Home इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदी इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 12 मार्च

इतिहास के झरोखे में नरेन्द्र मोदीः 12 मार्च

230
SHARE

12 मार्च 2015

मॉरीशस की राष्‍ट्रीय एसेंबली में उद्बोधन, बाराकुडा पोत के जलावतरण के अवसर भाषण, मॉरिशस में विश्व हिंदी सचिवालय के भवन निर्माण के शुभारंभ के अवसर पर उद्बोधन, मॉरिशीस में नागरिक अभिनन्दन के अवसर पर उद्बोधन।

12 मार्च 2016

नई दिल्ली में ‘एडवांसिंग एशिया’ समारोह में उद्बबोधन, बिहार के हाजीपुर में विभिन्न रेल परियोजनाओं के शिलान्यास एवं उद्घाटन के अवसर पर संबोधन, पटना उच्च न्यायालय के शताब्दी वर्ष समारोह के समापन सत्र पर उद्बोधन। 

12 मार्च 2017

यूपी और उत्तराखंड चुनाव में ऐतिहासिक जीत के बाद ली मेरेडियन होटल से भाजपा मुख्यालय तक रोड शो किया, भाजपा संसदीय दल की बैठक में शामिल हुए। 

12 मार्च 2018

फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों के साथ उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में सौर उर्जा प्लांट का उद्घाटन किया, वाराणसी में अस्सी घाट से दशाश्मेध घाट तक राष्ट्रपति के साथ नौका विहार, एमैनुअल मैक्रॉं के साथ वाराणसी में दीनदयाल हस्‍तकला संकुल का दौरा, पटना-वाराणासी के बीच नई ट्रेन का शुभारंभ, कई विकास परियोजनाओं की आधारशिला, डीएलडब्लू में उद्बोधन।

12 मार्च 2020

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के बीच टेलीफोन पर वार्ता, इज़राइल के प्रधानमंत्री के साथ टेलीफोन पर बातचीत की।

12 मार्च 2021

अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से पदयात्रा को हरी झंडी दिखाई, आजादी का अमृत महोत्सव (India@75) के शुरुआती कार्यक्रमों का उद्घाटन किया। चौथे वैश्विक आयुर्वेद महोत्सव को संबोधित किया, क्वाड समूह के नेताओं के पहले वर्चुअल शिखर सम्मेलन में भाग लिया।

12 मार्च 2022

गुजरात के अहमदाबाद में राष्ट्रीय रक्षा विश्वविद्यालय का भवन राष्ट्र को समर्पित, 11वें खेल महाकुंभ के उद्घाटन की घोषणा।

 

 

Leave a Reply