Home विपक्ष विशेष शिवसेना सांसद संजय राउत के परिवार को कारोबारी प्रवीण ने कई बार...

शिवसेना सांसद संजय राउत के परिवार को कारोबारी प्रवीण ने कई बार देश-विदेश की सैर कराई, करोड़ों का कराया फायदा, अब ED ने वर्षा को बुलाया, इतने पुख्ता सबूत कि जेल से बचना मुश्किल

415
SHARE

मुंबई के पात्रा चॉल घोटाले में प्रवर्तन निदेशालय ने शिवसेना के बड़बोले सांसद संजय राउत पर शिकंजा और कस दिया है। ईडी एक के बाद एक घोटाले के किरदारों को बेनकाब कर रही है। कुल आठ किरदारों में से ईडी चार को अपनी गिरफ्त में ले चुकी है। पांचवी किरदार संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को अब ईडी ने नोटिस भेजा है। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी पति-पत्नी को आमने-सामने बैठाकर भी पूछताछ कर सकते हैं। इस बीच ईडी को ऐसे कई सुबूत मिले हैं, जो साबित करते हैं कि इसमें करोड़ों का घपला हुआ है। अब तक की जांच से पता चला है कि मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवीण द्वारा अवैध रूप से प्राप्त 112 करोड़ रुपए में से 1 करोड़ 6 लाख रुपए सीधे संजय राउत और उनके परिवार को दिए गए। ईडी का दावा है कि यह राशि और अधिक हो सकती है।संजय राउत के परिवार की देश-विदेश की कई विजिट को प्रवीण ने स्पांसर किया
पात्रा चॉल के एक हजार करोड़ रुपये से ज्यादा के इस घोटाले में गिरफ्तार किए गए शिवसेना सांसद संजय राउत की कस्टडी सोमवार तक बढ़ा दी गई है। ED की ओर से अदालत में दायर रिमांड एप्लिकेशन के मुताबिक संजय के सहयोगी प्रवीण राउत ने कई बार संजय राउत के परिवार के द्वारा देश और विदेश में मनाई छुट्टियों का पूरा खर्च उठाया था। पहले से ही गिरफ्तार प्रवीण राउत को संजय राउत का ‘फ्रंटमैन’ करार दिया गया है। सरकार और पार्टी की आड़ में प्रवीण से कई आड़े-तिरछे काम संजय राउत के माध्यम से हुए हैं। अब ईडी प्रवीण और संजय राउत को आमने-सामने बैठाकर कई और राज से पर्दा उठा सकती है।

ईडी का संजय की पत्नी वर्षा राउत को भी नोटिस, प्रवीण से मिले थे दस प्लॉट
ईडी के मुताबिक रेड में कुछ ऐसे कागजात मिले हैं, जिससे पता चलता है कि संजय राउत को हर महीने में प्रवीण द्वारा एक निश्चित रकम दी जाती थी। प्रवीण ने सिर्फ संजय राउत को ही उपकृत नहीं किया, बल्कि संजय की पत्नी वर्षा राउत को भी करोड़ो का फायदा पहुंचाया है। गवाहों के बयान के आधार पर ईडी का दावा है कि वर्षा राउत के नाम पर अलीबाग में जमीन के 10 प्लॉट्स खरीदे गए और इसकी पेमेंट कैश में प्रवीण राउत की ओर से की गई। इस सारे घोटाले में वर्षा राउत की भूमिका जानने के लिए ईडी ने अब उसको भी नोटिस भेजा है। ईडी अब पति-पत्नी को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ कर सकती है।

संजय राउत के परिवार के खातों में 1 करोड़ 6 लाख कैसे आए
इससे पहले, प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) कोर्ट में सुनवाई के दौरान जज ने संजय राउत से पूछा आपको कोई दिक्कत है क्या? राउत ने कहा- जहां कस्टडी में रखा वहां वेंटिलेशन नहीं है। उन्होंने पंखे की मांग की। ED ने कोर्ट में कहा कि हमने उनको AC में रखा है, संजय राउत झूठ बोल रहे हैं। ED ने कहा कि इनके और परिवार के अकाउंट में 1 करोड़ 6 लाख कैसे आए और विदेश दौरे पर कितना खर्च किया उसकी जांच कर रहे हैं।

वर्षा राउत ने अवनी इंफ्रास्ट्रक्चर से कैसे कमाए 13.95 लाख रुपये
रिमांड कॉपी के मुताबिक, जांच में यह भी सामने आया है कि पात्रा चॉल के रीडेवलपमेंट प्रोजेक्ट के दौरान संजय राउत की पत्नी की कंपनी ‘अवनी इन्फ्रास्ट्रक्चर’ ने 2010-11 में अलीबाग के किहिम बीच पर 8 कांट्रैक्ट के तहत 10 लैंड पार्सल खरीदे। ये कॉन्ट्रैक्ट स्वप्ना पाटकर और वर्षा राउत के नाम से किए गए थे। पाटकर ने अपने बयान में कहा है कि इन जमीनों को खरीदने के बदले विक्रेताओं को नकद भुगतान किया गया था और इस नकद भुगतान का स्रोत प्रवीण राउत हैं। जब ‘अवनी इन्फ्रास्ट्रक्चर’ कंपनी बनाई गई तब संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत एक टीचर थीं और प्रवीण राउत की पत्नी माधुरी राउत उस समय गृहिणी थीं। वर्षा राउत को ‘अवनी इन्फ्रास्ट्रक्चर’ में 5625/- रुपए के निवेश के बदले 13 लाख 95 हजार 611 रुपए मिले थे।

संजय राउत को अनाप-शनाप काम के लिए प्रवीण 2 लाख रुपए प्रतिमाह देते थे
ईडी के अधिकारियों द्वारा दावा किया गया है कि प्रवीण राउत की ओर से अनाप-शनाप काम कराने की ऐवज में संजय राउत को हर महीने 2 लाख रुपए नकद मिले हैं। संजय राउत ने विक्रेताओं को अलीबाग के किहिम बीच स्थित अपनी जमीन बेचने की धमकी दी गई थी। इसके अलावा, उन्होंने ED के सामने गवाही देने वालों को भी धमकी दी है। प्रवर्तन निदेशालय द्वारा अदालत में दायर रिमांड एप्लिकेशन में यह दावा किया गया है कि संजय राउत इस घोटाले के एक्टिव कॉन्स्पिरेटर थे।

 

शिवसेना सांसद संजय राउत और पत्नी वर्षा के खिलाफ 4 पुख्ता सबूत

•ईडी के मुताबिक, साजिश रचने के दो साल बाद 2009 में प्रवीण राउत ने अपने खाते से 55 लाख वर्षा राउत के खाते में ट्रांसफर किए। इस रकम का इस्तेमाल मुंबई में एक फ्लैट खरीदने में किया गया।
•2011 में, प्रवीण की फर्म प्रथमेश डेवलपर ने संजय और उनकी पत्नी से 29.50 लाख का निवेश प्राप्त किया। एक महीने के भीतर, राउत को उनके निवेश के साथ 37.50 लाख अतिरिक्त लाभ के रूप में वापस कर दिए गए। इस पैसे का इस्तेमाल गार्डन कोर्ट में फ्लैट खरीदने में किया गया।
•गवाहों के बायन के आधार पर ED का दावा है कि वर्षा राउत के नाम पर अलीबाग में जमीन के 10 प्लॉट्स खरीदे गए और इसकी पेमेंट कैश में प्रवीण राउत की ओर से की गई।
•’अवनी इंफ्रास्ट्रक्चर’ में राउत की पत्नी वर्षा राउत ने 5,625 रुपए का निवेश किया और उन्हें 13.95 लाख मिले थे।
करोड़ों के पात्रा चॉल घोटाले से जुड़े ये आठ किरदार ईडी की रडार पर
किरदार         क्या करते हैं                        वर्तमान स्थिति
प्रवीण राउत     GACPL के एक डायरेक्टर     ईडी की गिरफ्त में।
संजय राउत     सांसद और प्रवीण के करीबी    ईडी की गिरफ्त में।
राकेश वधावन   HDIL के पूर्व प्रमोटर            ईडी की गिरफ्त में।
सारंग वधावन    राकेश का बेटा है सारंग          ईडी की गिरफ्त में।
माधुरी राउत     प्रवीण राउत की पत्नी             ईडी पूछताछ कर चुकी है
वर्षा राउत       संजय की पत्नी                   ईडी ने पूछताछ को बुलाया
सुजीत पाटकर  संजय राउत के करीबी          पात्रा चॉल घोटाले के गवाह
स्वप्ना पाटकर    सुजीत की पत्नी और गवाह      संजय पर धमकाने के केस दर्ज कराया

 

Leave a Reply