Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीः 31 अगस्त

इतिहास के झरोखे में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदीः 31 अगस्त

369
SHARE

31 अगस्त 2014

क्योटो के तोजी और किंकाकूजी बौद्ध मंदिरों का दर्शन, स्टेम रिसर्च सेंटर का दौरा, बौद्ध एसोसिएशन के सदस्यों से मुलाकात।31 अगस्त 2015
आकाशवाणी द्वारा तैयार ‘रामचरितमानस’ के विशेष डिजिटल संस्करण को जारी किया, संयुक्त राष्ट्र आम सभा के मनोनीत अध्यक्ष Mogens Lykketoft से मुलाकात।

31 अगस्त 2016

कैबिनेट में विदेशी निवेश की नीति में बड़े बदलावों का फैसला, भाजपा के राज्यसभा के सांसदों के साथ बैठक, अमेरिका के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट जॉन कैरी से मुलाकात, AECOM के चेयरमैन और सीईओ माइकल एस बुर्क से मुलाकात, कर्नाटक के धर्मस्थल मंदिर के धर्माधिकारी डी वीरेंद्र हेगड़े से मुलाकात।

31 अगस्त 2017
स्विट्जरलैंड की राष्ट्रपति  Doris Leuthard के साथ हैदराबाद हाउस बैठक व संयुक्त प्रेस वार्ता, अतिरिक्त सचिवों एवं संयुक्त सचिवों के साथ चौथा संवाद।

31 अगस्त 2018
काठमांडू में आयोजित बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में शामिल हुए, बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में आए राष्ट्रध्यक्षों से द्विपक्षीय बैठकें, बिम्सटेक शिखर सम्मेलन के रिट्रीट में राष्ट्रध्यक्षों के साथ, नेपाल के काठमांडू, तिलगंगा में पशुपति नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की।

31 अगस्त 2020

फसलों की कटाई पर मनाए जाने वाले ओणम पर्व की देशवासियों को ट्वीट कर शुभकामनाएं दीं।

Leave a Reply