Home समाचार हम ऐसी सरकार चलाते हैं,जिसका एक ही हाईकमान होता है-जनता जनार्दन :...

हम ऐसी सरकार चलाते हैं,जिसका एक ही हाईकमान होता है-जनता जनार्दन : पीएम मोदी

417
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज झारखंड के दुमका में एक विशाल जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार आपको पूछे बगैर, आपकी अनुमति के बगैर, कोई भी कदम नहीं उठा सकती है। जनहित, जनभावना और आपकी इच्छा ही हमारे लिए सर्वोपरि है। हम ऐसी सरकार चलाते हैं जिसका कोई रिमोट कंट्रोल नहीं होता है। हम ऐसी सरकार चलाते हैं, जिसका एक ही हाईकमान होता है और हाईकमान ये हमारी जनता जनार्दन होती है, मेरे देशवासी होते हैं। संवदेनशीलता, जन समस्याओं के प्रति सजगता और उनके निराकरण के लिए ईमानदार प्रयास ही भाजपा सरकार की पहचान रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि झारखंड में उज्ज्वला योजना के तहत बड़ा काम हुआ है। यहां 33 लाख लोगों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिले हैं। इनमें आदिवासी और दलित बहनों को 12 लाख गैस के कनेक्शन मिले हैं। उन्होंने कहा किजिसे पहले कोई सोच नहीं सकता था,उसे हमने करके दिखाया है। भाजपा की सरकार का काम करने का तरीका यही है। उन्होंने कहा कि यह जनभागीदारी का ही परिणाम है, जिसके कारण पिछले 60 महीने में देशभर में 11 करोड़ से अधिक शौचालय बने। झारखंड में भी 36 लाख शौचालय तैयार हुए। पांच साल पहले झारखंड की आधी से ज्यादा आबादी खुले में शौच करने को मजबूर थी। चिंता थी कि सफलता कैसे मिलेगी? लेकिन झारखंड के आदिवासी भाइयों-बहनों ने इसे सरकारी कार्यक्रम नहीं रहने दिया और इस अभियान को अपना बनाकर आगे बढ़ाया। सरकार ने सिर्फ प्रोत्साहन दिया, बाकी काम जनता जनार्दन ने कर दिखाया। यही तो स्वराज है, यही तो सुशासन का आधार है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान मालिकों के मन मुताबिक घर तैयार किये जा रहे हैं। इस योजना के तहत पिछले चार साल में झारखंड में 10 लाख घर बने हैं, जबकि 8 लाख घरों का निर्माण कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि 2022 तक देश में एक भी व्यक्ति नहीं बचेगा, जिसके पास अपना पक्का मकान नहीं होगा। 2014 से पहले झारखंड के मुख्यमंत्री 30-35 हजार घर बनाने का दावा करते थे लेकिन पिछले सालों में झारखंड में 10 लाख घर बने हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमने हर घर जल पहुंचाने का संकल्प लिया है। पानी और सिंचाई की समस्या से हम भलीभांति अवगत हैं। इसी के तहत जल जीवन मिशन की शुरुआत की गई है। इस काम में ग्राम समितियों और जल समितियों की बड़ी भूमिका होगी। उन्होंने कहा कि आजादी के कई दशकों के बाद भी झारखंड के सिर्फ 12-15 फीसदी गांवों और कस्बों तक ही पाइपलाइन पहुंची थी। भाजपा की सरकार ने इस स्थिति को बदलने का काम किया है। पिछले 5 सालों में पाइपलाइन का दोगुना विस्तार हुआ है।

जनसभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि संसद ने नागरिकता कानून से जुड़ा एक महत्वपूर्ण बदलाव किया है। पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न के शिकार हुए हिंदू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन, बौद्ध को नागरिकता देने का फैसला किया है, लेकिन कांग्रेस और उसके साथी तूफान खड़ा कर रहे हैं, उनकी बात चलती नहीं है तो आगजनी फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके साथी नागरिकता कानून के खिलाफ आगजनी फैला रहे हैं। ये लोग कौन हैं, यह उनके कपड़ों से ही पता चल जाता है। हिंसा फैलाने वालों को देश देख रहा है और देश का विश्वास पक्का हो चला है कि पार्लियामेंट ने नागरिकता का कानून बनाकर देश को बचा लिया है। उन्होंने कहा कि मैं असम के भाइयों-बहनों का सिर झूकाकर अभिनंदन करता हूं कि इन्होंने हिंसा करने वालों को अपने से अलग कर दिया है। शांतिपूर्ण तरीके से अपनी बात बता रहे हैं। देश का मान-सम्मान बढ़े ऐसा व्यवहार असम, नार्थ ईस्ट कर रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि पहले सरकारी योजनाएं सिर्फ कागजों तक सिमट कर रह जाते थे क्योंकि सरकार और जनता के बीच बहुत बड़ी खाई थी। ये खाई राजनीति अफसरशाही, भ्रष्टाचार और असंवेदनशीलता की थी। आपका ये सेवक इस खाई को पाटने में निरंतर जुटा है और इसमें अभूतपूर्व सफलता भी मिली है। उन्होंने कहा कि  झारखंड के 20 जिले ऐसे है जहां कांग्रेस और उसके साथी दल, सालों तक शासन करने के बावजूद बुनियादी सुविधाएं तक नहीं पहुंचा पाए। ये भाजपा की ही सरकार है, जिसने झारखंड के इन 20 जिलों को पिछड़े के बजाय आकांक्षी घोषित किया और आज ये जिले विकास के रास्ते पर अग्रसर हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि झारखंड के आदिवासी बच्चों को पढ़ाई-लिखाई के लिए ज्यादा दूर तक ना जाना पड़े, इसके लिए हर ब्लॉक में एकलव्य मॉडल स्कूल बनाने का संकल्प भी भाजपा का ही है। झारखंड में IIT, AIIMS जैसे उच्च शिक्षा के इंजीनियरिंग और डॉक्टरी की पढ़ाई के संस्थान खुलें, ये काम भी भाजपा ने किया है। उन्होंने कहा कि जिस झारखंड को JMM और कांग्रेस ने पिछड़ेपन का प्रतीक बनाया। उसी झारखंड को हम बदलते भारत की नई पहचान से जोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। बीते 5 वर्षों में देश की सबसे बड़ी और करोड़ों लोगों का जीवन बदलने वाली आयुष्मान भारत जैसी कई योजनाओं की शुरुआत झारखंड से हुई है। 

प्रधानमंत्री मोदी जनसभा में उपस्थित लोगों से भारी तादाद में मतदान कर झारखंड में भाजपा की दोबारा सरकार बनाने की अपील की।

Leave a Reply