Home मोदी@72 MODI@72 : रक्तदान अमृत महोत्सव का शुभारंभ, ‘रिकॉर्ड रक्तदान’ का तोहफा देने...

MODI@72 : रक्तदान अमृत महोत्सव का शुभारंभ, ‘रिकॉर्ड रक्तदान’ का तोहफा देने की तैयारी, जानिए पीएम मोदी के जन्मदिन पर कैसे बने विश्व कीर्तिमान

157
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का व्यक्तित्व जितना विराट है, उनकी और उनके सरकार की उपलब्धियां भी उतनी ही बेमिसाल हैं। उनके नेतृत्व में भारत रोज नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। जो पहले नामुमकिन लग रहा था, वो भी आज मुमकिन लगने लगा है। इसलिए प्रधानमंत्री मोदी पर देशवासियों का भरोसा इतना बढ़ गया है कि अब पूरे विश्वास के साथ कहा जा रहा है कि ‘मोदी है तो मुमकिन है’। प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन भी कई कीर्तिमानों का गवाह बना है। प्रधानमंत्री मोदी आज 17 सितंबर को अपना 72वां जन्मदिन मना रहे हैं। आज इस खास मौके पर देशवासी फिर रक्तदान का रिकॉर्ड बनाकर अपने प्रिय प्रधानमंत्री को जन्मदिन का तोहफा देने जा रहे हैं। इसके लिए पूरे देश में रक्तदान शिविर लगाया गया है।  

17 सितंबर, 2022 : रिकॉर्ड रक्तदान का प्रयास 

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 72वें जन्मदिन पर रक्तदान का रिकॉर्ड बनने जा रहा है। इस खास मौके पर रक्तदान अमृत महोत्सव का शुभारंभ किया गया है। देशभर के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में इस अभियान को चलाया जा रहा है। इसके लिए मंत्रालय ने ब्लड बैंक पोर्टल की भी शुरुआत की है। इसके तहत 1.5 लाख यूनिट रक्त एकत्र करने का लक्ष्य रखा गया है। इतना ही नहीं जिस तरह कोरोना वैक्सीनेशन का रियल टाइम डेटा दिखता है। उसी तरह स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट पर आज ब्लड डोनेशन का डाटा लाइव अपडेट किया जा रहा है।

रक्तदान का रिकॉर्ड बनाने के लिए व्यापक तैयारियां

केंन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से रक्तदान का रिकॉर्ड बनाने के लिए व्यापक तैयारियां की गई हैं। यह अभियान राष्ट्रीय स्वैच्छिक रक्तदान दिवस यानी एक अक्टूबर तक जारी रहेगा। कोई भी स्वस्थ्य व्यक्ति, जिसकी उम्र 18 साल से ज्यादा हो, इस अभियान में शामिल होकर स्वैच्छा से ब्लड डोनेट कर सकता है। इसके लिए आरोग्य सेतु पोर्टल पर स्वैच्छिक रक्तदान के लिए रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। यह रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है।

ब्लड डोनेट करने वाले को पार्टिसिपेशन सर्टिफिकेट

केन्द्र सरकार द्वारा संचालित ई-रक्तकोष पोर्टल पर ब्लड बैंकों को रजिस्टर्ड कर उनका डेटा अपडेट करने के निर्देश दिए गए हैं। सभी सरकारी और प्राइवेट ब्लड बैंक में उपलब्ध ब्लड ग्रुप के अनुसार स्टॉक ई-रक्त कोष पोर्टल पर दिखेगा और आम लोग भी इस पोर्टल पर स्टॉक चेक कर सकेंगे। ब्लड डोनेट करने वाले को पार्टिसिपेशन सर्टिफिकेट दिया जाएगा। देश में सरकारी और प्राइवेट मिलाकर करीब 3900 ब्लड बैंक हैं।

आइए जानते हैं इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर भारत ने किस तरह इतिहास रचा है और रिकॉर्ड बनाकर दुनिया में अपना नाम रोशन किया है…

17 सितंबर, 2021 : रिकॉर्ड वैक्सीनेशन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 71वें जन्मदिन पर देशवासियों ने कोरोना टीका लगवाकर अपने प्रिय प्रधानमंत्री को ‘वैक्सीन रिकॉर्ड’ का तोहफा दिया। प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन पर टीका लगाने को लेकर लोगों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला, वहीं स्वास्थ्य कर्मियों ने अपनी कड़ी मेहनत से मुश्किल लक्ष्य को भी आसानी से हासिल कर लिया। इसके साथ ही एक दिन में 2.5 करोड़ टीका लगाकर पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए और पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन कर दिया। एक दिन में कभी भी न भारत में और न ही दुनिया के किसी और देश में इतनी ज्यादा संख्या में वैक्सीन दी गई।

      मोदी सरकार ने टीककारण में रचा इतिहास

       विश्व का सबसे तेज कोरोना टीकाकरण      
            समय             टीके की डोज
           हर घंटे          17 लाख
           हर मिनट          28 हजार
          प्रति सेकंड          466 

आंकड़ा- 17 सितंबर, 2021 (रात 9 बजे तक)

17 सितंबर, 2016 : पीएम मोदी के जन्मदिन पर बने 3 विश्व कीर्तिमान

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 66वें जन्मदिन के मौके पर दक्षिण गुजरात के नवसारी में दो कार्यक्रमों में तीन विश्व रिकॉर्ड बनाए गए। ये रिकॉर्ड गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में बनाए गए। इनमें से दो रिकॉर्ड प्रधानमंत्री मोदी की मौजूदगी में बनाया गया।

पहला रिकॉर्ड : प्रधानमंत्री मोदी के जन्मदिन की पूर्व संध्या पर 1002 बच्चों ने 30 सेकेंड में दीप जलाने का प्रयास किया। इनमें से 989 बच्चे निर्धारित समय में दीप जलाने में सफल रहे।

दूसरा रिकॉर्ड : 1000 दिव्यांगों ने एक ही स्थान पर व्हीलचेयर्स की मदद से व्हीलचेयर का एक बड़ा लोगो बनाया।

तीसरा रिकॉर्ड : एक ही स्थान पर 1700 बधिर लोगों को सुनने में सहायक 3400 यंत्र बांटे गए।

Leave a Reply