Home समाचार रेसलर पूजा का हौसला बढ़ाने पर पीएम मोदी का मुरीद हुआ पाकिस्तानी...

रेसलर पूजा का हौसला बढ़ाने पर पीएम मोदी का मुरीद हुआ पाकिस्तानी जर्नलिस्ट, अपने देश के प्रधानमंत्री और नेताओं पर कसा तंज

398
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए खेल और खिलाड़ी काफी मायने रखते हैं। वे जीत और हार दोनों में एक अभिभावक की तरह खिलाड़ियों का हौसला बढ़ाते रहते हैं। इसका उदाहरण एक बार फिर देखने को मिला। जब कॉमनवेल्थ गेम्स में रेसलिंग के मुकाबले में पूजा गहलोत गोल्ड का मुकाबला हार गईं और उन्हें कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। इसको लेकर पूजा काफी ज्यादा निराश हो गईं और गोल्ड हारने पर दुख जताया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने जिस तरह उनका हौसला बढ़ाया, उससे एक पाकिस्तानी पत्रकार प्रधानमंत्री मोदी का मुरीद हो गया। साथ ही उसने अपने देश के प्रधानमंत्री और नेताओं पर सवाल भी उठाया।

दरअसल प्रधानमंत्री मोदी लगातार ट्वीट्स के जरिए कॉमनवेल्थ गेम्स में जहां जीतने वाले खिलाड़ियों को बधाई दे रहे हैं, वहीं हारने वाले खिलाड़ियों का सहारा बनकर उन्हें भविष्य में बेहतर सफलता अर्जित करने के लिए प्रेरित भी कर रहे हैं। रेसलर पूजा के दुखी होने पर प्रधानमंत्री मोदी ने उनका हौसला बढ़ाया था। उन्होंने कहा कि पूजा आपका मेडल हमारे लिए खुशी मनाने वाला है, दुख जताने वाला नहीं। आपकी जीवन यात्रा हमें मोटिवेट करती है। आपकी सफलता से हमें खुशी मिलती है। आपको अभी अपनी जिंदगी में और भी ज्यादा कामयाबी पानी है।

महिलाओं का फ्रीस्टाइल कुश्ती (50 किलोग्राम) में ब्रॉन्ज जीतने पर पूजा ने कहा था, “मैं अपने देशवासियों से माफी मांगता हूं। मेरी चाहत थी कि यहां राष्ट्रीय गान बजे…लेकिन मैं अपनी गलतियों से सीखूंगी और उन पर काम करूंगी।”

पाकिस्तानी पत्रकार शिराज हसन ने प्रधानमंत्री मोदी को ट्विटर पर कोट करते हुए लिखा कि क्या हमारे देश के नेता जानते हैं कि हमारे देश के एथलीट्स कितने मेडल जीत रहे हैं ? शिराज ने अपने ट्वीट में लिखा भारत के लोग अपने लोगों को ऐसा प्रोत्साहित कर आगे बढ़ाते हैं। पूजा को अपने गोल्ड ना जीतने का मलाल था तो भारत के प्रधानमंत्री ने उसकी हौसला अफजाई की। क्या पाकिस्तान के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति ने ऐसा कोई मैसेज दिया है कभी? क्या उन्हें पता है कि हमारे एथलीट्स जीत रहे हैं ?

 

उधर सोशल मीडिया पर भी प्रधानमंत्री मोदी की तारीफ हो रही है। एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि इस तरह के भाव प्रधानमंत्री मोदी को अन्य नेताओं से अलग बना दिया है। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, “परिवार के मुखिया के रूप में मोदी जी आपका सहयोग प्रत्येक प्रयत्नशील और आशावादी युवाओं को मिलता रहता है। जिसको देख कर बहुत अच्छा महसूस होता है कि हमारे प्रधानमंत्री को हमारी चिंता है।”

गौरतलब है कि कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने रेसलिंग, हॉकी, टेबल टेनिस, वेटलिफ्टिंग और फॉर लोन बॉल में मेडल अपने नाम किए हैं। जिस वक्त यह खबर लिखी जा रही है उस वक्त भारत के पाले में 55 मैडेल्स हाथ में आ चुके हैं। जिसमें 18 गोल्ड मेडल, 15 सिल्वर और 22 ब्रॉन्ज मेडल हैं। इसके बाद भारत के प्लेयर्स से आने वाले कॉम्पिटीशन में बेहतर की उम्मीद है।

आइए देखते हैं किस तरह प्रधानमंत्री मोदी खिलाड़ियों के प्रशिक्षण से लेकर उनके इलाज तक हर कदम पर साथ नजर आते हैं…

पीएम मोदी ने हार से निराश महिला हॉकी टीम का बढ़ाया हौसला

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अगस्त 2021 में टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लेने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ियों के साथ फोन पर बात की थी। प्रधानमंत्री मोदी जब बात कर रहे थे तो इस दौरान खिलाड़ियों के आंसू निकल पड़े। प्रधानमंत्री ने उनका हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि पदक नहीं आ सका, लेकिन आपका पसीना देश की करोड़ों बेटियों की प्रेरणा बन गया है। मैं टीम के सभी साथियों और कोच जोर्ड मरीन को बधाई देता दूं। कप्तान रानी रामपाल ने जवाब में कहा कि धन्यवाद सर, बहुत धन्यवाद सर। बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने नवनीत कौर को लगी चोट के बारे में भी जानकारी ली। खिलाड़ियों ने बताया कि नवनीत कौर को आंख पर चोट लगी है और 4 टांकें लगाने पड़े हैं। प्रधानमंत्री ने इस पर दुख जताते हुए पूछा था, “आंख तो ठीक है ना कोई दिक्कत तो नहीं है?” इस पर रानी रामपाल ने जवाब दिया, “आंख ठीक है सर।” इसके बाद प्रधानमंत्री ने कहा कि वंदना और सलिमा आप सब बहुत अच्छा खेले। यह बहुत ही भावुक पल था। सभी खिलाड़ी भावुक होकर सुबकने लगे।

जैवलिन थ्रो एथलीट नीरज चोपड़ा के जल्द फिट होने की कामना 

23 जुलाई, 2021 को टोक्यो ओलंपिक शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर ओलंपिक खिलाड़ियों से उनकी तैयारी और सफर के बारे में बातचीत की थी। उस समय प्रधानमंत्री मोदी ने युवा जैवलिन थ्रो एथलीट नीरज चोपड़ा से बात की थी और उनका हौसला बढ़ाया था। टोक्यो ओलंपिक नीरज चोपड़ा ने जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम रोशन किया था। इससे पहले मई 2019 में जब नीरज चोपड़ा की कोहनी का मुंबई में आपरेशन हुआ था, तब प्रधानमंत्री मोदी ने उनके जल्द फिट होने की कामना भी की थी। 

पीएम मोदी ने मीराबाई चानू के इलाज और प्रशिक्षण में की मदद
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हर जरूरतमंद की मदद करते हैं। उन्हीं लोगों में से एक है टोक्यो ओलंपिक में सिल्वर मेडल विजेता और वेटलिफ़्टर मीराबाई चानू। प्रधानमंत्री मोदी ने मीराबाई चानू के इलाज और प्रशिक्षण में सीधी मदद की थी। जब चानू ने इसके बारे में मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह को बताया तो वे भी हैरान रह गए। उन्होंने मदद के लिए प्रधानमंत्री मोदी का आभार जताया। मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के मुताबिक चानू ने एक सार्वजनिक समारोह में उन्हें प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली मदद के बारे में बताया था। प्रधानमंत्री मोदी ने तोक्यो ओलंपिक में जाने से पहले दो खिलाड़ियों की अमेरिका में अच्छी मेडिकल केयर और ट्रेनिंग में मदद की थी। इनमें से एक चानू थीं। चानू ने उनसे बताया कि अगर उन्हें मांसपेशियों के ऑपरेशन और अभ्यास के लिए अमेरिका जाने का मौका नहीं मिलता, तो वह अपने लक्ष्य को हासिल नहीं कर पातीं। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी को जैसे ही चानू के पीठ में दर्द के बारे में पता चला, तो उन्होंने विदेश में उनके इलाज और ट्रेनिंग पर होने वाले सभी खर्च का जिम्मा लिया।

 

 

 

 

Leave a Reply