Home समाचार यूपी में ‘फ्लॉप’ कांग्रेस ने वोटों के लिए फैलाया झूठे वादों का...

यूपी में ‘फ्लॉप’ कांग्रेस ने वोटों के लिए फैलाया झूठे वादों का मायाजाल: मोदी-योगी की विकास की लहर के आगे फेल होंगे कोरे वादे

481
SHARE

यूपी में विधानसभा चुनाव से पहले मोदी विरोधी दलों की हवा हवाई वादों की झड़ी लगी है। जमीन पर जो पार्टी जितनी फिसड्डी है, उसके वादों की लिस्ट उतनी ही ज्यादा लंबी। कोई डेढ़ करोड़ नौकरियों के वादे कर रहा है तो कोई महिलाओं के लिए 40 फीसदी आरक्षण के तीर छोड़ रहा है। उत्तर प्रदेश में लोगों के सामने एक ओर पीएम मोदी के नेतृत्व में योगी राज में विकास की तूफानी रफ्तार है, तो दूसरी ओर मोदी विरोधी दलों के झूठे वादों का पिटारा। केंद्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और यूपी में सीएम योगी के नेतृत्व में देश के विकास में अहम भूमिका निभा रहा है उत्तर प्रदेश। खुद पीएम मोदी ने कई मौकों पर यूपी की इस ऐतिहासिक विकास यात्रा की सराहना की है। 

कांग्रेस के वादों का पिटारा, यूपी की जनता से फरेब

एक ओर योगी सरकार दुनिया के सामने चमकते यूपी की तस्वीर पेश कर रही है, रेल, रोड, एक्सप्रेस वे, एयरपोर्ट की दिशा में तेजी से काम हो रहा है। तो दूसरी ओर कांग्रेस सहित मोदी विरोधी दल झूठे वादोंं का पिटारा थामे यूपी की जनता के साथ फरेब में जुटे हैं।

यूपी में हुए तेज विकास के आगे जिन्ना-जिन्ना चिल्ला रहे मोदी विरोधी 

उत्तर प्रदेश जैसे देश के बड़े और महत्वपूर्ण राज्य के लिए भी मोदी विरोधियों के पास विकास का कोई रोडमैप नहीं है। यही वजह है कि कोई जिन्ना-जिन्ना चिल्ला रहा है, तो कोई मुसलमानों के नाम पर वोट की खेती करने में जुटा है। लेकिन चुनाव में यूपी की जनता ऐसी राजनीतिक पार्टियों को बेनकाब करने के लिए एक बार फिर तैयार है। 

चुनाव में काम नहीं आएंगे कांग्रेस के हवा-हवाई वादे 

अब यूपी में कांग्रेस का हाल देखिए, पिछले चुनावों में यूपी के लोगों ने यूपी के लड़कों का क्या हाल किया ये दुनिया जानती है। लेकिन इस सबक के बाद भी कांग्रेस सीखने को तैयार नहीं है। कांग्रेस की ओर से इस बार प्रियंका गांधी मैदान में है। लेकिन इस बार भी वे अब तक खुद चुनावी अग्निपरीक्षा में उतरने की हिम्मत नहीं जुटा सकी हैं। लेकिन यूपी में घूम-घूम कर महिलाओं के नाम पर वोट मांग रही हैं। प्रियंका गांधी प्रतिज्ञा यात्रा से वोटरों को साधने में जुटी हैं। लेकिन उत्तर प्रदेश की पब्लिक सच जानती है। उनके हवा हवाई वादों पर सवाल उठा रही है।

यूपी में प्रियंका के लंबे-चौड़े वादों की हकीकत जानिए

प्रियंका गांधी ने यूपी मेें लंबी चौड़े वादों की लिस्ट जारी की है, प्रियंका की  इन प्रतिज्ञाओं पर एक नजर डालिए 

लेकिन यूपी के लोग तो क्या खुद प्रियंका गांधी को अपने इन वादों पर भरोसा नहीं है। तभी तो सात प्रतिज्ञाओं के बाद प्रियंका गांधी ने अब यूपी की महिलाओं को फ्री का झुनझुना थमाने की दूसरी कोशिश की है। यूपी में महिलाओं को बरगलाने के लिए कोरे वादों का नया पिटारा खोल दिया है ।

यूपी में प्रियंका गांधी के हवा हवाई वादों का फरेब

यूपी में प्रियंका गांधी के हवा हवाई वादों का फरेब देखिए। प्रियंका के वादों में महिलाओं के लिए सबकुछ फ्री है। फ्री बस सेवा, फ्री सिलेंडर, इतना ही नहीं सरकारी नौकरियों में महिलाओं के 40 फीसदी आरक्षण, छात्राओं के लिए स्कूटी और स्मार्ट फोन। शायद कांग्रेस को इस बात पर भरोसा है कि यूपी के युवा वोटरों को स्कूटी और स्मार्ट फोन के लालच से आसानी से फुसलाया जा सकता है। इधर राजनीतिक पार्टियां प्रियंका गांधी की 7 प्रतिज्ञाओं को फरेब बता कर निशाना साध रही हैं। कह रही हैं कि पहले उन राज्यों में तो कांग्रेस इन वादों को लागू करके दिखाए जहां उसकी सरकार है। महिलाओं के लिए नौकरियों में 40 फीसदी आरक्षण के चुनावी वादे पर बीएसपी ने निशाना साधा है।  

प्रियंका के हवा हवाई वादों का उल्टा असर पड़ता नजर आ रहा है, सोशल मीडिया पर लोग कांग्रेस को वोट न देने की प्रतिज्ञा ले रहे हैं। 

कांग्रेस के किसानों की कर्जमाफी के वादे की सच्चाई

राजस्थान में जहां कांग्रेस की सरकार है, वहां किसान राहुल गांधी के 2018 में अलवर की जनसभा में किसानों की कर्जमाफी को लेकर किए गए वादे की याद दिलाते दिलाते थक चुके हैं । 

अब राजस्थान में रोजगार का हाल देखिए

राजस्थान में हाल के दिनों में बेरोजगारी की दर 28 फीसदी तक पहुंच गई थी, CMIE की रिपोर्ट के मुताबिक ये हाल के दिनों में घट कर 18 परसेंट पर पहुंची है। लेकिन बेरोजगारी के मोर्चे पर डबल डिजिट का ये आंकड़ा रोजगार के मोर्चे पर राजस्थान में युवाओं के बेहाल होने की कहानी कह रहा है। राजस्थान में सत्ता पर काबिज ये वही कांग्रेस पार्टी है जो यूपी में युवाओं के लिए 20 लाख नई सरकारी नौकरियों के वादे कर रही है। 

लंबी है यूपी में कांग्रेस के कोरे वादों की लिस्ट

यूपी में प्रियंका गांधी आशा वर्कर के लिए मानदेय बढ़ाने के कोरे वादे कर रही हैं , लेकिन सच ये है कि राजस्थान में कई आशा वर्कर को वक्त पर पैसे नहीं मिल रहे। उन्हें अपनी सैलरी के लिए भटकना पड़ रहा है। 

यूपी में डबल इंजन की सरकार के विकास के आगे टिक नहीं पाएंगे कांग्रेस के झूठे वादे

साफ है कि पीएम मोदी के नेतृत्व में यूपी में योगी सरकार ने विकास के जो शानदार पैमाने गढ़े हैं। उनके आगे मोदी विरोधियों की कोरी बातें कहीं टिक नहीं पा रही हैं। बीते साढे़ चार सालों में बीजेपी विरोधी राजनीति पार्टियों ने ना तो यूपी में लोगों के लिए जमीन पर कोई काम किया और ना ही वोटरों से ही ठीक से संवाद साध पाए। अब उत्तर प्रदेश के गली मोहल्लों में लाउडस्पीकर पर कांग्रेस और मोदी विरोधी दलों की वादों की लिस्ट का कोई असर नहीं दिख रहा।

Leave a Reply