Home विपक्ष विशेष OMG !! दो ‘आतंकियों’ ने उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थक का...

OMG !! दो ‘आतंकियों’ ने उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थक का ‘सर तन से जुदा’ करके वीडियो बनाया, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भी दी धमकी, देखिए VIDEO

2746
SHARE

राजस्थान के पांच जिलों के शहरों में सांप्रदायिक हिंसा का आग अभी पूरी तरह शांत भी नहीं हो पाई थी कि कट्टरता की हदों को पार करते हुए उदयपुर में एक दर्जी का ‘सर तन से जुदा’ कर दिया। उसका कुसूर सिर्फ इतना ही था कि उसने बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नुपूर शर्मा के समर्थन में 10 दिन पहले सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी। दो हत्यारों ने न सिर्फ उसकी गला रेतकर दिनदहाड़े हत्या कर डाली, बल्कि नृशंसता से की इस हत्या का वीडियो भी बनाया है। इतना ही नहीं एक धर्म से संबंधित हत्यारों ने कत्ल के बाद सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर हत्या की जिम्मेदारी ली है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ भी अनर्गल प्रलाप करते हुए धमकी दी है।

हत्यारे दिनदहाड़े टेलर की दुकान में घुसे, तलवारों से वार कर गला काट डाला
देशभर में राजस्थान के कश्मीर के नाम से प्रसिद्ध झीलों की नगरी उदयपुर ही नहीं पूरे प्रदेश में इस तरह की घटना पहले कभी नहीं हुई। हत्यारों ने जिस निर्दयता से इस कत्ल को अंजाम दिया, वह रूह कंपा देने वाली है। उदयपुर शहर के धानमंडी थाना क्षेत्र के मालदास स्ट्रीट में दो लोगों ने नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने वाले एक शख्स का मर्डर कर दिया। हमलावर हत्यारे मंगलवार को दिनदहाड़े उसकी दुकान में घुसे और तलवार से कई वार किए और उसका गला काट दिया। वारदात से इलाके में सनसनी फैल गई। वारदात की सूचना मिलने के बाद धानमंडी और घंटाघर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और घटना का जायजा लिया। पुलिस ने शव को एमबी हॉस्पिटल की मोर्चरी में रखवा दिया।

 

दस दिन पहले डाली थी पोस्ट, कपड़े का नाप देने के बहाने दुकान में घुसे हत्यारे
हत्यारे इतने बेखौफ थे कि इस पूरे हमले का वीडियो भी उनके द्वारा बनाकर सोशल मीडिया पर डाला गया। इतना ही नहीं आरोपियों ने घटना के बाद सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर हत्या की जिम्मेदारी ली है। धानमंडी स्थित भूतमहल के पास सुप्रीम टेलर्स नाम से कन्हैयालाल तेली (40) की दुकान है। मंगलवार दोपहर करीब ढाई बजे बाइक सवार 2 बदमाश आए। कपड़े का नाप देने का बहाना बनाकर दुकान में घुसे। कन्हैयालाल उनमें से एक व्यक्ति का नाप लेने लगा। नाप लेने के बीच ही कन्हैया कुछ समझ पाते तब तक दोनों हत्यारों ने उसपर हमला बोल दिया। उन पर तलवार से तब तक हमले किए गए, जब तक कि उसने दम नहीं तोड़ दिया।

गला रेतकर वीडियो बनाया, प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ भी किया अनर्गल प्रलाप
उदयपुर में बेकसूर की हत्या के बाद निर्मम कातिलों ने सोशल मीडिया पर जो वीडियो शेयर किया है….उसमें एक हत्या बोल रहा है और दूसरा जालिम हंस रहा है…सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में वो कह रहा है…मैं मोहम्मद रियाज अख्तारी उदयपुर में जो दर्जी है, उसका सिर कलम कर दिया है। हम जी रहे भी आपके लिए और मरेंगे भी आपके लिए। ऐ नरेन्द्र मोदी…सुन लो आग तूने लगाई है और बुझाएंगे हम। इंशाअल्लाह मेरे रब से दुआ करता हूं कि ये छुरा तेरी गर्दन तक भी जरूर पहुंचेगा। अब उदयपुर वालों नारा लगाओ, गुस्ताखी नबी की एक ही सजा, सर तन से जुदा… सर तन से जुदा ।

कटारिया ने कहा हत्यारों को जल्द पकड़कर कड़ी सजा मिले, FSL टीम मौके पर पहुंची
घटना के बाद नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने भी SP को फोन कर घटना की जानकारी ली। उन्होंने निष्पक्ष जांच करते हुए आरोपियों को जल्द पकड़ने की बात कही। सूचना पर धानमंडी समेत घंटाघर और सूरजपोल थाने के पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे। पुलिस के आला अधिकारी और FSL टीम मौके पर है। टीम ने मौके से सबूत जुटाए। घटना की खबर लगते ही कलेक्टर तारा चंद मीणा, एसपी मनोज चौधरी मौके पर पहुंचे। शव फिलहाल मौके पर ही पड़ा है। परिजन हंगामा कर रहे हैं। खेरवाड़ा से पुलिस की अतिरिक्त टुकड़ियों को बुलाया गया है। शहर के 5 इलाकों में बाजार बंद कर दिए गए हैं। लोग मौके पर प्रदर्शन करने भी पहुंचे हैं।

 

धमकियां देने वालों के खिलाफ रिपोर्ट के बाद भी पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया
कन्हैयालाल गोर्वधन विलास इलाके का रहने वाला था। 10 दिन पहले उसने बीजेपी से हटाई गई नुपूर शर्मा के पक्ष में सोशल मीडिया पर पोस्ट की। इसके बाद से समुदाय विशेष के लोग उसे जान से मारने की धमकी दे रहे थे। कन्हैयालाल लगातार धमकियों से परेशान था। 6 दिनों से उसने अपनी दुकान भी नहीं खोली थी। उसने धमकियां देने वालों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने उसे थोड़े दिन संभलकर रहने को कहा, लेकिन आरोपियों की धरपकड़ में गंभीरता नहीं दिखाई।

अब शहर के आधा दर्जन इलाकों में भारी पुलिस बल तैनात किया
एसपी उदयपुर मनोज चौधरी ने कहा कि सूचना मिलते ही पुलिस को मौके पर तैनात कर दिया गया है। जो भी अपराधी हैं, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल पीड़ित परिवार से बात नहीं हुई है। नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट के बाद मिल रही धमकियों की शिकायत के सवाल पर एसपी बोले कि मृतक से जुड़े सभी रिकॉर्ड की जांच की जा रही है। कुछ आरोपियों की पहचान हुई है। दूसरी ओर कन्हैयालाल के परिवार वालों ने सरकार से 50 लाख रुपए और सरकारी नौकरी की डिमांड की है।

Leave a Reply