Home समाचार लखीमपुर खीरी हिंसा : फिर झूठी खबर फैलाते पकड़े गए कांग्रेस और...

लखीमपुर खीरी हिंसा : फिर झूठी खबर फैलाते पकड़े गए कांग्रेस और उसके सरपरस्त, जानिए वायरल वीडियो का सच

931
SHARE

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में झूठ की फैक्ट्री कांग्रेस से फर्जी खबरों का उत्पादन शुरू हो गया है। कांग्रेस और उसके सरपरस्तों ने फिर झूठी खबरें फैलाने की कोशिश की हैं। लेकिन उनके झूठ का पर्दाफाश होने से उनकी कोशिशें फिर नाकाम हो गई हैं। दरअसल सोशल मीडिया में एक वीडियो वायरल कर दावा किया जा रहा है कि जिस समय एक जीप किसानोंं को रौंदते हुए आगे बढ़ रही थी, उस समय केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा गाड़ी से निकलकर भागते नजर आए। इस 2 सेकंड के वीडियो के आधार पर कांग्रेस और उसके सरपरस्त अब आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

कांग्रेस के सचिव और उत्तर प्रदेश में पार्टी के इंचार्ज तौकीर आलम ने वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, “मंत्री जी अगर आपका बेटा वहां नहीं था, तो ये जो गाड़ी से भाग रहा है, वह कौन है? अजय मिश्रा। तेरी झूठ पकड़ी गयी। मोदी, लखीमपुर आओ। मोदी, अजय मिश्रा का इस्तीफा लो।”

कांग्रेस समर्थक पत्रकार आदेश रावल ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, “और भी सबूत चाहिए?”

अक्सर सोशल मीडिया पर बीजेपी और उसकी सरकार के खिलाफ प्रोपेगैंडा फैलाने वाले सेवानिवृत्त IAS सूर्य प्रताप सिंह ने भी इस वीडियो को आगे बढ़ाया। उन्होंने लिखा, “देखो, वो भागा जा रहा है। नया वीडियो।”

क्या वायरल वीडियो में दिख रहा शख्स आशीष मिश्रा है?

वायरल हो रहे वीडियो और उसके दावे की जांच की गई, तो जो सच्चाई सामने आई, उससे कांग्रेस और उसके सरपस्तों के चेहरे फिर बेनकाब हो गए।। नवभारत टाइम्स की पड़ताल में पाया गया कि जिस व्यक्ति को आशीष मिश्रा बताया जा रहा है, वो वास्तव में कोई और है।  जीप से उतरकर भागता दिख रहा शख्स आशीष मिश्रा नहीं है। यह बताने के लिए भाग रहे शख्स और आशीष मिश्रा की कद काठी की तुलना की गई है। आशीष का कद सामान्य है और थोड़े मोटे हैं, जबकि वीडियो में भागते दिख रहे शख्स की लंबाई करीब 5 फीट 10 इंच है और इकहरा बदन है।

वीडियो में भागते दिख रहे शख्स का नाम सुमित जायसवाल

सच्चाई यह है कि वीडियो में जीप से उतरकर भागते दिख रहे शख्स का नाम आशीष मिश्रा नहीं, बल्कि सुमित जायसवाल है। स्थानीय लोगों ने भी इसकी पुष्टि की है। सुमित स्थानीय बीजेपी कार्यकर्ता हैं और नगर पालिका परिषद लखीमपुर में शिवपुरी वॉर्ड से सभासद हैं। सुमित केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्रा के बेहद करीबी हैं और कई कार्यक्रमों में उनके साथ देखे जा सकते हैं। घटना के दिन सुमित भी बनबीरपुर में आयोजित कार्यक्रम में गए थे। सुमिय जायसवाल ने ही प्रदर्शनकारियों के खिलाफ एफआईआर करवाई है। सुमित की तहरीर पर 10-15 अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या, आपराधिक साजिश और बलवा सहित कई धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई है।

Leave a Reply