Home समाचार पंजाब में पीएम मोदी के अच्छे स्वास्थ्य के लिए अरदास करना बना...

पंजाब में पीएम मोदी के अच्छे स्वास्थ्य के लिए अरदास करना बना अपराध, पुलिस ने महिला सरपंच के पति को किया गिरफ्तार

944
SHARE

कांग्रेस शासित राज्यों में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सेहत की सलामती के लिए दुआ करना भी अपराध बन गया है। पंजाब के बठिंडा स्थित बीड़ तालाब गांव की महिला सरपंच राजपाल कौर के पति गुरमेल सिंह खालसा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उनका गुनाह बस इतना था कि उन्होंने गुरुद्वारा साहिब में प्रधानमंत्री मोदी की तंदुरुस्ती और डेरा प्रमुख की रिहाई के लिए अरदास की थी। इस बीच राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने संज्ञान लेते हुए इस घटना की जानकारी तलब की है।     

दरअसल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़कर सरपंच बनी राजपाल कौर के पति गुरमेल सिंह ने अरदास में भारतीय जनता पार्टी द्वारा अनुसूचित जाति के किसी व्यक्ति को मुख्यमंत्री बनाने के ऐलान का स्वागत किया। दलित समुदाय से मुख्यमंत्री चेहरे का ऐलान करने के लिए गुरमेल सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी की सराहना की और उनकी लंबी उम्र की भी कामना की। 

गुरमेल सिंह ने अरदास में एक परिवार द्वारा गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी कराने व उसका इंसाफ न मिल पाने का भी जिक्र किया। उन्होंंने कहा कि दो परिवार पंजाब को लूट रहे हैं, इसलिए किसी अनुसूचित जाति के व्यक्ति के सिर पर हाथ रखकर उसको मुख्यमंत्री बनाया जाए। साथ ही कहा कि छठे जामे में जैसे 52 राजाओं को रिहा कराया था, ठीक उसी तरह डेरा प्रमुख को भी रिहा कराएं।

गुरमेल सिंह की गिरफ्तारी पर राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के चेयरमैन विजय सांपला ने पंजाब के डीजीपी व मुख्य सचिव से जवाब मांगा है। वहीं, बीजेपी नेता सुखपाल सरां ने कहा कि गुरमेल सिंह ने गुरुद्वारा साहिब में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा पंजाब में दलित मुख्यमंत्री बनाने के ऐलान व उनकी तंदरुस्ती के लिए अरदास की है। इसी कारण उन पर केस दर्ज किया गया है, जिसे तुरंत रद्द किया जाए।

बठिंडा के एसएसपी भूपिंदरजीत सिंह विर्क के मुताबिक अरदास की खबर फैलने के बाद गांव में माहौल तनावपूर्ण हो गया। एडवोकेट हरपाल सिंह खारा की शिकायत पर आरोपित गुरमेल सिंह खालसा पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने की धाराओं के तहत केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Leave a Reply