Home समाचार बंगाल में हार रही है ममता बनर्जी, मदद के लिए गैर-बीजेपी नेताओं...

बंगाल में हार रही है ममता बनर्जी, मदद के लिए गैर-बीजेपी नेताओं को लिखा पत्र, एकजुट होकर संयुक्त रूप से लड़ने की लगाई गुहार

516
SHARE

पहले चरण के मतदान के प्रतिशत और सत्ता विरोधी लहर से बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हताश हो चुकी है। अब उन्हें यकीन हो चुका है कि वो चुनाव हारने जा रही है। बंगाल की सत्ता उनके हाथ से निकल चुकी है। बीजेपी से लड़ना अब उनके बूते की बात नहीं है। इसलिए उन्होंने दूसरे चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले मदद के लिए गैर-बीजेपी नेताओं को पत्र लिखा है और उनसे संयुक्त रूप से लडऩे की गुहार लगाई है।

पश्चिम बंगाल में जारी विधानसभा चुनाव के बीच ममता बनर्जी ने सोनिया गांधी, शरद पवार, एमके स्टालिन, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, उद्धव ठाकरे, हेमंत सोरेन, अरविंद केजरीवाल, नवीन पटनायक, जगन रेड्डी, केएस रेड्डी, फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती, दीपांकर भट्टाचार्य सहित 15 नेताओं को पत्र लिखकर समर्थन मांगा है।

तीन पन्नों के पत्र में ममता ने लिखा है कि मैं भारत में लोकतंत्र और संवैधानिक संघवाद पर केंद्र में बीजेपी और उसकी सरकार द्वारा किए गए हमलों की श्रृंखला पर अपनी गंभीर चिंताओं को व्यक्त करने के लिए यह पत्र लिख रही हूं। ममता ने आरोप लगाया है कि बीजेपी देश में एक पार्टी का शासन चाहती है। बंगाल के राज्यपाल बीजेपी कार्यकर्ता की तरह काम कर रहे हैं। ईडी, सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियां गैर-बीजेपी नेताओं को निशाना बना रही हैं।

चुनाव के दौरान ममता बनर्जी गैर-बीजेपी नेताओं को ईडी,सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियों का डर दिखा रही है। उन्होंने लिखा है कि मोदी सरकार के निर्देश पर ईडी ने न केवल तृणमूल कांग्रेस वरन डीएमके सहित अन्य पार्टी के नेताओं के यहां छापेमारी की है। अब यह समय आ गया है कि बीजेपी के आक्रमण के खिलाफ सभी को एकजुट होकर संग्राम करने की जरूरत है। मैं समान विचारधारा वाली पार्टियों के साथ लड़ाई करती रहूंगी। विधानसभा चुनाव के बाद एक योजना बनाए जाने की जरूरत है।

शरद पवार बंगाल में ममता बनर्जी का चुनाव प्रचार करने वाले थे, लेकिन तबियत खराब होने के कारण वह ममता बनर्जी का प्रचार नहीं कर सके। इसके अलावा गैर-बीजेपी नेताओं हेमंत सोरेन, तेजस्वी यादव आदि ने ममता बनर्जी के पक्ष में प्रचार किया है। हालांकि कांग्रेस, वामदलों और आइएसएफ के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ रही है।

 

Leave a Reply