Home समाचार मोदी विरोध में निचले स्तर पर गिरे यशवंत सिन्हा, पीएम मोदी को...

मोदी विरोध में निचले स्तर पर गिरे यशवंत सिन्हा, पीएम मोदी को बदनाम करने के लिए शेयर की एडिटेड तस्वीर

879
SHARE

तृणमूल कांग्रेस के मौजूदा उपाध्यक्ष यशवंत सिन्हा मोदी विरोध में इतने अंधे हो चुके हैं कि अब उन्हें गलत और सही का फर्क नजर नहीं आता है। प्रधानमंत्री मोदी को बदनाम करने के चक्कर में उन्होंने सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर अपने अंदर की कुंठा को जाहिर किया है। सिन्हा ने टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली मीराबाई चानू को सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान लगाए गए पोस्टर को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा। लेकिन कार्यक्रम में लगे पोस्टर की वास्तविक तस्वीर सामने आते ही सिन्हा का यह दांव उलटा पड़ गया। अब सोशल मीडिया पर लोग सिन्हा की जमकर खींचाई कर कर रहे हैं। 

दरअसल, यशवंत सिन्हा ने जिस पोस्टर की तस्वीर शेयर की है, उसमें चानू को भारत के लिए पदक दिलाने में मदद करने के लिए पीएम मोदी को धन्यवाद दिया गया है। सिन्हा ने प्रधानमंत्री मोदी को निशाना बनाने के लिए पोस्टर पर पीएम को धन्यवाद देने वाली लाइन पर ही फोकस किया है। उन्होंने फोटो शेयर करते हुए लिखा, “कृपया पीछे की फोटो देखिए और जो लिखा है उसे एक बार पढ़िए। मेडल मीराबाई चानू मेहनत करके लाई हैं या मोदी जी ने।” साथ ही उन्होंने कैप्शन में लिखा, ”अगर किसी को ओलंपिक पर मेरे आखिरी ट्वीट पर कोई आपत्ति है तो इस तस्वीर की पृष्ठभूमि में क्या लिखा है कृपया उसे देखें।” 

यशवंत सिन्हा का यह झूठ ज्यादा समय तक ठहर नहीं पाया। सिन्हा ने जिस कार्यक्रम की तस्वीर शेयर की थी, उस कार्यक्रम की तस्वीर को प्रेस सूचना ब्यूरो (पीआईबी) ने 27 जुलाई, 2021 को शेयर किया था। लेकिन पीआईबी की तस्वीर में स्पष्ट रूप से दिखाई दे रहा है कि पोस्टर पर ‘धन्यवाद मोदी जी’ वाली लाइन नहीं हैं।

पीआईबी ने इवेंट का एक वीडियो भी शेयर किया था, जिसमें पोस्टर साफ नजर आ रहा है।

पीआईबी के अलावा इंडिया टुडे ने भी इस खबर को कवर किया था। इंडिया टुडे द्वारा 26 जुलाई को प्रकाशित रिपोर्ट की तस्वीरों को गौर से देखा जाए तो बैकग्राउंड पोस्टर पर ‘धन्यवाद मोदी जी’ का कोई संदेश नहीं दिख रहा है। इससे स्पष्ट है कि यशवंत सिन्हा ने जानबूझकर इस फर्जी तस्वीर को शेयर किया। उन्होंने किसी प्रतिष्ठित मीडिया संस्थान से इसकी पुष्टि करने की जहमत भी नहीं उठाई। सोशल मीडिया पर जारी मोदी विरोध की अंधी दौड़ में शामिल होकर उन्होंने अपनी निम्न स्तर की मानसिकता परिचय दिया है।

सोशल मीडिया पर यशवंत सिन्हा का ट्वीट वायरल होते ही लोगों ने जमकर क्लास लगाई। लोगों का कहना है कि यशवंत सिन्हा राज्यसभा की एक सीट हासिल करने के लिए ममता बनर्जी के लिए इतनी घटिया मेहनत कर रहे हैं। कई लोगों ने सिन्हा को नसीहत देते हुए लिखा है कि कितना गिरोंगे? बहुत गिर चुके हो संभल जाओ अब तो। वहीं एक यूजर ने तंज कसते हुए लिखा कि अब यशवंत सिन्हा अपनी सही जगह पर पहुंच गए हैं।

 

Leave a Reply