Home समाचार सत्ता के लिए कुछ भी करेगा, भ्रष्टाचार के सामने नतमस्तक नीतीश कुमार

सत्ता के लिए कुछ भी करेगा, भ्रष्टाचार के सामने नतमस्तक नीतीश कुमार

403
SHARE

नीतीश कुमार ने बिहार की जनता से भ्रष्टाचार और जंगलराज से मुक्ति दिलाने का वादा किया था। जनता ने नीतीश कुमार पर भरोसा किया, लेकिन उन्होंने सत्ता की लालच में उस भरोसे को तोड़ दिया है। जिस चारा घोटाले के दोषियों के खिलाफ उन्होंने लड़ाई लड़ी और जनता ने भी उनका भरपूर साथ दिया, उन्हीं के सामने नीतीश कुमार नतमस्तक हो गए। बिहार को लूटने वाले अब उनके हमराज बन गए हैं। आज नीतीश कुमार भ्रष्टाचार के पर्याय बन चुके लालू परिवार और नेहरू-गांधी परिवार के दास के रूप में नजर आ रहे हैं। 

यह तस्वीर नीतीश कुमार की ईमानदारी, विश्वसनीयता, प्रतिबद्धता और विकास शब्द को चिढ़ाते नजर आ रही है। यह तस्वीर नीतीश कुमार के सियासी और नैतिक पतन का दर्शाती है। इस तस्वीर से साबित होता है कि उनके लिए सबसे बड़ा इमान कुर्सी है। वे अपनी कुर्सी बनाये रखने के लिए किसी भी हद तक गिरने को तैयार है। जिस तरह नीतीश कुमार राबड़ी देवी के सामने नतमस्तक हुए, उससे लगता है कि वो अब आरजेडी के सामने खुद को समर्पित कर चुके हैं। वो अपनी पिछली गलतियों के लिए क्षमा मांग रहे हैं।

सोशल मीडिया पर लोगों का कहना है कि लालू प्रसाद यादव के बीमार पड़ने पर नीतीश कुमार उनके परिवार के संरक्षक के रूप में काम कर रहे हैं। उनके भ्रष्टाचार के मामलों पर पर्दा डालने और उनके दो बेरोजगार बेटों को रोजगार देने का काम कर रहे हैं। 

Leave a Reply