कहकर सबको चौंका दिया। प्रधानमंत्री मोदी हमेशा से अपना खुद का रास्ता बनाने के हिमायती रहे हैं। वह अपना हर फैसला देशहित को ध्यान में रखकर ही करते हैं। सभी देशवासियों को विश्वास है कि हमेशा की तरह इस फैसले में भी उनका लक्ष्य होगा- इंडिया फर्स्ट।

आइए एक नजर डालते हैं उन पांच फैसलों पर, जिसने देशवासियों को चौंका दिया-

1. नोटबंदी
प्रधानमंत्री मोदी ने 8 नवंबर, 2016 को पांच सौ और एक हजार के पुराने नोट हटाने का ऐलान किया था। प्रधानमंत्री मोदी का मकसद देश की अर्थव्यवस्था में मौजूद काले धन को खत्म करना और भ्रष्टाचार पर लगाम लगाना था। मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद पहली बार देश में डिजिटल ट्रांजेक्शन में अभूतपूर्व वृद्धि हुई। मोदी राज में करदाता की संख्या ने पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए और आयकर रिटर्न भरने वालों की संख्या में भारी वृद्धि हुई। नोटबंदी के बाद फर्जी कंपनियों और बेनामी संपत्ति के खिलाफ सख्त कार्रवाई की गई। हजारों करोड़ की अघोषित आय का पता चला और लाखों फर्जी कंपनियों का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया गया।

2. तीन तलाक बिल
संसद से तीन तलाक बिल पास कराकर मोदी सरकार ने एक बड़ी कामयाबी हासिल की। एक साथ तीन तलाक को अपराध करार देने वाला तीन तलाक बिल के कानून बन जाने के बाद मुस्लिम महिलाओं को बराबरी का हक मिलेगा और तलाक की स्थित में वो अपने पति पर अपने तथा नाबालिग बच्चों के गुजारा भत्ता का दावा ठोक सकेंगी। इतना ही नहीं इस गैरकानूनी कृत्य पर पति को जेल का भी प्रावधान है। प्रधानमंत्री मोदी सत्ता में आने के बाद से ही सदियों से चली आ रही इस कुप्रथा से मुस्लिम महिलाओं को मुक्ति दिलाने के प्रयास में लगे हुए थे। प्रधानमंत्री ने बगैर किसी भेदभाव के, मुस्लिम समुदाय की महिलाओं को उनका हक दिलाने का काम किया है।

3. सर्जिकल स्ट्राइक
उरी में सेना के कैंप पर हुए आतंकी हमले के बाद प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में पीओके में घुसकर आतंकी ठिकानों के खिलाफ भारतीय सेना ने बड़ी कार्रवाई की थी। सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए भारतीय सेना ने एलओसी पारकर आतंकवादी ठिकानों को नेस्तनाबूद किया था। इसके बाद फिर वायुसेना ने पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए 26 फरवरी, 2019 को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकियों के अड्डे पर बड़ी कार्रवाई करते हुए बालाकोट में एयरस्ट्राइक की। भारत के इस कार्रवाई को विश्व के कई देशों का समर्थन मिला।

4. आर्टिकल 370 
प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करने के साथ-साथ राज्य को दो हिस्सों में बांट दिया गया। जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख को अन्य राज्यों और संघ शासित प्रदेशों के बराबर लाया गया। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद कश्मीर में एक देश, एक विधान और एक निशान लागू हो गया। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद अब जम्मू-कश्मीर में भारतीय संविधान पूरी तरह से लागू होगा।

5. नागरिकता कानून- सीएए
प्रधानमंत्री मोदी की इच्छाशक्ति के कारण ही देश में नागरिकता संशोधन बिल कानून के रूप में लागू हो गया है। इसके कानून बनने के साथ ही पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के अल्पसंख्यक शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने का रास्ता साफ हो गया। इस कानून के तहत 31 दिसंबर, 2014 तक धर्म के आधार पर प्रताड़ना के चलते पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई धर्म के लोगों को अवैध घुसपैठिया नहीं माना जाएगा, बल्कि उन्हें भारतीय नागरिकता दी जाएगी।

Leave a Reply