Home समाचार पैगम्बर पर किसी ने विवादित पोस्ट किया तो उसके खिलाफ पुलिस स्टेशन...

पैगम्बर पर किसी ने विवादित पोस्ट किया तो उसके खिलाफ पुलिस स्टेशन जाकर कम्प्लेन लिखवाएंगे या पुलिस स्टेशन में ही आग लगा देंगे?

3033
SHARE

कर्नाटक के बेंगलुरु में मंगलवार देर रात एक हजार से भी ज्यादा मुसलमानों की भीड़ ने केजी हल्ली, डीजे हल्ली और पुल्केशी नगर इलाके में स्थानीय कांग्रेस विधायक के घर, दो पुलिस थाने और सरकारी संपत्ति को आग के हवाले कर दिया। मुस्लिम समुदाय के दंगाइयों ने आसपास के लोगों के घरों पर भी हमला किया। कई गाड़ियों को जला दिया, एटीएम में तोड़फोड़ की। मुस्लिम समुदाय के लोग विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के एक रिश्तेदार नवीन द्वारा कथित रूप से पैगम्बर मुहम्मद को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट किए जाने से नाराज थे। आजतक के अनुसार हजारों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने केजी हल्ली पुलिस स्टेशन को घेर लिया। इसके बाद बेकाबू भीड़ ने अल्लाह-हो-अकबर और नारा-ए-तकबीर के नारों के साथ पुलिस स्टेशन, विधायक को घर को अपना निशाना बनाया। वहां तोड़फोड़ की, आगजनी की और पुलिस के दर्जनों वाहन को भी फूंक दिया।

एनडीटीवी के अनुसार मुस्लिम समुदाय की इस हिंसा में 60 पुलिसकर्मी घायल हो गए। इसके बाद पुलिस की फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में नवीन को गिरफ्तार कर लिया है, वहीं इसके अलावा 110 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

इसको लेकर सोशल मीडिया पर लोग सवाल कर रहे हैं कि पैगम्बर पर किसी ने विवादित पोस्ट किया तो उसके खिलाफ पुलिस स्टेशन जाकर कम्प्लेन लिखवाएंगे या पुलिस स्टेशन में ही आग लगा देंगे? बेंगलुरू में पुलिस स्टेशन के बाहर जो हुआ वो भी देख लें। मतलब ये कि आप कानूनी ऐक्शन नहीं चाहते बल्कि एक खौफ पैदा करना चाहते हैं।

कर्नाटक के मंत्री सीटी रवि ने कहा कि मुझे लगता है कि यह एक सुनियोजित दंगा था। सोशल मीडिया पर पोस्ट होने के एक घंटे के भीतर हजारों लोग इकट्ठा हुए और 200-300 वाहनों और विधायक के आवास को नुकसान पहुंचाया। हम गंभीर कार्रवाई करेंगे। यह एक संगठित घटना थी। एसडीपीआई इसके पीछे है।

Leave a Reply