Home विशेष ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान देश के नौजवानों और टेक्नोक्रेट्स को नए अवसर प्रदान...

‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान देश के नौजवानों और टेक्नोक्रेट्स को नए अवसर प्रदान करने का भी अभियान है: प्रधानमंत्री मोदी

295
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के 51वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया। इस अवसर पर पीएम मोदी ने आईआईटी से पास होने वाले विद्यार्थियों से कहा, “कोविड-19 ने दुनिया को एक बात और सिखा दी है कि ग्लोबलाइजेशन महत्वपूर्ण है, लेकिन इसके साथ-साथ Self-Reliance भी उतना ही जरूरी है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान देश के नौजवानों और टेक्नोक्रेट्स को नए अवसर प्रदान करने का भी अभियान है।

प्रधानमंत्री मोदी ने विद्यार्थियों को सफलता के मंत्र भी दिए। उन्होंने कहा कि आप जब यहां से जाएंगे तो आपको भी नए मंत्र को लेकर काम करना होगा। आप यहां से जाएंगे तो आपका एक मंत्र होना चाहिए- फोकस ऑन क्वालिटी, नेवर कॉम्प्रोमाइज, एंस्योर स्केलेबिलिटी मेक योर इनोवेशन वर्क एट ए मास स्केल, एंस्योर लायबिलिटी, बिल्ट लॉन्ग टर्म ट्रस्ट इन द मार्केट, ब्रिंग इन एडाप्टेबिलिटी, बी ओपन टू चेंज एंड एक्सपेक्ट अनसर्टेनिटी वे ऑफ लाइफ। उन्होंने कहा कि अगर आप इन मूलमंत्रों पर काम करेंगे तो इसकी चमक ब्रांड इंडिया में भी छलकेगी।

उन्होंने दीक्षांत समारोह में कहा कि आज देश ने आपकी एक-एक जरूरत को समझते हुए, भविष्य की आवश्यकताओं को समझते हुए एक के बाद एक निर्णय लिए जा रहे हैं। पुराने नियम बदले जा रहे हैं। मेरी ये सोच है कि पिछली शताब्दी के नियम कानूनों से अगली शताब्दी का भविष्य तय नहीं हो सकता है। नई शताब्दी, नए संकल्प, नई शताब्दी, नई रीति रिवाज, नई शताब्दी, नए कानून।

प्रधानमंत्री पीएम मोदी ने कहा कि हाल में सरकार ने एक और योजना शुरू की है, जिसमें टेक्नोलॉजी बहुत बड़ी भूमिका निभा रही है। ये है स्वामित्व योजना, इसके तहत भारत के गांव में जमीन और घर की प्रॉपर्टी की मैपिंग की जा रही है। टेक्नोलॉजी की जरुरत और इसके प्रति भारतीयों में आस्था, यही आपके भविष्य को रोशनी दिखाती है। पूरे देश में आपके लिए अपार संभावनाएं हैं, अपार चुनौतियां हैं, जिसके समाधान आप दे सकते हैं।

श्री मोदी ने कहा कि कोरोना काल ने बहुत कुछ बदल दिया है, इस सकंट के काल में हमें नई सोच की जरूरत है। छात्रों के पास आज तकनीक सीखने का मौका है। कृषि और स्पेस क्षेत्र में भी नई संभावनाएं सामने आ रही हैं। पीएम मोदी ने छात्रों से कहा कि आपका मकसद समाज को आगे ले जाना और उसकी भलाई होना चाहिए। उन्होंने कहा कि बीपीओ सेक्टर में कई बदलाव हुए हैं जिससे नई संभावनाएं सामने आई हैं। आज स्टार्टअप को अनेक प्रकार की मदद दी जा रही है।

Leave a Reply