Home समाचार पीएम मोदी ने भीड़ में खड़ी मासूम लड़की की पूरी की इच्छा,...

पीएम मोदी ने भीड़ में खड़ी मासूम लड़की की पूरी की इच्छा, सुरक्षाकर्मियों को उसके पास भेजकर पेंटिंग किया स्वीकार

157
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी काफी संवेदनशील हैं। वे अपने चाहने वालों की संवेदना का हमेशा ख्याल रखते हैं। इसकी एक झलक शनिवार (19 नवंबर, 2022) को गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी का प्रचार करने पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी के रोड शो में देखने को मिली। वापी में रोड शो के दौरान सड़क पर लोगों की काफी भीड़ थी। प्रधानमंत्री मोदी ने इस भीड़ में खड़ी एक मासूम लड़की की इच्छा पूरी की। प्रधानमंत्री मोदी की दरियादिली देखकर जहां लड़की का खुशी का ठिकाना नहीं रहा, वहीं मौजूद लोगों का दिल जीत लिया। प्रधानमंत्री मोदी की संवेदनशीलता को दर्शाता यह वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

वापी में रोड शो के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत में सड़क पर लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा था। बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक अपने प्रिय प्रधानमंत्री का एक झलक पाने के लिए बेताब थे। इसी भीड़ में एक मासूम लड़की भी थी, जो अपने हाथ में एक पेंटिंग लिए खड़ी थी। वो अपना पेंटिंग प्रधानमंत्री मोदी को देने के लिए जद्दोजहद कर रही थी। वो प्रधानमंत्री को आवाज लगा रही थी, लेकिन भीड़ और बज रहे गाने और ढ़ोल के कारण उसकी आवाज प्रधानमंत्री तक नहीं पहुंच पा रही थी। ऐसे में लड़की द्वारा बार-बार आवाज लगाने पर जब उसकी आवाज प्रधानमंत्री मोदी तक नहीं पहुंची तो उसने पेंटिंग हिलाना शुरू कर दिया। 

भीड़ में पेंटिंग हिला रही लड़की पर जैसे ही प्रधानमंत्री मोदी की नजर पड़ी, उन्होंने तुरंत लड़की की तरफ इशारा करते हुए पेंटिंग लाने के लिए पास चल रहे एक सुरक्षाकर्मी से कहा। इसके बाद सुरक्षाकर्मी लड़की के पास जाता है और उससे पेंटिंग लेकर प्रधानमंत्री के काफिले के पास चला आता है। ऐसे में इस घटना पर बात करते हुए वापी की रहने वाली अमी भाटू ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनकी पेंटिंग को स्वीकार किया, इससे वह बहुत खुश है और गौरवान्वित महसूस कर रही हैं। 

प्रधानमंत्री मोदी के दिल में बच्चों के लिए विशेष स्थान है। उनके जीवन में खुशहाली लाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी लगातार कोशिश कर रहे हैं। आइए देखते हैं प्रधानमंत्री मोदी किस तरह बच्चों से मिलकर उनके साथ खुशी बांटने की कोशिश करते हैं… 

बच्चों और खासकर दिव्यांग बच्चोंं के प्रति उनका स्नेह और प्यार जग जाहिर है। जब भी मौका मिलता है वो बच्चों के पास जाकर जहां एक बच्चे में तब्दील हो जाते है, वहीं एक अभिभावक की तरह उनके सर पर हाथ फेर कर अपनापन भी दर्शाते हैं। इस दौरान बताने की कोशिश करते हें कि उनके बेहतर और सुरक्षित भविष्य के लिए दिन-रात बिना रुके और बिना थके काम कर रहे हैं। ऐसी ही एक झलक हिमाचल प्रदेश के सोलन में रोड शो के दौरान देखने को मिला, जब विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करने पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने व्‍हील चेयर पर बैठे दिव्यांग बच्‍चों को देखकर अपना काफ‍िला रुकवा दिया। 

दरअसल सोलन शहर के राजगढ़ मार्ग पर सर्कुलर चौक के पास दिव्यांग बच्चे अपने प्रिय प्रधानमंत्री के स्वागत के लिए खड़े थे। प्रधानमंत्री मोदी की नजर जैसे ही सड़क किनारे बैठे बच्‍चों पर पड़ी तो उन्‍होंने तुरंत काफिला रुकवा दिया। प्रधानमंत्री मोदी बच्‍चों को देखकर प्रोटोकॉल की परवाह नहीं करते हुए पूरे जोश के साथ गाड़ी से उतरकर उन तक पहुंचे। बच्चों ने अपने हाथों से स्वागत और धन्यवाद लिखे हुए ब्रोशर प्रधानमंत्री मोदी को भेंट किए। करीब सात मिनट तक बच्चों से बातचीत की। इस दौरान प्रधानमंत्री ने बच्चों का एक मांग पत्र भी लिया और जल्द उनकी मांग पर काम शुरू करने का आश्वासन दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने बच्चों से मिलकर खुशी जाहिर की और कहा कि आप सब बहुत बहादुर हो।

इस दौरान बच्‍चों ने अपने सबसे बड़े अभिभावक का पूरी गर्मजोशी के साथ स्‍वागत किया। प्रधानमंत्री से मिलने के बाद बच्चे काफी खुश थे। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी का स्‍वागत करने के लिए सड़क किनारे बैठे दिव्यांग बच्चे मस्‍कुलर डिस्‍ट्राेफी आफ इंडिया संस्‍था सोलन के थे। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की पत्‍नी मल्‍ल‍िका नड्डा भी इस संस्‍था से जुड़ी हुई हैं। वह इस संस्‍था की चीफ पैटर्न हैं। 

कलाकार आयुष कुंडल के कायल हुए प्रधानमंत्री मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कलाकार आयुष कुंडल की पेंटिंग देखकर उनकी प्रतिभा के कायल हो गए। प्रधानमंत्री मोदी ने 24 मार्च, 2022 को ना सिर्फ आयुष कुंडल से मुलाकात की, बल्कि ट्विटर पर उन्हें फॉलो भी किया। मध्य प्रदेश में खरगोन जिले के बड़वाह के रहने वाले इस दिव्यांग कलाकार से मिलने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आयुष कुंडल से मुलाकात करना, मेरे लिए अविस्मरणीय क्षण है।

जब मां की पेंटिंग लेने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने रुकवाई कार

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 31 मई, 2022 को एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला पहुंचे। शिमला में एक रोड शो के दौरान उनके स्वागत में खड़े लोग उस वक्त हैरान रह गए, जब प्रधानमंत्री ने सड़क किनारे एक लड़की के हाथ में अपनी मां हीराबेन की पेंटिंग देख कार रुकवा दी। प्रधानमंत्री कार से उतर उस लड़की के पास पहुंचे और पेंटिंग का गिफ्ट स्वीकार करते हुए उसके सिर पर आशीर्वाद का हाथ भी रखा। प्रधानमंत्री ने उस लड़की से नाम भी पूछा। प्रधानमंत्री के यह पूछने पर कि आप कहां रहती हो तो लड़की ने बताया कि शिमला में ही रहती हूं। यह पूछने पर कि क्‍या आपने यह पेंटिंग खुद बनाई है तो उन्होंने हां में जवाब दिया। लड़की ने यह भी कहा कि उसने प्रधानमंत्री की भी पेटिंग बनाई है, लेकिन ला नहीं सकी। इसपर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कोई बात नहीं।

देखिए वीडियो-

भीड़ के बीच में प्रधानमंत्री मोदी ने दिव्यांग युवक से हाथ मिलाकर हालचाल जाना

प्रधानमंत्री की मानवीय संवेदना गुजरात चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के दिन 14 दिसंबर, 2017 को भी दिखाई दी। पीएम मोदी मतदान करने के बाद पोलिंग बूथ से बाहर आए और लोगों का अभिवादन स्वीकार करने के लिए आगे बढ़ रहे थे। तब पोलिंग बूथ के आस-पास हजारों लोगों की भीड़ थी। भीड़ में जब प्रधानमंत्री मोदी लोगों का अभिवादन कर रहे थे। अचानक भीड़ में वह दिव्यांग युवक को देखकर रुक गए, प्रधानमंत्री मोदी ने उस दिव्यांग युवक का हाल-चाल पूछा। इससे पहले प्रधानमंत्री जब काफिले से उतरे तो उन्होंने सुरक्षा घेरा तोड़कर भीड़ में खड़े बड़े भाई सोमाभाई मोदी के पैर छुए और उनसे आशीर्वाद लिया। 

Leave a Reply