Home केजरीवाल विशेष दिल्ली में हिन्दुओं का प्रचंड बहुमत भाजपा के साथ; मुसलमानों के सहारे...

दिल्ली में हिन्दुओं का प्रचंड बहुमत भाजपा के साथ; मुसलमानों के सहारे जीते केजरीवाल- देखिए आंकड़े

3765
SHARE

अरविंद केजरीवाल को दिल्ली की विधानसभा में मुसलमानों के 99 प्रतिशत मतों की बदौलत बहुमत हासिल हुआ जबकि हिन्दुओं का प्रचंड बहुमत प्राप्त करने के बावजूद भी भारतीय जनता पार्टी को दूसरे स्थान से ही संतोष करना पड़ा।

दिल्ली के चुनाव में मुसलमान और हिन्दू मतदाताओं ने किन पार्टियों को अपना मत दिया, यह समझना दिलचस्प है। चुनाव में भाजपा को AAP से करीब 6 लाख से अधिक हिन्दु मतदाताओं के मत मिले, लेकिन AAP को मुसलमानों के लगभग 18 लाख मत मिल जाने से AAP का पलड़ा भारी पड़ गया।

दिल्ली में कुल 1 करोड़ 47 लाख मतदाता हैं। इनमें से करीब 80 प्रतिशत हिन्दू, 13 प्रतिशत मुसलमान और 07 प्रतिशत अन्य धर्मों के मतदाता हैं।

दिल्ली के करीब 19 लाख मुसलमान मतदाताओं में से 99 प्रतिशत मुसलमानों ने मतदान किया

जबकि दिल्ली के 1 करोड़ 10 लाख हिन्दु मतदाताओं में से करीब 68 प्रतिशत हिन्दुओं ने मतदान किया, यदि 80 प्रतिशत हिन्दुओं ने भी मतदान किया होता तो दिल्ली विधानसभा की तस्वीर ही कुछ और होती।

दिल्ली विधानसभा के लिए 08 फरवरी को लगभग 92 लाख 730 मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया-

11 फरवरी को मतगणना में AAP को 48 लाख 76 हजार 384 मत मिले, जबकि भाजपा को 35 लाख 69 हजार 884 मत मिले

इसमें AAP को मुसलमानों के लगभग 18 लाख 91 हजार मत मिले जबकि भाजपा को 24 हजार मत मिले।

इसके ठीक विपरीत हिन्दुओं के 35 लाख 69 हजार यानि 55 प्रतिशत मत भाजपा को मिले और AAP को 29 लाख 84 हजार 496 यानि 45 प्रतिशत मत मिले।

इस तरह से हिन्दुओं का प्रचंड समर्थन प्राप्त करने वाली भाजपा, कुछ लाख हिन्दुओं के मतदान न करने के कारण सत्ता से दूर रह गई, जबकि केजरीवाल के पक्ष में मुसलमानों के एकतरफा मतदान से  विधानसभा में बहुमत मिल गया।

Leave a Reply