Home समाचार कांग्रेसी सांसदों ने लोकसभा स्पीकर पर फेंका पर्चा, संसद से निलंबन की...

कांग्रेसी सांसदों ने लोकसभा स्पीकर पर फेंका पर्चा, संसद से निलंबन की मिली सजा

943
SHARE

लोकसभा में हंगामा करने वाले सात कांग्रेसी सांसदों के खिलाफ स्पीकर ओम बिरला ने सख्त कार्रवाई करते हुए उन्हें पूरे बजट सत्र के लिए निलंबित कर दिया है। इन कांग्रेसी सांसदों को स्पीकर पर पेपर फेंकने और सदन का अपमान करने के मामले में पूरे सत्र से निलंबित किया गया है।

संसद की शुरुआत से ही विपक्षी नेता कर रहे हैं हंगामा

कांग्रेस के सात सांसदों गौरव गोगोई, टी एन प्रतापन, डीन कुरियाकोस, राजमोहन उन्नीथन, बैनी बहनान, मणिकम टेगोर और गुरजीत सिंह औजला को पूरे बजट सत्र के लिए सस्पेंड कर दिया गया है। संसद की शुरुआत के दिन से ही विपक्ष के लोग जम कर हंगामा कर रहे हैं। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने ने कमरे में की एक बैठक के बाद इन सात सांसदों को संसद सत्र से बाहर करने का निर्णय लिया।

संसदीय इतिहास में ऐसा आचरण पहली बार हुआ

पीठासीन सभापति ने मीनाक्षी लेखी ने कहा, ”जिन माननीय सदस्यों को निलंबित किया गया है वे तुरंत बाहर चले जाएं। इससे पहले पीठासीन सभापति लेखी ने दोपहर तीन बजे सदन की कार्यवाही शुरू होने पर कहा कि आज दोपहर सदन में चर्चा के दौरान कुछ सदस्यों ने सभा की कार्यवाही से संबंधित आवश्यक कागज अध्यक्षीय पीठ से बलपूर्वक छीन लिये और उछाले गये।

संसदीय इतिहास में ऐसा दुर्भाग्यपूर्ण आचरण संभवत: पहली बार हुआ है जब अध्यक्ष पीठ से कार्यवाही से संबंधित पत्र छीने गये। मैं इस आचरण की घोर निंदा करती हूं। उन्होंने संसदीय प्रक्रिया नियमों के नियम 374 के तहत उक्त सदस्यों को नामित किया।

ध्वनिमत से पारित हुआ प्रस्ताव

पीठासीन सभापति मीनाक्षी लेखी ने कहा कि कांग्रेस सदस्यों द्वारा अध्यक्षीय पीठ से बलपूर्वक कागज छीनेने और उछालने का ऐसा दुर्भाग्यपूर्ण आचरण संसदीय इतिहास में संभवत: पहली बार हुआ है।

संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कांग्रेस सदस्यों गौरव गोगोई, टीएन प्रतापन, डीन कुरियाकोस, राजमोहन उन्नीथन, बैनी बहनान, मणिकम टेगोर और गुरजीत सिंह औजला को निलंबित करने संबंधी प्रस्ताव पेश किया जिसे सदन ने ध्वनिमत से पारित कर दिया।

पीएम मोदी कर रहे कोरोना से निपटने की तैयारियों पर निगरानी

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने राज्‍यसभा में कोरोना वायरस को लेकर देश में तमाम तैयारियों पर बयान दिया। उन्‍होंने बताया, ‘पिछले तीन दिनों में विदेश से आए कई लोग कोरोनावायरस के लिए पॉजिटिव पाए गए। इसके लिए तमाम तैयारियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नजर रख रहे हैं। देश में इसे लेकर एक एडवाइजरी भी जारी कर दी गई है।’

उन्‍होंने आगे कहा कि राजस्‍थान में इटली टूरिस्‍ट व उसकी पत्‍नी को संक्रमण दिल्‍ली में कल इटली से आया युवक पॉजिटिव पाया गया। देश में अब तक 29 मामलों की पुष्‍टि हो गई है। मामले की लगातार निगरानी की जा रही है। चीन के वुहान व हुबेई से भारतीय नागरिकों को वापस लाया गया। एयरपोर्ट पर 300 डॉक्‍टरों को तैनात कर दिया गया है।

राज्‍यों के लिए गाइडलाइन हुईं जारी

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा, ‘राज्‍यों की मदद के लिए गाइडलाइन जारी की गई है। इससे निपटने के लिए रैपिड रेस्‍पांस टीम का गठन किया गया है। वहीं जांच के लिए 19 और लैब बनाए जा रहे हैं साथ ही कोरोना वायरस को लेकर जागरुकता फैलाई जा रही है। लैब नेटवर्क को और बढ़ाया जा रहा है साथ ही टेक्‍निकल ब्रीफिंग के जरिए जानकारी दी जा रही है। इसके अलावा भारत लगातार विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के संपर्क में है।

Leave a Reply