Home समाचार संजय राउत और देवेंद्र फडणवीस की मुलाकात से टेंशन में कांग्रेस और...

संजय राउत और देवेंद्र फडणवीस की मुलाकात से टेंशन में कांग्रेस और एनसीपी, उद्धव से मिले पवार और थोराट, निरुपम बोले- धोखा दे सकती है शिवसेना

539
SHARE

बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना सांसद संजय राउत की मुलाकात के बाद महाराष्ट्र में सियासी हलचल तेज हो गई है। इन दोनों की मुलाकात ने एनसीपी और कांग्रेस की टेंशन बढ़ा दी है। दरअसल फडणवीस और राउत की मुलाकात के ठीक एक दिन बाद एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने मुख्यमंत्री और शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे से मुलाकात की। दोनों के बीच हुई मुलाकात के बाद राजनीतिक अटकलों का दौर शुरू हो गया है।

सीएम उद्धव ठाकरे से मिले एनसीपी चीफ शरद पवार 

सूत्रों के मुताबिक एनसीपी चीफ शरद पवार ने सीएम उद्धव ठाकरे से उनके आधिकारिक आवास पर मुलाकात की और यह करीब 40 मिनट तक चली। हालांकि, दोनों नेताओं की बैठक के दौरान क्या बातचीत हुई, इसकी जानकारी नहीं मिल सकी। दोनों नेताओं के बीच चर्चा का विषय भविष्य में अनलॉक और कोविड-19 से निपटने की रणनीति बताया जा रहा है, लेकिन सूत्रों के मुताबिक फडणवीस और राउत की मुलाकात को लेकर शरद पवार ने उद्धव से जानकारी ली है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष थोराट ने की उद्धव ठाकरे से मुलाकात

इसी बीच कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और मंत्री बाला साहेब थोराट मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मिलने पहुंचे। उधर कांग्रेस नेता संजय निरुपम के बयान से लगता है कि महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार पर खतरे के बादल मंडराने लगे हैं। निरुपम ने फडणवीस और राउत की मुलाकात पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि शिवसेना कांग्रेस को कभी भी धोखा दे सकती है।

शिवसेना कांग्रेस को कभी भी धोखा दे सकती है- निरुपम

संजय निरुपम ने इस मुलाकात को राजनीतिक व्यभिचार करार देते हुए आशंका जताई है कि कांग्रेस ने अपने विचार, धर्म , व्यवहार सबकुछ छोड़कर सत्ता के लिए जिसके साथ भागीदारी की है, वह शिवसेना कांग्रेस को कभी भी धोखा दे सकती है।

कांग्रेस इस सरकार में आकर फंस गई है- निरुपम

यही नहीं कांग्रेस नेता ने ये भी कहा कि कांग्रेस इस सरकार में आकर फंस गई है। निरुपम ने कहा कि कृषि बिल का संसद के दोनों सदनों में कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध किया है, लेकिन शिवसेना चीफ और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकर ने इसका समर्थन किया।

उद्धव ठाकरे नीत महाराष्ट्र सरकार को गिराने का कोई इरादा नहीं-फडणवीस

बता दें कि शनिवार को संजय राउत और देवेंद्र फडणवीस के बीच एक होटल में मुलाकात हुई थी। यह मुलाकात करीब करीब 2 घंटे तक चली थी। इस मुलाकात के बाद बीजेपी नेता देवेन्द्र फडणवीस ने कहा था कि हमारा शिवसेना से हाथ मिलाने या फिर उद्धव ठाकरे नीत महाराष्ट्र सरकार को गिराने का कोई इरादा नहीं है। ये मुलाकात शिवसेना के मुखपत्र सामना में साक्षात्कार को लेकर की गई थी।

हमारे बीच वैचारिक मतभेद हैं लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं-राउत

मुलाकात पर संजय राउत ने कहा कि देवेंद्र फडणवीस हमारे दुश्मन नहीं हैं। हमने उनके साथ काम किया है। सामना के लिए इंटरव्यू के लिए मैंने उनसे मुलाकात की है। यह बैठक पहले से तय थी। यहां तक कि उद्धव ठाकरे को भी इस बात की जानकारी थी। उन्होंने कहा, “फडणवीस से मिलना अपराध है क्या? वह पूर्व मुख्यमंत्री हैं और अब विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं। हमारे बीच वैचारिक मतभेद हैं लेकिन हम दुश्मन नहीं हैं।”

राजनीति में कुछ भी संभव है- दरेकर

हालांकि राउत और बीजेपी की तरफ से इस मुलाकात के राजनीतिक निहितार्थ नहीं निकालने की बात कही गई है, लेकिन फडणवीस के करीबी बीजेपी नेता प्रवीण दरेकर ने यह कहकर चर्चाओं को बल दिया है कि राजनीति में कुछ भी संभव है। दरेकर गंभीर प्रकृति के नेता हैं। उनके इस बयान को भी अनदेखा नहीं किया जा सकता है। वहीं मुलाकात से पहले इसकी सूचना दोनों दलों की ओर से गुप्त रखी गई थी। 

Leave a Reply