Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 17 अगस्त

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 17 अगस्त

402
SHARE

17 अगस्त 2015

आबू धाबी में नियोजित शहर मसदर देखने गए, मदसर में कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों के साथ गोलमेज सम्‍मेलन, दुबई में भारतीय समुदाय के स्वागत कार्यक्रम में संबोधन, सायना नेहवाल को विश्‍व बैडमिंटन प्रतियोगिता में रजत पदक जीतने पर बधाई दी।

17 अगस्त 2017

नीति आयोग द्वारा आयोजित “चैंपियंस ऑफ़ चेंज” पहल पर युवा उद्यमियों को संबोधित किया, प्रवासी भारतीय केंद्र में युवा सीईओ और स्टार्टअप को संबोधित किया।

17 अगस्त 2018

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भाजपा मुख्यालय में श्रद्धा सुमन अर्पित किए, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अंतिम यात्रा में शामिल हुए।17 अगस्त 2019

दो दिवसीय यात्रा पर भूटान पहुंचे, प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत, भूटान के राजा जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक और भूटान के चौथे राजा जिग्मे सिग्ये वांगचुक से मुलाकात, भूटान के प्रधानमंत्री के साथ बैठक व वार्ता।

17 अगस्त 2020

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विभिन्न आर्थिक क्षेत्रों में मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए राष्ट्रीय मास्टर प्लान की तैयारियों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की।

17 अगस्त 2021

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए टोक्यो पैरालंपिक में शामिल हो रहे एथलीटों से बातचीत की और उनका हौसला बढ़ाया, अफगानिस्तान में वर्तमान घटनाक्रम के बाद सुरक्षा को लेकर मंत्रिमंडलीय समिति की बैठक की अध्यक्षता की।

 

 

Leave a Reply