Home समाचार देश में कोरोना के 63 प्रतिशत से अधिक नए मामले सिर्फ बेस्ट...

देश में कोरोना के 63 प्रतिशत से अधिक नए मामले सिर्फ बेस्ट सीएम ठाकरे के राज्य महाराष्ट्र में, केरल और पंजाब में भी स्थिति ठीक नहीं

439
SHARE

कोरोना संकट काल में फिल्मी सितारों के बेस्ट सीएम उद्धव ठाकरे के महाराष्ट्र में कोरोना बेकाबू है। देश में कोरोना के 63 प्रतिशत से अधिक नए मामले सिर्फ महाराष्ट्र में दर्ज किए गए हैं। महाराष्ट्र के साथ पंजाब और केरल में भी स्थिति ठीक नहीं है। पिछले 24 घंटों में 26,291 नये मामले दर्ज किए गए हैं। इसमें से 63 प्रतिशत से अधिक 16,620 दैनिक नये मामले महाराष्‍ट्र में दर्ज किए गए हैं। यह दैनिक नये मामलों में अधिकतम है। इसके बाद 1,792 मामलों के साथ केरल दूसरे और 1,492 नये मामलों के साथ पंजाब तीसरे स्‍थान पर है।

देश में कोविड-19 के कुल सक्रिय मामले आज 2,19,262 तक पहुंच गए हैं, जो अब तक के कुल संक्रमित मामलों का 1.93 प्रतिशत है। तीन राज्‍यों महाराष्ट्र, केरल और पंजाब में भारत के कुल संक्रमित मामलों का 77 प्रतिशत हिस्‍सा हैं। केवल महाराष्‍ट्र में देश के कुल संक्रमित मामलों के 58 प्रतिशत से अधिक मामले पाये गये हैं।

दूसरी ओर, भारत 3 करोड़ के कुल टीकाकरण के लक्ष्‍य की ओर तेजी से बढ़ रहा है। आज 15 मार्च को सुबह 7 बजे तक देश में 5,13,065 सत्रों के जरिये 2,99,08,038 वैक्‍सीन की डोज लोगों को दिए जा चुकी है।

भारत में कुल मिलाकर 1,10,07,352 कोविड संक्रमित मरीज आज तक ठीक हुए हैं। राष्‍ट्रीय स्‍तर पर संक्रमण से मुक्‍त होने की दर 96.68 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटों में 17,455 संक्रमित मरीज ठीक हुए हैं। 6 राज्‍यों में 84.10 प्रतिशत ऐसे मामले पाए गए हैं।

पिछले 24 घंटों में कोविड से 118 लोगों की मौत हुई है। मौत के नए मामले 82.20 प्रतिशत छह राज्यों से संबंधित हैं। महाराष्ट्र में सबसे अधिक 50 मरीजों की मौत हुई। इसके बाद पिछले 24 घंटों में पंजाब में 20 और केरल में 15 मरीजों की मौत हुई है।

भारत ने 71 देशों को उपलब्ध कराया टीका

दुनियाभर के देशों को टीकों की आपूर्ति करने वाले भारत ने अब तक करीब 71 देशों को स्‍वदेश में बनी कोविड-19 टीकों की 5.86 करोड़ से अधिक खुराक उपलब्‍ध करायी हैं। इनमें से 81 लाख खुराक अनुदान सहायता के रूप 37 देशों को मुफ्त उपलब्‍ध करायी गयी हैं जबकि 1.65 करोड़ खुराक 31 देशों को कोवेक्‍स सुविधा के माध्‍यम से भेजी गयी हैं।

भारत की वैक्‍सीन मैत्री पहल के तहत बांग्‍लादेश, म्‍यांमा, नेपाल, भूटान, मालदीव, मारिशस, श्रीलंका, सेशेल्‍स, बहरीन, ओमान और अफगानिस्‍तान सहित कुछ अन्‍य देशों को अनुदान सहायता के रूप में मेड इन इंडिया कोविड-टीके सबसे पहले उपलब्‍ध कराये गये। कोवैक्‍स दुनिया के दो तिहाई से अधिक देशों का एक अनोखा वैश्‍विक सहयोग संगठन है जो कोविड टीकों की सप्‍लाई समानता के आधार पर सुनिश्चित करता है।

भारत ने 3.39 करोड़ से अधिक टीके वाणिज्यिक आधार पर दुनिया के 24 देशों को भेजे गये हैं। कई देशों को मेड इन इंडिया टीके अनुदान सहायता और कोवेक्‍स सुविधा दोनों ही तरीकों से भेजे गये हैं। कोविड 19 के टीके विभिन्‍न देशों को उपलब्‍ध कराने के लिए भारत ने वैक्‍सीन मैत्री कार्यक्रम की शुरूआत करीब डेढ महीने पहले की थी। अनेक देशों से भारत में बने कोविड टीकों की सप्‍लाई के अनुरोध प्राप्‍त होने पर सरकार ने बीस जनवरी को भूटान, मालदीव, बांग्‍लादेश, नेपाल, म्‍यांमा और सेशेल्‍स को अनुदान सहायता के अंतर्गत इन्‍हें उपलब्‍ध कराना शुरू किया।

Leave a Reply