Home समाचार हरियाणा के कैथल में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर पर किसानों की गुंडागर्दी, डॉक्टरों...

हरियाणा के कैथल में कोरोना वैक्सीनेशन सेंटर पर किसानों की गुंडागर्दी, डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों को लौटाया

418
SHARE

हरियाणा के कैथल में कृषि कानून विरोधी किसानों का अमानवीय चेहरा सामने आया है। उन्हें टीकाकरण अभियान से भी परेशानी है। कैथल के जाट शाइनिंग स्टार स्कूल में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए केंद्र बनाया गया था। जैसे ही शनिवार को टीकाकरण का काम शुरू हुआ, किसान यूनियन के सदस्य यहां पहुंच गए और हंगामा करने लगे। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को वहां से लौटना पड़ा।  

बताया जा रहा है कि कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम के दौरान वहां बीजेपी के स्थानीय विधायक लीलाराम आने वाले थे। लेकिन भारतीय किसान यूनियन से जुड़े कुछ लोग वहां जुट गए और फिर उन्होंने बीजेपी विधायक का विरोध शुरू कर दिया। इतना ही नहीं, बीजेपी विधायक का विरोध करते करते ये लोग गुंडागर्दी पर उतर गए। किसानों ने कहा कि सबसे पहले वैक्सीन विधायक और नेता खुद लगवाएं।   

मौके पर पुलिस कम होने के कारण स्वास्थ्यकर्मी अपना सामान समेटकर वहां से चले गए। इसके बाद जिला अस्पताल में वैक्सीन सेंटर बनाया गया। सीएमओ ओमप्रकाश ने बताया कि वैक्सीन सेंटर को शिफ्ट कर दिया गया है। इस दौरान एक घंटे के तक टीकाकरण का कार्य बाधित रहा। इसके बाद टीककरण शुरू हुआ।  

कैथल जिले में सरकारी और प्राइवेट संस्थानों के 6750 स्वास्थ्य कर्मी पंजीकृत किए गए हैं। इनमें 5 हजार 223 सरकारी और 1 हजार 527 प्राइवेट संस्थानों के स्वास्थ्यकर्मी हैं। दवाई रखने के लिए जिले में कुल 29 प्वाइंटस बनाए गए हैं।

गौरतलब है कि टीकाकारण अभियान के लिए देश में कुल 3006 वैक्सीनेशन सेंटर्स बनाए गए हैं। सबसे पहले एक करोड़ 60 लाख कर्मचारियों को टीका लगेगा जो जरूरी सेवाओं से जुड़े हैं। इनमें 51 लाख 82 हजार से ज्यादा हेल्थकेयर वर्कर्स, 4 लाख 31 हजार से ज्यादा सुरक्षाकर्मी, 1 करोड़ 3 लाख 66 हजार सोशल वर्कर्स और 1 लाख 5 हजार से ज्यादा पोस्टल सेवाओं से जुड़े कर्मचारी शामिल हैं। 

 

Leave a Reply