Home समाचार कंफ्यूज्ड मनीष तिवारी को स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का करारा जवाब,कहा- अफवाह फैलाना...

कंफ्यूज्ड मनीष तिवारी को स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन का करारा जवाब,कहा- अफवाह फैलाना छोड़ें, आंखें खोलें, फेमस डॉक्टरों की वैक्सीन लेते फोटोज देखें

170
SHARE

मोदी सरकार के देशव्यापी टीकाकरण अभियान से कांग्रेस के नेता ज्यादा परेशान दिखाई दे रहे हैं। इसलिए कांग्रेस के नेताओं ने कोरोना वैक्सीन और टीकाकरण अभियान पर सवाल उठाकर सियासत भी शुरू कर दी है। कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि फेज-3 ट्रायल के बिना ही वैक्सीन को इमरजेंसी अप्रूवल दिया गया है। वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कड़े शब्दों में मनीष तिवारी के कंफ्यूजन को दूर करने की कोशिश की है। 

मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, “टीकाकरण अभियान शुरू हो चुका है। लेकिन थोड़ा पेचीदा है। देश के पास ऐसा कोई नीतिगत फ्रेमवर्क नहीं है, जो वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल की इजाजत देता हो। फिर भी इमरजेंसी स्थिति में दो वैक्सीन के प्रतिबंधित उपयोग को मंजूरी दे दी गई। दूसरी तरफ कोवैक्सीन को बिना प्रक्रिया पूरी किए ही अप्रूवल दे दिया गया।”

इस ट्वीट के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने पलटवार किया, “मनीष तिवारी जी, कोरोन वैक्सीन के पीछे एक ठोस विज्ञान है। हमारे वैज्ञानिकों ने वैक्सीन के विकास में तेजी लाने के लिए बिजली की गति से काम किया है। इस दौरान एक भी फंक्शन को नहीं छोड़ा गया। हमारे लिए लोगों की सेफ्टी सबसे बढ़कर है।”

इसके बाद कांग्रेस नेता ने एक और ट्वीट में लिखा, “अगर वैक्सीन इतनी ही भरोसेमंद है, तो सरकार से जुड़े लोग इसकी डोज क्यों नहीं लगवा रहे?” साथ ही उन्होंने लिखा कि जिन चिंताओं को मैंने स्पष्ट किया है, वे वास्तविक हैं, काल्पनिक नहीं। यह फियर मोंगरिंग भी नहीं है। आप देखे कि नॉर्वे में क्या हो रहा है। यह एक अलग वैक्सीन हो सकती है, लेकिन वैक्सीन राष्ट्रवाद के पीछे मत छिपें।

इस ट्वीट के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने मनीष तिवारी को करारा जवाब दिया। उन्होंने फिर ट्वीट किया, “कांग्रेस और मनीष तिवारी केवल अविश्वास और अफवाहें फैलाने का शौक रखते हैं। आंखें खोलें, फेमस डॉक्टरों और सरकार के अधिकारियों की वैक्सीन लेते फोटोज देखें।”

Leave a Reply