Home विपक्ष विशेष सीएम के पुत्र वैभव गहलोत, पूर्व उप मुख्यमंत्री पायलट और सरकार के...

सीएम के पुत्र वैभव गहलोत, पूर्व उप मुख्यमंत्री पायलट और सरकार के मंत्रियों ने कांग्रेस विधायक के भतीजे का कराया ‘बाल विवाह’, अफसर असमंजस में कैसे करें कार्रवाई ?

449
SHARE

राजस्थान बाल विवाह के लिए बदनाम है। कहने को सरकार बाल विवाह रोकने के लिए काम कर रही है। कानून बना रही है, लेकिन हकीकत ये भी है कि अलवर के तिजारा से कांग्रेस विधायक संदीप यादव के भतीजे का ‘बाल विवाह’ गहलोत सरकार के कुछ मंत्रियों और पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने मिलकर कराया। यानि ये बड़े नेता 19 साल के भतीजे की शादी में मौजूद रहे और दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद भी दिया।

आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड के आधार पर दूल्हा नाबालिग
दरअसल, विधायक संदीप यादव के भतीजे चमन यादव की शादी, फेरे से पहले ही विवादों में आ गई। भतीजे के आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड में उम्र 19 साल लिखी है, जबकि राजस्थान में विवाह के लिए लड़के का 21 साल का होना अनिवार्य है। लग्न समारोह में करीब-करीब सरकार के कई मंत्री और कई अफसर शामिल होने पहुंचे थे। विवाद के बाद विधायक ने एक पुराना हस्त लिखित जन्म प्रमाण पत्र पेश किया। जिसमें भतीजे की उम्र 21 साल है।

‘बाल विवाह’ में कई मंत्री, विधायक, पूर्व मंत्री शामिल
आधार कार्ड और भामाशाह कार्ड से सामने आया कि दूल्हे चमन यादव की उम्र केवल 19 साल 3 माह है। अब शादी को लेकर ज्यादातर नेताओं का यही कहना है कि उन्हें उम्र का पता नहीं था। इस लग्न समारोह में मंत्री, पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे व आरसीए चेयरमैन वैभव गहलोत और भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया सहित कैबिनेट मंत्री, राज्य मंत्री सहित विधायक और पूर्व विधायक काफी संख्या में आए थे।

रिकॉर्ड के अनुसार उम्र 19 साल 3 माह 20 दिन
आधार कार्ड में चमन यादव की जन्म की तारीख 8 अगस्त 2002 है। इस हिसाब से उनकी उम्र 19 साल 3 माह 20 दिन है। यह बाल विवाह की श्रेणी में आता है। शिकायत मिलने पर प्रशासन की ओर से कार्रवाई की जाती है। खास बात यह है कि चमन यादव की भामाशाह कार्ड में भी आधार कार्ड वाली जन्मतिथि ही लिखी है। भामाशाह कार्ड में एक और गलती है। चमन यादव के छोटे भाई अमन यादव की उम्र में केवल 2 महीने का अंतर है। इस आधार पर भामाशाह में गलती मानी जा सकती है, लेकिन आधार कार्ड में भी चमन की उम्र 8 अगस्त 2002 है।

शादी के कार्ड पर भी नहीं है जन्मतिथि
जब चमन के पिता वेदप्रकाश से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने कहा कि ये डॉक्यूमेंट गलत हो सकते हैं। अब प्रशासन के सामने दुविधा है। उम्र तो दस्तावेज वाली मानी जाती है। ये हो सकता है कि पुराने दस्तावेज में अलग हो। नए में अलग, लेकिन मौजूदा नवीनतम रिकॉर्ड के अनुसार चमन की उम्र 19 साल 3 माह 20 दिन ही है। बाल विवाह को रोकने के लिए शादी के कार्ड पर जन्मतिथि लिखवाने का नियम भी है, लेकिन चमन यादव के कार्ड पर जन्मतिथि नहीं लिखी है। हालांकि शादियों के कार्ड पर जन्म तिथि गिने चुने लोग ही लिखवाते हैं।

पिता के हस्तलिखित जन्म प्रमाण पत्र पर भी सवालिया निशान
असल में विधायक ने जो हस्तलिखित जन्म प्रमाण पत्र पेशकर दूल्हे की उम्र 21 साल बताई थी, वो प्रारूप ही बाद में लागू किया गया। अब इस सर्टिफिकेट पर सवाल उठने से चमन की शादी पर विवाद थमता नजर नहीं आ रहा। विधायक पर विरोधी बाल विवाह कराने का आरोप लगा रहे हैं, क्योंकि आधार और भामाशाह कार्ड में चमन की उम्र 19 साल दर्ज है। हस्तलिखित बर्थ सर्टिफिकेट पर चमन यादव की जन्म तिथि 9 नवंबर 2000 बताई गई है। यह प्रमाण पत्र 29 नवंबर 2000 को बना है, जबकि बर्थ सर्टिफिकेट का प्रारूप ही गजट नोटिफिकेशन के बाद 4 दिसम्बर 2000 से लागू हुआ था।

Leave a Reply