Home समाचार कोरोना वायरस से क्यों न डरें, डॉ. रवि मलिक ने बताई 7...

कोरोना वायरस से क्यों न डरें, डॉ. रवि मलिक ने बताई 7 वजहें

1259
SHARE

कोरोना वायरस को लेकर दुनिया भर में डर का माहौल है, लोग इस नई बीमारी को लेकर काफी परेशान हैं। लेकिन रेडिक्स हेल्थकेयर के निदेशक डॉ. रवि मलिक का कहना है कि इससे डरने की बिल्कुल जरूरत नहीं है। डॉ. रवि मलिक का साफ कहना है कि कोरोना से डरने के नहीं बल्कि उसका सामना करने और उससे फैलने से रोकने में अपना सहयोग देने की जरूरत है। डॉ. मलिक ने ऐसी 7 वजहें बताई हैं जिसके कारण कोरोना वायरस से बिल्कुल डरने की जरूरत नहीं है। आप भी देखिए-

पहली वजह
डॉ. रवि मलिक का कहना है कि कोरोना वायरस से मृत्यु दर सिर्फ 3% है। कोरोना वायरस में 97% लोग अपने आप ठीक हो जाते हैं। अगर बुजुर्ग और बीमार लोग सतर्क रहें तो उन्हें कोई डर नहीं है।

दूसरी वजह
कोरोना वायरस को लेकर मोदी सरकार सतर्क और जागरूक है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शानदार पहल करते हुए कोरोना के खिलाफ सार्क को एकजुट किया। उन्होंने पूरी दुनिया को जोड़ने की पहल की। मोदी सरकार वैज्ञानिक तरीके से काम कर रही है और सरकार की पहल और सख्ती से अब तक कोरोना वायरस काबू में है।

तीसरी वजह
कोरोना वायरस को रोकना संभव है। कोरोना को दो तरीके से रोकना संभव है। अगर आप हाथ की साफ-सफाई रखते हैं और रेस्पिरेटरी हाइजिन को मैंटेन करते हैं तो डरने की जरूरत नहीं है। अगर आप सावधानी बरतते हुए लोगों से दूरी बनाकर रख रहे हैं तो इसका रोकथाम संभव है।

चौथी वजह
डॉ. रवि मलिक का साफ कहना है महामारी पहले भी आती रही हैं। ये एकदम से आती हैं और चली जाती हैं। ये बीमारियां जितनी जल्दी आती हैं, उतनी जल्दी खत्म होती हैं। गर्मी की वजह से ये वायरस फैलते नहीं हैं।

पांचवीं वजह
डॉ. मलिक का कहना है हमें डरने की इसलिए भी जरूरत नहीं है क्योंकि वैक्सीन को लेकर शोध महत्वपूर्ण चरण में है और भारत के डॉक्टर पूरी तरह से सक्षम हैं। हम इस बीमारी पर कंट्रोल कर लेंगे।

छठी वजह
उन्होंने कहा कि इस बीमारी से लड़ने के लिए हमारे पास रिसोर्सेज की कोई कमी नहीं है। मास्क को लेकर अफरातफरी नहीं है और सेनेटाइजर्स की भी कमी नहीं है। ध्यान देने की बात है कि सबको मास्क पहनने की जरूरत नहीं है। अगर हम बार-बार साबुन से हाथ साफ करते रहे तो डरने की कोई बात नहीं है क्योंकि साबुन सबसे अच्छा सेनेटाइजर है।

सातवीं वजह
डॉ. मलिक का कहना है कि हमारे देश में मैनपावर की कोई कमी नहीं है। नर्स, डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टाफ की कोई कमी नहीं है। प्राइवेट सेक्टर भी सरकार के साथ जुटे हुए हैं। स्टार्टअप के कारण नई तकनीक का भी साथ मिल रहा है। इससे किसी को खुद को असुरक्षित महसूस करने की जरूरत नहीं है। सिर्फ साफ-सफाई का ध्यान रखिए और सतर्कता बरतिए। इससे डरने की बिल्कुल जरूरत नहीं है।

देखिए वीडियो-

Leave a Reply