Home समाचार विश्व पर्यावरण दिवस पर बोले पीएम मोदी- पर्यावरण संरक्षण के साथ विकास...

विश्व पर्यावरण दिवस पर बोले पीएम मोदी- पर्यावरण संरक्षण के साथ विकास को गति देने के लिए कई परियोजनाओं पर काम जारी

221
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संबोधित किया। उन्होंने पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय तथा पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की ओर से संयुक्त रूप से आयोजित पर्यावरण दिवस कार्यक्रम को संबोधित किया। इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि देश पर्यावरण संरक्षण के साथ विकास की गति को तीव्रतर बनाने के लिए कई परियोजनाओं पर काम कर रहा है।

पीएम मोदी ने इथेनॉल और बायोगैस के इस्तेमाल को लेकर महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश और गुजरात के किसानों के साथ भी बातचीत की। उन्होंने किसानों से मिट्टी की उत्पादकता बनाए रखने के लिए ऑर्गेनिक फार्मिंग करने का आह्वान किया। पीएम मोदी ने कहा कि किसानों को धरती माता को बचाने के लिए विविध खेती पर ध्यान देना चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि इथेनॉल से न सिर्फ पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा मिला है, बल्कि इससे किसानों को भी लाभ मिला है। पीएम मोदी ने किसानों से कृषि उद्देश्यों के लिए सोलर ऊर्जा का इस्तेमाल का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि स्वच्छ ऊर्जा के लिए व्यापक अभियान से भारत का कृषि क्षेत्र लाभान्वित हो रहा है। पीएम मोदी ने इस मौके पर “भारत में 2020-2025 में इथेनॉल मिश्रण के लिए रोडमैप पर विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट” भी जारी की।

पीएम मोदी ने कहा, “अब इथेनॉल 21वीं सदी के भारत की प्रमुख प्राथमिकताओं में से एक बन गया है। इथेनॉल पर फोकस का पर्यावरण के साथ-साथ किसानों के जीवन पर भी बेहतर प्रभाव पड़ रहा है। आज हमने 2025 तक पेट्रोल में 20 फीसदी इथेनॉल मिश्रण के लक्ष्य को पूरा करने का संकल्प लिया है। पेट्रोल में इथेनॉल मिश्रण 2014 में 1-1.5 प्रतिशत से बढ़कर 8.5 प्रतिशत हो गया। इथेनॉल की खरीद 38 करोड़ लीटर से बढ़कर 320 करोड़ लीटर हो गई है।“

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि जलवायु की रक्षा के लिए पर्यावरण की रक्षा के लिए प्रयासों को संगठित करना बहुत जरूरी है। जब देश का प्रत्येक नागरिक जल, वायु और भूमि का संतुलन बनाए रखने के लिए संयुक्त प्रयास करेगा, तभी हम अपनी आने वाली पीढ़ियों को एक सुरक्षित वातावरण दे पाएंगे।

इस वर्ष की थीम ‘बेहतर पर्यावरण के लिए बॉयोफ्यूल का प्रसार’ रखी गई है। वातावरण की सुरक्षा के लिए विश्वभर में लोगों को कुछ सकारात्मक गतिविधियां के लिए प्रोत्साहित और जागरूक करने के लिए यह दिन संयुक्त राष्ट्र के लिए सबसे महत्वपूर्ण दिन है। अब, यह 100 से भी अधिक देशों में लोगों तक पहुंचने के लिए बड़ा वैश्विक मंच बन गया है।

Leave a Reply