Home समाचार लखनऊ में हुई स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी संगठन की बैठक

लखनऊ में हुई स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी संगठन की बैठक

243
SHARE

अखिल भारतीय स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी संगठन की उत्तर प्रदेश इकाई की एक बैठक 10 अक्तूबर को लखनऊ के इंदिरानगर में हुई। आयु का शतक छू रहे अखिल भारतीय स्वतंत्रता सेनानी परिवार कल्याण महापरिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रहलाद प्रसाद प्रजापति के मुख्य आतिथ्य तथा पूर्व विधायक व संगठन की प्रदेश अध्यक्ष शशि शर्मा की अध्यक्षता में संपन्न इस बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए। बैठक में लखनऊ, गोरखपुर, हरदोई, देवरिया, कुशीनगर, बहराइच, श्रावस्ती, अंबेडकरनगर, मैनपुरी, झांसी, मुरादाबाद, आजमगढ़, सीतापुर, मिर्जापुर आदि जिलों के प्रतिनिधि मौजूद रहे।

बैठक में स्वाधीनता संग्राम सेनानियों के उत्तराधिकारी परिवारों के हितों के संरक्षण पर जहां चर्चा हुई, वहीं देश की आजादी को समर्पित महान स्वतंत्रता सेनानियों एवं वीर बलिदानियों के अंशजों-वंशजों की वर्तमान दुर्गति एवं उनकी अभाव-ग्रस्तता पर चिंता व्यक्त करते हुए उसमें सुधार लाने के उपायों पर भी चिंतन-मंथन किया गया। वर्तमान में जीवित स्वाधीनता संग्राम सेनानियों को मिल रही सम्मान पेंशन राशि पर देय महंगाई भत्ते की वर्ष 2020 से रुकी हुई राशि का भुगतान उत्तर प्रदेश शासन द्वारा यथाशीघ्र किये जाने की मांग भी बैठक में उठी।

संगठन के 98 वर्षीय राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रह्लाद प्रसाद प्रजापति के निर्देश पर बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी परिवारों के हितों से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर राज्य सरकार को एक प्रतिवेदन शीघ्र दिया जाए। बहराइच से आए प्रान्तीय महामन्त्री रमेश कुमार मिश्र के प्रस्ताव पर संगठन की प्रांतीय स्मारिका का प्रकाशन किए जाने पर भी सहमति बनी। बैठक में प्रदेश के कुछेक जिलों में राज्य सरकार द्वारा स्वाधीनता सेनानियों के उपयोगार्थ निर्मित कराए गए सेनानी भवनों की वर्तमान स्थिति पर भी चर्चा हुई। देवरिया की जिलाध्यक्ष कालिंदी पाल की इस सूचना पर सभी प्रतिनिधियों ने आश्चर्य व्यक्त किया कि स्वतंत्रता सेनानियों के लिए बनाए गए सेनानी भवन पर अराजक तत्वों द्वारा अवैध कब्जा कर लिया गया है। यह प्रसंग राज्य सरकार के संज्ञान में लाने की अपेक्षा राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. प्रजापति ने की। बैठक का समापन दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को सामूहिक श्रद्धांजलि के साथ हुआ।

Leave a Reply