Home समाचार ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने पूरी की 200 यात्राएं, दिल्ली को सबसे ज्यादा 3915...

ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने पूरी की 200 यात्राएं, दिल्ली को सबसे ज्यादा 3915 एमटी लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति

377
SHARE

कोरोना महामारी की वजह से अस्पतालों में ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई है। अस्पतालों में ऑक्सीजन की किल्लत दूर करने के लिए मोदी सरकार युद्ध स्तर पर काम कर रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए लगातार हालात की समीक्षा कर रहे हैं और जरूरी निर्देश दे रहे हैं। इसी बीच भारतीय रेलवे भगवान हनुमान की भूमिका निभा रहा है। कोरोना मरीजों की सांसें चलती रहे, इसके लिए ट्रेनें दिन-रात पटरी पर दौड़ लगाकर ऑक्सीजन मुहैया करा रही हैं। रेल मंत्रालय ने पूरे देश में ऑक्सीजन के फेरों की जानकारी दी है। इसके मुताबिक मिशन मोड में 200 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ने अपनी यात्रा पूरी की है और 12630 एमटी तरल मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचाई है।

भारतीय रेलवे के अनुसार, लगभग 200 ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेनों ने अब तक अपनी यात्राएं पूरी की हैं और विभिन्न राज्यों को सहायता पहुंचाई है। ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा देश में 775 से अधिक टैंकरों के माध्यम से 12630 एमटी तरल मेडिकल ऑक्सीजन पहुंचाई गई। इस समय तक 45 टैंकरों में 784 एमटी तरल मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) से भरी 10 ऑक्सीजन एक्सप्रेस गाड़ियां चल रही हैं। ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब रोजाना 800 एमटी से अधिक एलएमओ देश में पहुंचाई जा रही है।

रेलवे ने ऑक्सीजन का अनुरोध करने वाले राज्यों को कम से कम समय में अधिक से अधिक ऑक्सीजन पहुंचाने का प्रयास किया है। दिल्ली को सबसे ज्यादा 3915 एमटी लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई। दूसरे नंबर पर उत्तर प्रदेश में 3189 एमटी ऑक्सीजन की आपूर्ति की गई। इसके अलावा हरियाणा, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, महाराष्ट्र आदि राज्यों में भी सप्लाई की गई। भारतीय रेल देश के विभिन्न राज्यों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (एलएमओ) पहुंचाना जारी रखे हुए है।

13 राज्यों को ऑक्सीजन सहायता

राज्य/केंद्र शासित प्रदेश  ऑक्सीजन
दिल्ली 3915 एमटी
उत्तर प्रदेश  3189 एमटी
हरियाणा  1549 एमटी
तेलंगाना  772 एमटी
कर्नाटक  641 एमटी
तमिलनाडु  584 एमटी
महाराष्ट्र  521 एमटी
मध्य प्रदेश  521 एमटी
उत्तराखंड 320 एमटी
आंध्र प्रदेश  292 एमटी
केरल  118 एमटी
पंजाब 
111 एमटी
राजस्थान 
98 एमटी

 

Leave a Reply