Home समाचार देखिए कांग्रेस, AAP और सपा के नेताओं की बदजुबानी, टीवी डिबेट में...

देखिए कांग्रेस, AAP और सपा के नेताओं की बदजुबानी, टीवी डिबेट में अपनी पार्टी की कमियों पर पर्दा डालने के लिए करते हैं गाली-गलौज

587
SHARE

कहा जाता है जब तर्क और दलील खत्म हो जाता है, तो इंसान कुतर्क, गाली-गलौज और धमकी पर उतर आता है। टीवी न्यूज चैनलों पर बहस के दौरान जब कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और समाजवादी पार्टी के नेताओं और प्रवक्ताओं के पास तर्क खत्म हो जाते हैं, तो वे सामने वाले को अपमानित करने लगते हैं। वे कुतर्कों के द्वारा हावी होने की कोशिश करते हैं, क्योंकि वे अपनी कमियों पर पर्दा डालने और आलाकमान को खुश करने के लिए मर्यादा की सारी हदें पार कर जाते हैं। एक ट्विटर यूजर @moronhumour ने अपने अकाउंट से ऐसे उदाहरणों का उल्लेख किया है, जब कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने अपने विरोधियों के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग किया।

कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत की बदजुबानी

पिछले हफ्ते कांग्रेस के प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने आज तक न्यूज चैनल पर एक लाइव बहस में असभ्य भाषा का प्रयोग किया था। उन्होंने बीजेपी नेता संबित पात्रा को ‘नाली का कीड़ा’ कहा था। मालूम हो कि श्रीनेत कभी NDTV की पत्रकार रह चुकी हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक की बदजुबानी

आज तक पर एक डिबेट के दौरान कांग्रेस प्रवक्ता रागिनी नायक ने बीजेपी के गौरव भाटिया को सड़क छाप, तोतला, थाली के बैगन, तूझे जूते पड़ेंगे और बदतमीज कहा। दरअसल, उन्होंने (रागिनी) ने इस तरह की अपमानजनक भाषा से डिबेट की शुरुआत इसलिए की, क्योंकि उनके पास बीजेपी प्रवक्ता का मुकाबला करने के लिए वाजिब तर्क नहीं थे। इससे पहले साल 2018 में, रागिनी ने इंडिया टीवी पर एक न्यूज़ शो के दौरान गौरव भाटिया को कहा था, “तेरा बाप चोर है।”

कांग्रेस नेता अलका लांबा की बदजुबानी

एक अन्य कांग्रेस नेता जो टीवी डिबेट में असभ्य भाषा का प्रयोग करने के लिए जानी जाती हैं, वह अलका लांबा हैं। अलका पहले आम आदमी पार्टी (AAP) की सदस्य थीं। अलका ने इस साल की शुरुआत में भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया का अपमान किया था। उन्होंने इंडिया टीवी पर एक डिबेट में कहा था, “बदतमीज इनका बाप होगा, बदतमीज इनकी माँ होगी।”

इसके अलावा जब अलका को अपने विरोधियों का खंडन करने के लिए कोई तर्क नहीं मिलता है, तो वह विरोधियों का मजाक उड़ाने की कोशिश करती हैं। उनके नामों का मजाक उड़ाती है, संभवत: उन्हें उकसाने के लिए। न्यूज 18 पर एक बहस के दौरान, लांबा ने बीजेपीी प्रवक्ता गुरु प्रकाश पासवान का मजाक उड़ाते हुए कहा था, “गुरु प्रकाश में नहीं, गुरु अंधकार में है।”

कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा की बदजुबानी

कांग्रेस प्रवक्ता आलोक शर्मा को तो सभी जानते हैं। इन्होंने एक बार न्यूज 24 चैनल पर लाइव डिबेट के दौरान बीजेपी नेता पर गिलास में भरा पानी फेंक दिया था।

कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा की बदजुबानी

कांग्रेस के प्रवक्ता पवन खेड़ा ने एक बार इंडिया टीवी पर डिबेट के दौरान पीएम नरेन्द्र मोदी पर आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए MODI का फुल फॉर्म मसूद अजहर, ओसामा, दाऊद और आईएसआई बताया था।

कांग्रेस प्रवक्ता सुजाता पॉल की बदजुबानी

रिपब्लिक टीवी पर एक डिबेट शो में कांग्रेस की सुजाता पॉल ने संबित पात्रा को ‘दया पात्रा’ जैसे नामों से बुलाना शुरू कर दिया, ताकि उन्हें अपनी बात कहने का मौका ना मिल सके।

कांग्रेस नेता संजय निरुपम की बदजुबानी

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (उस समय बीजेपी नेता) के खिलाफ सेक्सिस्ट और अपमानजनक टिप्पणी की थी।। उन्होंने 2012 में एक बहस के दौरान कहा का था कि कल तक तो आप टीवी पर ठुमके लगा रही थीं और आज चुनावी विश्लेषक बन गईं।

कांग्रेस नेता अखिलेश प्रताप सिंह की बदजुबानी

जब अयोग्य लोगों के पास अपना बचाव करने के लिए कोई तर्क नहीं होता है, तब कांग्रेस प्रवक्ता टीवी एंकरों को धमकाते हैं। कांग्रेस के अखिलेश प्रताप सिंह ने दो वरिष्ठ एंकर दिवंगत रोहित सरदाना और मानक गुप्ता को धमकी दी थी कि वे अपनी नौकरी को बचाने के लिए लाइन में लग जाएं।

AAP नेता रहे एमसी अब्बास की बदजुबानी

एमसी अब्बास, जो कभी ‘आप’ के टिकट पर विधायक चुनाव लड़े थे, वह अब ‘स्वतंत्र राजनीतिक विश्लेषक’ के रूप में जाने जाते हैं। उन्होंने एक बार रिपब्लिक टीवी पर बहस के दौरान भाजपा की नूपुर शर्मा को दादी माँ, आंटी, एकता कपूर, वैंप कहकर परेशान करना शुरू कर दिया था।

‘आप’ विधायक सोमनाथ भारती की बदजुबानी

‘आप’ नेता सोमनाथ भारती ने भी टीवी चैनल पर अपमानजनक भाषा का प्रयोग किया था। उन्होंने एक बार सुदर्शन टीवी की एक महिला एंकर को गलियाँ दी थीं। उन्होंने कहा था, “भड़वागिरी बंद करो, धंधे पर बैठ जाओ।”

सपा नेता अनुराग भदौरिया की बदजुबानी

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता न केवल गलियाँ देने के लिए, बल्कि भाजपा प्रवक्ताओं पर हमले करने के लिए भी मशहूर हैं। समाजवादी पार्टी के अनुराग भदौरिया ने एक बार बीजेपी के गौरव भाटिया को इंडिया टीवी के स्टूडियो में धक्का दिया था।

Leave a Reply