Home समाचार ‘मन की बात’ के वीडियो को मिल रहे ‘डिसलाइक’ के पीछे कांग्रेस...

‘मन की बात’ के वीडियो को मिल रहे ‘डिसलाइक’ के पीछे कांग्रेस की साजिश, 98 प्रतिशत हिस्सा भारत से बाहर का

947
SHARE

देश में कांग्रेस की जमीन खिसक चुकी है। उसे देश में कोई भाव नहीं दे रहा है। यहां तक कि कांग्रेस के सर्वेसर्वा गांधी परिवार को पार्टी के भीतर से ही चुनौती मिल रही है। ऐसे में कांग्रेस को अब विदेशियों और देश विरोधी ताकतों का सहारा लेना पड़ रहा है। इसका खुलासा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘मन की बात’ कार्यक्रम के वीडियो को यूट्यूब पर पोस्ट किए जाने के बाद मिले ‘डिसलाइक’ से हुआ है। 

यूट्यूब पर वीडियो को ‘डिसलाइक’ करने के पीछे कांग्रेस की साजिश सामने आयी है। वीडियो को ‘डिसलाइक’ करने वाले 98 प्रतिशत लोग विदेशी है।बीजेपी के आईटी विभाग के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट किया, ‘पिछले 24 घंटे में यूट्यूब पर मन की बात वीडियो को डिसलाइक करने का संगठित प्रयास किया गया….कांग्रेस का विश्वास इतना कम है कि वह एक तरह की जीत के रूप में इसका जश्न मना रही है। हालांकि, यूट्यूब का डेटा बताता है कि डिसलाइक का महज 2 प्रतिशत हिस्सा ही भारत से है।’

अमित मालवीय ने लिखा, ‘हमेशा की तरह बाकी 98 प्रतिशत हिस्सा भारत से बाहर का है। विदेश से बॉट्स और ट्विटर एकाउंट कांग्रेस के जेइई-नीट विरोधी अभियान का निरंतर हिस्सा रहे हैं। राहुल गांधी के तुर्कीवाले बॉट्स की गतिविधि बहुत बढ़ गयी है। यह तुर्की आसक्ति क्या है, राहुल?’ प्रदेश इकाइयों और अन्य विभागों का प्रतिनिधित्व करने वाले कांग्रेस के कई हैंडल ने ‘मन की बात’ के वीडियो को ‘डिसलाइक’ करने का अभियान चलाया था।

रविवार को प्रधानमंत्री मोदी का 68वां ‘मन की बात’ संबोधन था। इस कार्यक्रम के दौरान ट्विटर पर #Mann Ki Nahi Students Ki Baat हैशटैग ट्रेंड करने लगा। दरअसल, इन दिनों स्टूडेंट्स के साथ अभिभावक और कई राजनीतिक दल JEE-NEET की परीक्षा के आयोजन का विरोध कर रहे हैं। इस विरोध की आड़ में कांग्रेस ने इस साजिश को अंजाम दिया।

 

 

Leave a Reply