Home समाचार सॉइल हेल्थ कार्ड योजना से किसान हो रहे खुशहाल, 22.18 करोड़ कार्ड...

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना से किसान हो रहे खुशहाल, 22.18 करोड़ कार्ड हुए वितरित

571
SHARE

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए कृतसंकल्प है। किसानों को फसल की लागत कम करने, उन्हें उन्नत किस्म के बीज उपलब्ध कराने और उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। 

प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में कृषि उत्पादकता बढ़ाने और उत्पादन लागत कम करने के लिए केंद्र सरकार सभी किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड उपलब्ध करा रही है। सॉयल हेल्थ कार्ड में सॉयल हेल्थ सुधार और उसकी उर्वरता बढ़ाने के लिए उपयोग किए जाने वाले पोषक तत्वों की उचित मात्रा की जानकारी के साथ खेतों की पोषण स्थिति पर किसानों को सूचना दी जाती है।

आंकड़े के मुताबिक अब तक 22.18 करोड़ सॉइल हेल्थ कार्ड किसानों के बीच वितरित कि जा चुके हैं। 2015-17 के दौरान पहले चरण में किसानों को 10.73 करोड़ सॉइल हेल्थ कार्ड और 2017-19 के दौरान दूसरे चरण में किसानों को 11.69 करोड़ सॉइल हेल्थ कार्ड वितरित किए गए। 

सॉयल हेल्थ कार्ड क्या है?

सॉयल हेल्थ कार्ड एक तरह की ​प्रिंटेड रिपोर्ट होती है, जिसे किसान के हर एक जोतों के लिए दिया जाता है। इसमें मिट्टी के 12 पैरामीटर्स जैसे NPK, सल्फर, जिंक, फेरस, कॉपर, मैगनिशियम आदि के बारे में जानकारी दी जाती है।

8.35 करोड़ किसानों को मिला लाभ 

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक 8.35 करोड़ किसानों को लाभ मिल चुका है। लोकसभा में एक सवाल के लिखित जवाब में कृषि मंत्री ने बताया कि इन किसानों के खाते में अब तक कुल मिलाकर 50 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की रकम भेजी जा चुकी है।

सालाना 6000 रुपए की मदद 

सरकार इस योजना के तहत किसानों को सालाना 6,000 रुपए की सहायता प्रदान करती है। पीएम किसान सम्मान निधि के जरिए दो हेक्टेयर तक की खेती लायक भूमि रखने वाले 12 करोड़ छोटे और सीमांत किसानों को तीन किस्तों के माध्यम से 6,000 रुपए का भुगतान होता है।

Leave a Reply