Home समाचार मुस्लिम तुष्टिकरण में अंधा हो चुका है राकेश टिकैत, कन्हैया लाल हत्याकांड...

मुस्लिम तुष्टिकरण में अंधा हो चुका है राकेश टिकैत, कन्हैया लाल हत्याकांड में दिया शर्मनाक बयान, सोशल मीडिया पर यूजर्स ने लगाई क्लास

632
SHARE

राजस्थान के उदयपुर में हुई टेलर कन्हैया लाल की निर्मम हत्या से पूरा देश स्तब्ध है। देश में बढ़ते इस्लामिक आतंकवाद को लेकर हर कोई चिंतित नजर आ रहा है। लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं, जो मुस्लिम तुष्टिकरण में इतने अंधे हो चुके हैं कि उन्हें यह घटना मामूली लग रहा है। उनमें से एक तथाकथित भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत है, जो धर्मनिरपेक्षता के गंभीर रोग से पीड़ित हैं। यही वजह है कि कन्हैयाल लाल हत्याकांड में भी शर्मनाक बयान देने से बाज नहीं आए और बड़ी बेशर्मी से इसे छोटा मामला बता दिया।

दरअसल श्रीनगर से लौटते समय ऊधमपुर में मीडिया से बातचीत करते हुए राकेश टिकैत ने उदयपुर की घटना के लिए बीजेपी को ही जिम्मेदार बता दिया। टिकैत ने कहा कि राजस्थान हो, पंजाब हो या अन्य कोई राज्य जहां पर बीजेपी सरकार नहीं होगी वहां उदयपुर जैसी घटनाएं बढ़ेंगी। यह इतिहास उठाकर देखा जा सकता है। केंद्र में बैठे लोग सब करवाते हैं। जब तक उनका राज कायम नहीं होगा, तब तक ऐसी घटनाएं होती रहेंगी। 

जब उदयपुर की घटना में पाकिस्तान का हाथ होने के मामले में सवाल किया गया तो राकेश टिकैत पाकिस्तान का बचावा करते हुए नजर आए। उन्होंने कहा कि देश में जरा सा कुछ होने पर बीजेपी वाले पाकिस्तान का हाथ बता देते हैं। देश में संविधान, धाराएं, पुलिस, कोर्ट सब है। हत्या करने वाले के खिलाफ 302 का केस लगा कर अपना काम करें। इसमें पाकिस्तान क्या कर लेगा और यह क्या कर लेंगे। जबकि जांच में सामने आया है कि एक आरोपित 2014 में पाकिस्तान भी गया था। ऐसे में इस घटना के तार पाकिस्तान से जुड़ रहे हैं।

आज सुबह राकेश टिकैत ने उदयपुर घटना को लेकर ट्वीट किया। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘राजस्थान के उदयपुर में हुई निर्मम हत्या की भाकियू घोर निंदा करती है। लगातार घृणा, नफरत और बदले की भावना से समाज में विघटन हो रहा है। धर्मांधता की इजाजत किसी को नहीं दी जा सकती है। अमन-चैन के हर संभव प्रयास होने चाहिए।” इस ट्वीट में कहीं भी इस्लामिक आतंकवाद या मुस्लिम हत्यारों का जिक्र तक नहीं है। इससे पता चलता है कि राकेश टिकैत मुस्लिमों को खुश करने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है।

राकेश टिकैत के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स में जबरदस्त आक्रोश देखने को मिला। एक यूजर ने लिखा कि औरंगजेब के कब्र पर जाने वाले और टीवी चैनल पर राममंदिर की तस्वीर दिखाने पर आपा खोने वाले…उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या पर ज्ञान दे रहे हैं। दूसरे यूजर ने भाईचारा की याद दिलाते हुए लिखा कि कहां गया भाईचारा ? सभा मैं अल्लाहू अकबर के नारे लगाने वाले आज संवेदना प्रकट कर रहे हैं… आप समझ ते हो मुसलमान जय श्री राम के नारे लगाए गए तो भूल जाना

Leave a Reply