Home समाचार ‘नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति’… राहुल गांधी के दौरे से पहले सिख समुदाय...

‘नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति’… राहुल गांधी के दौरे से पहले सिख समुदाय ने लखनऊ में लगाया पोस्टर,1984 दंगों की दिलाई याद

728
SHARE

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में कांग्रेस और विपक्षी दलों की सियासत जारी है। हिंसा में पीड़ित परिवारों से मुलाकात करने के लिए राहुल गांधी यूपी दौरे पर आने वाले है। वहीं कांग्रेस का अतीत उसका पीछा नहीं छोड़ रहा है। राहुल गांधी के लखनऊ दौरे का विरोध शुरू हो गया है। उनके दौरे से पहले सिख समुदाय ने लखनऊ में जगह-जगह पोस्टर लगाकर अपना आक्रोश जताया है। साबेह श्री गोविंद सिंह सेवा समिति के अध्यक्ष सरदार त्रिलोचन सिंह ने पोस्टर लगाकर राहुल गांधी को 1984 दंगों की याद दिलाई है।

लखनऊ में एक पोस्टर गुरुनानक वाटिका कमिटी, आलमबाग के अध्यक्ष रविंद्र पाल सिंह की ओर से लगाया गया है। इसमें लिखा है, ‘नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति, जिन लोगों ने 1984 का कत्लेआम किया, उनका साथ नहीं चाहिए, हम न्याय की लड़ाई लड़ रहे हैं, दंगाइयों का साथ नहीं चाहिए।’

इसी तरह का एक और पोस्टर लखनऊ के पटेल नगर स्थित गुरुद्वारा गुरु सिंह सभा के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बग्गा की ओर से लगाया गया है। इस पोस्ट में लिखा है, “राहुल गांधी वापस जाओ, प्रियंका गांधी वापस जाओ, सिखों के कातिल वापस जाओ, नहीं चाहिए तुम्हारा साथ…।”

उधर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राहुल गांधी के नेतृत्व वाले कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल को लखीमपुर खीरी का दौरा करने की इजाजत देने से इनकार कर दिया है। घटना के बाद 3 अक्‍टूबर से ही यहां पर धारा 144 लागू है। इससे पहले कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने राज्‍य सरकार से कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल को क्षेत्र का दौरा करने की इजाजत मांगी थी।

Leave a Reply