Home समाचार स्टालिन के स्पीकर के विवादित बयान से मचा बवाल, कहा- अगर कैथोलिक...

स्टालिन के स्पीकर के विवादित बयान से मचा बवाल, कहा- अगर कैथोलिक क्रिश्चियन नहीं होते तो तमिलनाडु बन गया होता बिहार

348
SHARE

तमिलनाडु विधानसभा के स्पीकर एम अप्पावु के एक बयान ने देश भर में बवाल मच गया है। उनके बयान से यह भी लग रहा है कि तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन की सरकार धर्म आधारित राजनीति को बढ़ावा दे रही है। स्टालिन के कार्यकाल में ईसाई धर्म का जमकर प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। मुख्यमंत्री स्टालिन की क्षत्रछाया में तमिलनाडु विधानसभा अध्यक्ष ने इसे स्वीकार भी किया है। स्पीकर ने कहा है कि कैथोलिक ईसाई नहीं होते तो तमिलनाडु बिहार बन जाता। राज्य के विकास का श्रेय ईसाइयों को देते हुए उन्होंने कहा कि तमिलनाडु का विकास कैथोलिक मशीनरीज के कारण ही हुआ है। मुख्यमंत्री स्टालिन की पार्टी डीएमके के विधायक अप्पावु ने एक कार्यक्रम में कहा कि ईसाई समुदाय के कारण ही तमिलनाडु का विकास हो पाया। अप्पावु ने दावा किया कि कैथोलिक मिशनरीज ने ही उन्हें यहां तक पहुंचाया है। उन्होंने कैथोलिक पादरियों को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि मुख्यमंत्री जानते हैं कि यह सरकार आप लोगों से ही बनी है। अगर आप नहीं होंगे तो तमिलनाडु में कोई विकास नहीं हो पाएगा। स्पीकर अप्पावु के बयान की सोशल मीडिया पर जमकर चर्चा हो रही है। आप भी देखिए-

Leave a Reply