Home समाचार एनडीए का एजेंडा विकास आधारित, कांग्रेस और डीएमके के एजेंडे में कुछ...

एनडीए का एजेंडा विकास आधारित, कांग्रेस और डीएमके के एजेंडे में कुछ भी सकारात्मक नहीं: पीएम मोदी

449
SHARE

विधानसभा चुनावों के प्रचार के सिलसिले में मंगलवार को पीएम मोदी केरल के बाद तमिलनाडु पहुंचे। वहां उन्होंने धारापुरम में एक जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी भी उनके साथ मौजूद रहे। प्रधानमंत्री मोदी ने एक ओर केंद्र सरकार की उपलब्धियों को जनता के सामने रखकर एनडीए के लिए वोट करने की अपील की, तो दूसरी ओर कांग्रेस और डीएमके के गठबंधन की आलोचना की। उन्होंने कहा कि आने वाले कुछ दिनों में तमिलनाडु नई विधानसभा के चयन के लिए मतदान करेगा। एनडीए परिवार राज्य के लोगों की सेवा करने के लिए आपसे आशीर्वाद मांगता है। हम बहुमुखी विकास का एजेंडा लेकर आपसे वोट मांग रहे हैं जो एमजीआर और अम्मा जयललिता के आदर्शों पर आधारित है। एक ओर एनडीए का विकास आधारित एजेंडा है तो दूसरी ओर कांग्रेस और डीएमके अपना काम बनाने का एजेंडा लेकर चल रही हैं।

‘कांग्रेस और डीएमके के पास कुछ भी सकारात्मक नहीं’

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस और डीएमके के नेताओं के भाषणों में कुछ भी सकारात्मक नहीं सुनने को मिलता है। वे अपने काम या विजन के बारे में बहुत ही कम बात करते हैं। वे केवल दूसरों का अपमान करने का और झूठ फैलाने का काम करते हैं। उन्होंने कहा कि इन दिनों कांग्रेस और डीएमके ने अपनी बेकार हो चुकी 2-जी मिसाइल लॉन्च की है। इस 2-जी मिसाइल का एक लक्ष्य है और वह हैं तमिलनाडु की महिलाएं। कुछ दिन पहले यह मिसाइल तमिलनाडु की नारी शक्ति पर हमला करने के लिए यूपीए ने लॉन्च की थी।

‘महिलाओं का अपमान करना कांग्रेस-डीएमके की संस्कृति’

पीएम मोदी ने कहा, मैं उस जमीन पर हूं, जहां के बेटे और बेटियों ने अपने आदर्शों से कभी समझौता नहीं किया और अन्याय के खिलाफ हमेशा लड़े। यहां से मैं कांग्रेस और डीएमको को बताना चाहता हूं कि अपने पार्टी नेताओं को नियंत्रण में रखें। उन्होंने डीएमके और कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि महिलाओं का अपमान करना दोनों दलों की संस्कृति है। कुछ दिन पहले डीएमके के एमएलए प्रत्याशी डिंडिगुल लियोनी ने महिलाओं पर बेहद शर्मनाक टिप्पणी की थी और डीएमके ने उन्हें रोकने के लिए कुछ भी नहीं किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 25 मार्च 1989 की तारीख को कभी मत भूलिएगा। तमिलनाडु विधानसभा में डीएमके नेताओं ने किस तरह अम्मा जयललिता के साथ व्यवहार किया था? डीएमके और कांग्रेस पार्टी दोनों ही महिला सशक्तिकरण की गारंटी नहीं दे सकती हैं। उनके शासन में महिलाओं के खिलाफ अपराध का ग्राफ बढ़ जाता है। जबकि, हमारा मानना है कि किसी भी समाज की उन्नति बिना महिलाओं के विकास के संभव नहीं है। इसीलिए हमारी सभी योजनाएं नारी शक्ति को ताकत और मजबूती देने लक्ष्य से बनाई गई हैं।

कोंगू इलाके के लोगों की सराहना की

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मैं कोंगू इलाके के रहने वालो लोगों की उनकी उद्यमी भावना को लेकर सराहना करना चाहता हूं। राज्य के इस हिस्से से आने वाले लोगों ने देश के लिए हमेश संपत्ति बनाई है। पिछले साल के दौरान इस इलाके के लघु, मध्यम और बड़े व्यवसायों ने अपनी राह से हटकर दूसरों की मदद की। उन्होंने कहा कि भारत सरकार पिछले वर्षों में कई सुधार लेकर आई है। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि मेरी सरकार और खुद मैं यहां के व्यापार और उद्यमों के विकास के लिए हर संभव मदद करूंगा।

‘हमारी प्राथमिकता छोटे किसानों को मजबूत करना’

पीएम मोदी ने कहा कि पिछले साल दिसंबर में उत्पादन से जुड़ी योजना (पीएलआई) पेश की गई थी। तमिलनाडु में डिफेंस कॉरिडोर का निर्माण यहां के लोगों के लिए कई फायदे लेकर आएगा। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट कांग्रेस और डीएमके यहां कभी व्यापार को उभरने नहीं देंगी। एनडीए की प्राथमिकता छोटे किसानों का हित है। हमारी सरकार ने ऐसे सुधार किए हैं जिससे छोटे किसानों पर से बिचौलियों का दबाव समाप्त हो जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी ने आगे कहा कि किसानों का हित, व्यापारियों का हित और जनता का हित ही हमारा लक्ष्य है।

‘किसानों की मदद के लिए दुरुस्त कर रहे सिंचाई का ढांचा’

पीएम मोदी ने कहा कि सॉइल हेल्थ कार्ड, किसान क्रेडिट कार्ड, ई-नैम जैसी योजनाएं किसानों को सशक्त बनाने के लिए लाई गई हैं। उन्होंने कहा कि ‘प्रति बूंद अधिक उपज’ के मंत्र के साथ हम किसानों की, उनकी किसानी के तरीकों को बेहतर करने में, मदद कर रहे हैं। मोदी ने कहा कि पुराने सिंचाई ढांचे को दुरुस्त किया जा रहा है और नए ढांचे बनाए जा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि भारत सरकार ने जल जीवन मिशन शुरू किया है। इसका लक्ष्य सभी घरों तक साफ पानी उपलब्ध करवाना है।

Leave a Reply