Home समाचार मुंबई से बदतर दिल्ली के हालात, सोशल मीडिया पर उठी मौलानाओं और...

मुंबई से बदतर दिल्ली के हालात, सोशल मीडिया पर उठी मौलानाओं और वक्फ बोर्ड वेतन को कोरोना फंड में डायवर्ट करेने की मांग

3254
SHARE

अरविंद केजरीवाल सरकार की लापरवाही के कारण दिल्ली कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित शहर बन गया है। दिल्ली में बुधवार को अब तक के सबसे ज्यादा मामले दर्ज किए गए। यहां एक दिन में 17,282 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही दिल्ली ने कोरोना के नए मामलों में मुंबई को पीछे छोड़ दिया। आंकड़ों के अनुसार मुंबई में 4 अप्रैल को एक दिन में सबसे ज्यादा 11,163 नए मामले दर्ज किए गए थे, इसी दिन पुणे में 12,494 मामले दर्ज किए गए। लेकिन विज्ञापनों में बड़े-बड़े दावे करने वाले अरविंद केजरीवाल के दिल्ली ने बुधवार को 17,282 नए मामलों के साथ देश के सभी प्रमुख शहरों को पछाड़ दिया। इसके साथ ही दिल्ली में संक्रमण दर 20.22 प्रतिशत हो गई है। अब दिल्ली में हालात बद से बदतर हो गए हैं। ऐसे में सोशल मीडिया पर यूजर्स आम आदमी पार्टी की सरकार से तुष्टिकरण की राजनीति छोड़ समस्या पर ध्यान देने की मांग कर रहे हैं। यूजर्स मांग कर रहे हैं कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल मौलानाओं और वक्फ बोर्ड के वेतन के फंड को कोरोना से लड़ने के लिए डायवर्ट करें। धार्मिक गतिविधियों की तुलना में लोगों का जीवन अधिक महत्वपूर्ण है।

Leave a Reply