Home समाचार सांप्रदायिकता की आग लगाकर ‘आप’ ने जीती दिल्ली

सांप्रदायिकता की आग लगाकर ‘आप’ ने जीती दिल्ली

854
SHARE

आम आदमी पार्टी हमेशा विपक्षियों पर तुष्टिकरण की राजनीति का आरोप लगाती रहती है, जबकि सच्चाई यह है कि केजरीवाल और उनकी पार्टी नेताओं ने दिल्ली चुनाव को हर तरह से सांप्रदायिकता के रंग में रंग दिया।

हिंदुओं को लुभाने केजरीवाल पहुंचे हनुमान की शरण में
जब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ये शंका होने लगी कि हिंदू उनके खिलाफ होने वाले हैं तभी उन्होंने भावनात्मक कार्ड खेला। अरविंद केजरीवाल ने एक टीवी चैनल से साठगांठ कर एक कार्यक्रम आयोजित किया। उनका कार्यक्रम पूरी तरह सुनियोजित था। अपने इस कार्यक्रम के दौरान उन्होंने खुद को कट्टर हनुमान भक्त बताया। ये बात और है कि उस सुनियोजित कार्यक्रम में भी उन्होंने हनुमान चालीसा गलत ही पढ़ा।

एक निजी चैनल के कार्यक्रम में भाग लेने के दौरान अरविंद केजरीवाल से जब पूछा गया कि आपने खुद को हनुमान भक्त बोला है तो क्या हनुमान चालीसा आती है? इस पर केजरीवाल ने कहा, ‘हां, बिल्कुल आती है। मैं गाने की कोशिश करूंगा। इससे शांति बहुत मिलती है।’ दिल्ली के सीएम ने इसके बाद हनुमान चालीसा सुनाई।

मनीष सिसोदिया शाहीन बाग के साथ डटे रहे
नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन पर मनीष सिसोदिया ने कहा कि ‘मैं शाहीन बाग के लोगों के साथ खड़ा हूं। मनीष सिसोदिया ने एक न्यूज चैनल के कार्यक्रम में कहा कि मैं जेएनयू वालों के साथ भी खड़ा हूं।

साजिश के तहत केजरीवाल ने शाहीन बाग से बनाई दूरी
पूरे चुनाव के दौरान शाहीन बाग का मुद्दा जोर-शोर से उठता रहा। दिल्ली विधानसभा चुनाव में अगर कोई एक मुद्दा सबसे ज्यादा असरदार कहा जा सकता है तो वो शाहीन बाग था, इस विधानसभा में करीब 43% मुस्लिम मतदाता हैं।

वहीं आप के प्रचार की कमान खुद अरविंद केजरीवाल ने संभाल रखी थी, लेकिन उन्होंने इस विधानसभा में न तो कोई चुनावी सभा की ना ही कोई रोड शो किया। इसके बाद भी आप को मुसलमानों का पूरा वोट मिलना यह बताता है कि शाहीन बाग से केजरीवाल का दूरी बना के रखना उनकी साजिश का एक हिस्सा था।

गंदी राजनीति से बाज नहीं आई AAP
लोगों का असली रंग सामने आ ही जाता है, तभी तो चुनाव परिणाम सामने आते ही आम आदमी पार्टी का सांप्रदायिक रंग सामने आ गया, यह रंग आप के नेता सौरभ भारद्वाज ने सामने लाया है। उन्होंने अपने एक ट्वीट में लिखा है कि आज के बाद भाजपा मंगलवार को कभी वोट की गिनती नहीं कराएगी। आज से मेरी ग्रेटर कैलाश विधानसभा में हर मंगलवार को भाजपा भक्तों को हनुमान जी की याद दिलाई जाएगी।

Leave a Reply